मर्दों की दुनिया compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: मर्दों की दुनिया

Unread post by raj.. » 14 Dec 2014 09:07

मर्दों की दुनिया पार्ट--12

गतांक से आगे........................

"ऐसे नही मेरी जान." सुमित ने उसे चूमते हुए कहा, "पहले मुझे

तुम्हे चूमने दो फिर तुम्हारी इन प्यारी चुचियों के साथ खेलने दो

उसके बाद."

"आपको मेरी चुचियाँ पसंद है," टीना ने कहा, "लेकिन कल तो....."

"कल की बात भूल जाओ," सुमित ने जवाब दिया, "आज में इन सब के

सामने कहता हूँ कि तुम्हारी चुचियाँ इन सबमे सबसे सुन्दर और

प्यारी है."

"सच मे" टीना खुशी से बोली और सुमित के लंड को अपनी चूत मे

घूसाने लगी.

"टीना थोड़ा रूको," सुमित ने कहा, "में तुम्हे चोदुन्गा लेकिन पहले

अमित और सोना की चुदाई देख ले."

"हां ये ठीक रहेगा," टीना ने कहा, "मेने भी आज तक चुदाई नही

देखी है."

इस दौरान अमित ने सोना को बिस्तर पर लीटा दिया था और सोना की

कुँवारी चूत को चाट रहा था. सोना थी कि मस्ती मे सिसक रही

थी.

"अब में तुम्हारी चूत के छेद को देखूँगा," अमित ने सोना की टाँगो

को हवा मे उठाते हुए बोला.

"ऊऊ इसकी चूत का छेद तो बहोत ही छोटा है, इस में इतना बड़ा

और मोटा लॉडा कैसे घूसेगा? सोना की चूत का छेद देखकर टीना के

मुँह से निकल गया.

"मेरे पास मे आ, में तुझे दिखाता हूँ कि मेरा लॉडा तेरी चूत

मे कैसे घूस्ता है," अमित ने टीना को चिढ़ाते हुए कहा.

"नही में तुम्हे मुझे चोदने नही दूँगी." टीना सुमित के पीछे

छिपते हुए बोली.

"में तो मज़ाक कर रहा था." अमित ने कहा और सोना के उपर चढ़

गया. टीना भी ज़मीन पर बैठ गयी जिससे कि वो अच्छी तरह से उनकी

चुदाई देख सके. अमित ने अपने लंड को सोना की चूत के छेद पर

रख हल्का सा दबाया.

"ऑश मार गयी...." सोना कराह पड़ी.

"ऊऊऊ अमित बाबू का सूपड़ा तो बहोत ही आसानी से सोना की चूत मे

घूस गया," टीना चौंकते हुए बोली.

तभी अमित ने अपने लंड को थोड़ा बाहर खींचा और एक ज़ोर का धक्का

मारा. उसका लंड सोना की चूत की झिल्ली को फाड़ता हुआ अंदर घुस

गया.

'ऑश मर गयी रे.... प्लीज़ निकाल लो बहुत दर्द हो रहा है." सोना

दर्द से कराह पड़ी.

"मेडम क्या चुदाई मे बहोत दर्द होता है?" टीना ने पूछा.

"नही शुरू मे थोड़ा थोड़ा होता है." सीमा दीदी ने जवाब

दिया, "लेकिन बाद मे मज़ा ही मज़ा आता है."

"टीना अब में तुम्हे चोदुन्गा." सुमित ने कहा.

"देर आए दुरुस्त आए" कहकर वो उछल कर बिस्तर पर लेट गयी और

आपी टाँगे हवा मे उठा दी, उसकी चूत का छेद हम सभीको दीखाई दे

रहा था.

"हे भगवान इसका छेद तो सोना से भी छोटा है," मेने सोचा, "मोना

सही कह रही थी सुमित को मज़ा आएगा इसकी चूत मे लंड पेलने मे."

सुमित टीना के उपर चढ़ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर रख

एक ज़ोर का धक्का मारा.

जैसे ही उसका लंड टीना की चूत को चीरता हुआ अंदर घुसा वो दर्द

से कराह उठी, "ऑश आइईईईई मर गयी"

"ओह मेडम बहुत दर्द हो रहा है," टीना रोते हुए बोली.

"अभी दर्द कम हो जाएगा," सुमित उसके आँसुओं को पीते हुए बोला, फिर

जीजाजी की ओर घूमा, "आप दोनो मोना और रीमा को क्यों नही चोद्ते?

देखिए कैसे उनकी चूत से रस टपक रहा है."

अजय और विजय को दूबारा बोलने की ज़रूरत नही पड़ी, उन्होने तुरंत

मोना और रीमा को ज़मीन पर लिटाया और अपने लंड उनकी चूत मे

घूसा दिए.

थोड़ी ही देर मे कमरा मादक सिसकारियों से गूंजने लगा. चार चूतो

को चार लंड चोद रहे थे, चार चूतड़ उछाल उछाल कर लंड से ताल

से ताल मिला रहे थे.

"हाँ चोदो मुझे और ज़ोर से चोदो ऑश हां फाड़ दो मेरी चूत को

ओःः और ज़ोर से ओ में तो गयी.' सोना नेसिसकते हुए अपना पानी छोड़

रही थी और अमित ने भी दो तीन करारे धक्के मार उसकी चूत मे

अपना वीर्या छोड़ दिया.

थोड़ी ही देर मे टीना की कराहे भी सिसकियों मे बदल गयी.

"ओ सुमित बाबू चोदो और ज़ोर से चोदो मुझे नही पता था की

चुद वाने मे इतना मज़ा आता है ऑश हां कस कस के मारो मेरी चूत

को ओ फाड़ दो."

टीना अब उछाल उछाल कर सुमित से चुद रही थी. थोड़ी ही देर मे

दोनो साथ साथ झाड़ गये. जब सुमित उसकी छूट के उपर से उठा तो

टीना उसे देखने लगी.

"क्यों साबजी पसंद आई आपको टीना की चूत?" टीना ने पूछा.

"हां टीना तुम्हारी चूत फाड़ने मे बहोत मज़ा आया," सुमित ने

कहा, "सच कहूँ तो में कई कुँवारी चूतो को फाडा है लेकिन

तुम्हारी चूत जितनी कसी हुई चूत किसी की भी नही थी."

"अगर ऐसी बात है तो में भी तो देखूं कि इसकी चूत कितनी कसी

हुई है." अमित टीना के उपर चढ़ने की कोशिश करने लगा.

टीना ने तुरंत अपना हाथ अपनी चूत पर रख लिया, "नही में तुम्हे

चोदने नही दूँगी." और उसने अपनी टाँगे सिकोड ली.

"टीना महाराज ने कहा था की नीचे का रास्ता बड़ा होना चाहिए और

तुम्हे सुमित से चुदवाना है, अब तुम्हारी चूत का रास्ता भी बड़ा हो

गया है और सुमित से भी चुद चुकी हो, महराज की दोनो बात तुम

पूरी कर चुकी हो.... अब जिंदगी के मज़े लो... देखो में भी तो इन

सभी से चुदवा कर मज़े लेती हूँ." सीमा दीदी ने कहा.

"मेडम आपको विश्वास है ना कि मेरे माता पिता को कुछ नही होगा?"

टीना ने शंकित नज़रों से देखते हुए पूछा.

"हमारा विश्वास करो टीना हम सच कह रहे है." जीजू ने कहा.

टीना थोड़ी देर सोचती रही फिर उसने अपने हाथ अपनी चूत पर से

हटा दिया और अपनी टाँगे भी फैला दी.

"अमित बाबू अगर आप मुझे चोदना चाहते है तो चोद सकते है." टीना

ने कहा.

"अमित तुम टीना को चोदो तब तक में सोना की चूत देखता हूँ."

सुमित ने कहा.

फिर चारों मर्दों ने चारों नौकरानियों को एक एक बार चोदा. हम

चारों उनकी चुदाई देख अपनी चूत मे उंगल करते रहे.

जब जीजाजी सोना को चोद चुके तो बोले, "सोना मेने अपना वादा निभाया

देखो तुम्हे अपनी बीवी के सामने चोद दिया."

"हाँ वो तो है लेकिन आपने मेरी चूत तो नही फाडी ना?" सोना ने

कहा.

"हां लेकिन हालात ऐसे थे कि में कुछ नही कर सकता था, तुम

मुझसे नाराज़ तो नही हो ना? जीजाजी ने पूछा.

"पहले थी लेकिन अब नही हूँ, जाओ आपको माफ़ किया." कहकर सोना ने

जीजाजी को चूम लिया.

समाप्त.................

mardon ki duniya paart--12 laast

"Aise nahi meri jaan." Sumit ne use choomte hue kaha, "pehle mujhe

tumhe choomne do phir tumhari in pyaari chuchiyon ke sath khelne do

uske baad."

"Aapko meri chuchiyan pasand hai," Tina ne kaha, "lekin kal to....."

"Kal ki baat bhool jao," Sumit ne jawab diya, "aaj mein in sab ke

saamne kehta hun ki tumhari chuchiyan in sabme sabse sunder aur

pyaari hai."

"Sach me" Tina khushi se boli aur Sumit ke lund ko apni chot me

ghoosane lagi.

"Tina thoda ruko," Sumit ne kaha, "mein tumhe chodunga lekin phele

Amit aur Sona ki chudai dekh le."

"Haan ye thik rahega," Tina ne kaha, "meine bhi aaj tak chudai nahi

dekhi hai."

Is dauran Amit ne Sona ko bistar par leeta diya tha aur Sona ki

kunwari choot ko chaat raha tha. Soan thi ki masti me sisak rahi

thi.

"Ab mein tumhari choot ke ched ko dekhunga," Amit ne Sona ki tango

ko hawa me uthate hue bola.

"Oooo iski choot ka ched to bahot hi chota hai, is mein itna bada

aur mota lauda kaise ghoosega? Sona ki choot ka ched dekhkar Tina ke

munh se nikal gaya.

"Mere paas me aa, mein tujhe deekhata hoon ki mera lauda teri choot

me kaise ghoosta hai," Amit ne Tina ko chidhate hue kaha.

"Nahi mein tumhe mujhe chodne nahi doongi." Tina Sumit ke peeche

chipte hue boli.

"Mein to mazaak kar raha tha." Amit ne kaha aur Sona ke upar chadh

gaya. Tina bhi zameen par baith gayi jisse ki wo acchi tarah se unki

chudai dekh sake. Amit ne apne lund ko Sona ki choot ke ched par

rakh halka sa dabaya.

"OHHH MAR GAYI...." Sona karah padi.

"Oooooo Amit babu ka supada to bahot hi asaani se Sona ki choot me

ghoos gaya," Tina chaunkte hue boli.

Tabhi Amit ne apne lund ko thoda bahr kheencha aur ek jor ka dhakka

mara. Uska lund Sona ki choot ki jhilli ko phadta hua andar ghus

gaya.

'OHHHH MAR GAYI RE.... PLEASE NIKAL LO BAHOT DARD HO RAHA HAI." Sona

dard se karah padi.

"Madam kya chudai me bahot dard hota hai?" Tina ne pucha.

"Nahi shuru me thoda thoda hota hai." Seema didi ne jawab

diya, "lekin bad me maza hi maza aata hai."

"Tina ab mein tumhe chodunga." Sumit ne kaha.

"Der aaye durust aaye" kehkar wo uchal kar bistar par let gayi aur

api tange hawa me utha dee, uski choot ka ched ham sabhi deekhai de

raha tha.

"Hey bhagwan iska ched to Sona se bhi chota hai," meine socha, "Mona

sahi keh rahi thi Sumit ko maza aayega iski choot me lund pelne me."

Sumit Tina ke upar chadh gaya aur apne lund ko uski choot par rakh

ek jor ka dhakka mara.

Jaise hi uska lund Tina ki choot ko cheerta hua andar ghusa wo dard

se karah uthi, "OHHHH AYEEEEEEEEEE MAR GAYI"

"OH MADAM BAHOT DARD HO RAHA HAI," Tina rote hue boli.

"Abhi dard kam ho jaega," Sumit uske aansuon ko peete hue bola, phir

jijaji ki aur ghooma, "aap dono Mona aur Reema ko kyon nahi chodte?

dekhiye kaise unki coot se ras tapak raha hai."

Ajay aurVijay ko doobara bolne ki jaroorat nahi padi, unhone turan

Mona aur Reema ko zameen par litaya aur apne lund unki choot me

ghoosa diye.

Thodi hi der me kamra madak siskariyon se goonjne laga. Char chooton

ko char lund chod rahe the, char chootad uchal uchal kar lund se tal

se tal mila rahe the.

"HAAN CHODO MUJHE AUR JOR SE CHODO OHHH HAAN PHAD DO MERI CHOOT KO

OHH AUR JOR SE OHH MEIN TO GAYI.' Sona sisakte hue apna pani chod

rahi thi aur Amit ne bhi do teen karare dhakke mar uski choot me

apna virya chod diya.

Thodi hi der me Tina ki karahate bhi siskiyon me badal gayi.

"OHH SUMIT BABU CHODO AUR JOR SE CHODO MUJHE NAHI PATA THA KI

CHUDWANE ME ITNA MAZA AATA HAI OHHH HAAN KAS KAS KE MARO MERI CHOOT

KO OHH PHAD DO."

Tina ab uchal uchal kar Sumit se chudwa rahi thi. Thodi hi der me

dono sath sath jhad gaye. Jab Sumit uski choot ke upar se utha to

Tina use dekhne lagi.

"Kyon saabji pasand aayi aapko Tina ki choot?" Tina ne pucha.

"Haan Tina tumhari choot phadne me bahot mazaa aaya," Sumit ne

kaha, "sach kahun to mein kai kunwari chooton ko phada hai lekin

tumhari choot jitni kasi hui choot kisi ki bhi nahi thi."

"Agar aisi baat hai to mein bhi to dekhun ki iski choot kitni kasi

hui hai." Amit Tina ke upar chadne ki koshish karne laga.

Tina ne turant apna haht apni choot par rakh liya, "Nahi mein tumhe

chodne nahi doongi." aur usne apni tange sikod lee.

"Tina maharjji ne kaha tha ki neeche ka raasta bada hona chahiye aur

tumhe Sumit se chudwana hai, ab tumhari choot ka raasta bhi bada ho

gaya hai aur Sumit se bhi chuda chuki ho, mahrajji ki dono baat tum

puri kar chuki ho.... ab jindagi ke maze lo... dekho mein bhi to in

sabhi se chudwakar maze leti hoon." Seema didi ne kaha.

"Madam aapko vishwas hai na ki mere mata pita ko kuch nahi hoga?"

Tina ne shankit nazron se dekhte hue pucha.

"Hamara vishwas karo Tina hum sach keh rahe hai." jiju ne kaha.

Tina thodi der sochti rahi phir usne apne hath apni choot par se

hata diya aur apni tange bhi faila di.

"Amit babu agar aap mujhe chodna chahte hai to chod sakte hai." Tina

ne kaha.

"Amit tum Tina ko chodo tab tak mein Sona ki choot dekhta hun."

Sumit ne kaha.

Fir charon mardon ne charon naukraniyon ko ek ek bar choda. Hum

charon unki chudai dekh apni choot me ungal karte rahe.

Jab jijaji Sona ko chod chuke to bole, "Sona meine apna vada nibhaya

dekho tumhe apni biwi ke samne chod diya."

"Haan wo to hai lekin aapne meri choot to nahi phadi na?" Sona ne

kaha.

"haan lekin halaat aise the ki mein kuch nahi kar sakta tha, tum

mujhse naraaz to nahi ho na? jijaji ne pucha.

"Phele thi lekin ab nahi hun, jao aapko maaf kiya." kehkar Sona ne

jijaji ko choom liya.