रीटा की तडपती जवानी compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: रीटा की तडपती जवानी

Unread post by rajaarkey » 02 Nov 2014 10:33


बीच बीच में रूक रूक कर रीटा अपनी कीचड हुई चूत मे से अुंगलीया निकाल कर चूत का हलका नमकीन पाईनेपल जूस किसी भूखी बिल्ली की तरहा चुसड चुसड की आवाज़ से चाट लेती थी। जुकाम लगने के कारण रीटा की जगमगाती चूत पानी छौड कर, अपनी पडौसन गाँड को तर बतर कर रही थी। जब रीटा अुंगलीया उस की नन्ही चूत मैं अंदर जाती तो चूत की टाईटनेस की वजहा से पानी की पिच्चकारीयां सी निकल पडती। वाह कया कयामत नज़ारा था।

"हायऽऽऽ पता नही कब चुदेगी यह निगौडी मां की लौडी मेरी चूत" बुदबुदा उठी रीटा। काश आज कोई मादरचौद मैरी कमर तौड चुदाई कर दे और मैरी मखमल सी रेश्मी गाड फाड के मेरी चका चक्क जवानी के कस बल निकाल दे। कोई मतवाला अपना मस्त फनफनाता हुआ लण्ड दौनौ ट्टटौ समेत मैरी अनचुदी चूत में पेल कर फाड डाले और भौंसडा बना दे। मुझे चौपाया बना कर मेरी पौनी-टेल को पकड कर सडक छाप कामुक कुतिया की तरह सड़क के चौराहे पर चौद दे। मेरी न न करने के बावाजूद भी मुझे पकड कर पीट पीट के बेरहमी से गाण्ड के चीथडे उड़ा दे और चूत की चिन्दी चिन्दी कर दे। मेरा पौर पौर चटका दे और मेरे कोमल बदन को रोडरोलर की तरह रौंद के रख दे।

काश मेरे रसभरे होठो मे किसी बहनचौद का मोटा फौलादी लन हो गले तक सटक के, आँखो में आँखे डाल कर चुसड़ चुसड़ कर मैं उस के लन्ड की झड़न के साथ, चूस कर ट्टटे भी पी जाऊ। लोड़े की गरारी पे दंदीया से ककौचै मार मार कर लन्ड की ऐसी की तैसी कर दू। पर कोई आशिक मिले तो सही। रीटा को अब एक मूसल सा लन्ड चाहीये, जो रीटा की सुलगती जवानी की ईंट से ईंट बजा दे और अपनी जवानी के झंन्डे गाड के रख दे।

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: रीटा की तडपती जवानी

Unread post by rajaarkey » 02 Nov 2014 10:35

रीटा का चौदू राजू को सताना



तभी दरवाजे की घण्टी बजते ही रीटा के बदन मै सिरहन दौड़ गई, चूत फडफडा और गाँड गुदगुदा उठी। जरूर राजू कार चलाना सिखाने आया होगा चूत मरवाने को बेताब रीटा के दिमाग मे सारी सकीम फाईनल थी।

रीटा ने झटपट से अपनी कच्छी को घुटनो से कमर पर खींच लिया और छौटी सी स्कूल सकर्ट नीचे कर और चुच्चौ को शर्ट के वापीस अंदर ठोस कर छः मे से चार बटन जैसे तैसे बंद कर दिये। जल्दी से चूत की फांको को लैक्मे की सोहला नम्ब्बर की फरौसट लिपस्टीक पौत ली। फिर कुछ सोच कर शरारती रीटा ने जाते जाते नैलपालीश की शीशी सौफे के आगे पडे हुऐ टेबल के नीचे फैंक दी।

पिछले कुछ दिनो मे रीटा मजाक करने मे राजू से काफी खुल गई थी दरवाजा खोलते ही राजू को देखते, हरामज़ादी लौड़ै की भूखी रीटा की आखो मे चमक आ गई और बांछे खिल्ल उठी।

राजू रीटा की डैरस को देखते पहले तो सकपका गया। ताजी ताजी नहाइ रीटा के गीले गीले बालों के बीच उल्ट्रा मासूम चेहरा। रीटा की तीन चौथाई गौल गौल गौलाईयाँ टाईट शर्ट के खुले गले से बाहर उबल पड रही थी और राजू की तरफ ऐन्टी ऐयर कराफट गन्नो की तरह तनी हुई थी। मीसाईलौ से खडे हुऐ निप्पल्ल शर्ट को चीर फाड कर बाहर आने को बेताब लग रहे थे। ब्लैक सकर्ट सै बाहर झकती नंग्गी संगमर-मरी गौरी चिट्टी गदराई भींची भींची राने। खूबसुरत गुदाज पैरौ में सटीलीटो हाई हील। हाथ पैरों पर लाल लाल नेलपालीश, क्यूट से नाक में नथ, कानों मे वाहीट मैटल के टाप्स, कमर में बलैक तडागी,पैरो में बेहद महीन वाहीट मैटल की पाजैब और वाहीट मैटल के कंगन।

बिजली गिराती मस्ताई हुई रीटा ने टेडी दिलकश स्माईल मारती और चहकती हुई सुरीली आवाज मे बोली "हैल्लौ भईया हाउ आर यू"? रीटा ने राजू का हाथ पकड कर अंदर खींच लिया। जैसे ही राजू अंदर घुसने लगा, शरारती रीटा ने अपनी अधनंगी व अकडी हुई छातीयाँ राजू मे भिडाती बोली "आऊचऽऽऽ, आई एम सारी भईया"। इतने मे ही राजू के लन्ड ने कच्छे की मां चौद के रख दी।

फिर शरारती रीटा ने घूम कर और उचक कर सिटकनी लगाने की असफल कौशीश करती बोली "भईया पलीज़ हैल्प मी, मुझे थौडा उपर उठाआ नाऽऽऽ मुझे उपर वाली सिटकनी लगानी है"।

राजू अब थोडा सम्भल चुका था और झट से मौके का फायदा उठाते हुऐ रीटा को उठाते हुऐ उस की कमर मे हाथ डाल कर अपने लन्ड से रीटा की प्यारी की गाड को गुदगुदा दिया। जब रीटा को नीचे उतारा तो राजू ने रीटा के दो सूखे घस्से मार दिये। राजू की सखती महसूस कर बदमाश रीटा के होंटो पर छुप्पी छुप्पी मुस्कूराहट आ गई।

राजू रीटा के नंगपने को देख कर मजाक मे फुसफुसा कर बोला "बेब्बी ये कया, कही तुम माडलीगं वाडलीगं करने लगी हो"? घर के लोग रीटा को पयार से बेब्बी कहा करते थे।

रीटा बहुत ही मासूमीयत से मुह फुला अपने चुच्चों को उचकाती हुई बोली "ओह नौ भईया, मैं तौ अपने पुराने कपडे ट्राई कर रही थी। पर भईया देखो ना ये कपडे ईत्त्ते टाईट और छौटे हो गये हैं"

राजू रीटा की कमर सहला कर और चूतड़ को मसल कर, चुच्चौ को देख कर अथर्पूण स्वर मे बोला "बेब्बी कपडे छोटे नही हुऐ, तुम्हारे ये बडे हो गये हैं"

"घत भईया मैं बहुत मारूगी" रीटा झेपंती हुई बनावटी गुस्सा करती हुई राजू का हाथ झटक दिया।

"बट भईया आई लाईक दि स्टफ वैरी मच" गुन्ड़ी रीटा शर्ट के कपडे की तरफ ईशारा कर अपने चुच्चै हवा मे राजू की तरफ उछालती बोली "भईया फील कर के देखो बहुत ही मजे़दार और साफ्ट साफ्ट है"।

"देखू तो" यह कह कर राजू ने रीटा कै शर्ट के कपडे को फील कर के उस के गिरेबान मे हाथ डाल कर चुच्चा टटोल सा दिया और मुस्कूरा कर बोला "सच मुच बहुत साफ्ट साफ्ट है"।

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: रीटा की तडपती जवानी

Unread post by rajaarkey » 02 Nov 2014 10:35



रीटा किलकारी मार कर छिटक कर पीछे हट कर बोली "आऊचऽऽऽ ऊईऽऽ गुदगुदी मत करो नाऽऽऽऽ, हटो भईया आप तो बहुत ही बेशरम हो" राजू रीटा की हर बात के पीछे नाऽऽऽ लगाने की अदा पर फिदा था।

"भईया बस पाच मीनट रूको, मै नेलपालीश लगा लू, फिर कार चलाने चलतें हैं" यह कह कर रीटा अपने सिल्की बालो को अदा से पीछे झटकती हुई घूमी और चूतडो को जोर जोर से दाये बाये मटकाती चल दी। रीटा की ईठलाती बलखाती भरी भरी मटकती गाँड देख कर राजू को लगा के उस का लौडा पानी छौड देगा। ऐसा लग रहा था जैसे बडे बडे पानी से भरे गुबारे थरथरा रहे हों। हाई हील के कारण रीटा की कुछ ज्यदा ही उचकी हुई बुंड बहुत ही मस्त़ लग रही थी।

राजू को सोफे पर बैठा कर, नैलपालीश की शीशी ठुंढती बोली "कहा मर गई मेरी नैलपालीश की शीशी? मंमऽऽऽ वो रही" यह कह कर रीटा सहार ले कर छुकने के बहाने लापरवाही से राजू के अधअकडे लन्ड़ को पकड़ लिया और बिना घुटने मौडे ही नैलपालीश की शीशी उठाने को झुक गई। पीछे से ब्लैक सकर्ट रीटा की लम्बी टांगो से उपर उठती चली गई और लाल कच्छी मे फसें संगमरमरी सफेद चूतड राजू के सीने पर बीजली से गिरे।

बेरहम बेहया रीटा ने अपनी गाँड और भी पीछे को उचका दी, तो चिकने चूतडो के बीच से भींची भींची चूत भी नुमाया हो आई। साथ ही झुकने से रीटा के चुच्चे कुछ पलो के लिये निप्पल्लो समेत शर्ट से बाहर आ कर राजू को जीभ दिखा कर झका गये। रीटा ने राजू के अकडे लन्ड़ को जोर से दबा कर छोड दिया राजू के लन्ड़ की सखती भांप कर रीटा की सांसे भी तेज़ हो बेतरतीब हो गई।

राजू के सामने बैठ कर छिनाल रीटा ने अपनी तीरछी नीगाहो से देख कर टेडी सी सैक्सी स्माईल उछाल दी और आखीरी तीर चला दया। बडी अदा से रीटा ने बहुत लाहपरवाही से अपनी सुडौल टांग को सुकौड कर मासूमीयता से पैर के नाखूनौ पर लाल नेलपालीश लगाने लगी। ब्लैक सकर्ट शीशे से गौरे चिकने पट्टौ से सरकता चला गया और फलौरौसैन्ट टयूब लईट मे रीटा की लाल लाल पैंटी की औट में से रीटा की बच्ची सी लरजाती चूत कच्छी के पीछे से राजू को निहारने लगी। रीटा की टाईट पैंटी चलने की वजहा से और ठरक के जूस से ईकट्ठी हो कर चूत और चूतडौ मे घुस कर दुबक सी गई थी। गुलाबी चूत की अकडी़ मख्खन्न सी उजली फाको का हुसन देख राजू के लन ने पानी छौडना शुरू कर दिया था। राजू ने पास पडी गद्दी से लन्ड को छुपा कर हाथ से लन्ड़ को रगड कर शान्त करने लगा।

उपर से रीटा नेलपालीश की टचिंग करती हुई अश्लील गाना गाने लगी "हाय जागी बदन मे जवाला, सईयां तूने ये कया कर डाला"। रीटा चूत का चीरा एकदम चकुंदर सा सुर्ख और झिलमिला रहा था। बेशर्म रीटा अपनी फुद्दी की फाकौ को भींचने खोलने लगी, तो रीटा चूत के अंदर की नरम व नाजुक पत्त्तीयाँ तितली के पंखो सी बन्द और खुलने लगी। चूत ऐसे लग रही थी जैसे नन्ही सी मच्छली जुगाली कर रही हो। लाल लाल चूत राजू को कच्छी के पीछे से छोटी शरारती लडकी की तरहा लुका छिपी का खेल सा खेल रही थी।

"भईया मेरी लाल लाल अच्छी लग रही है नाऽऽऽ"? राजू की आखो को अपने नंगे शबाब पर चिपकी देख रीटा शरारत से थोडा ठहर कर बोली "नेलपालीश" और खिलखिला कर हंस दी।