ग्रेट गोल्डन जिम compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
007
Platinum Member
Posts: 948
Joined: 14 Oct 2014 11:58

Re: ग्रेट गोल्डन जिम

Unread post by 007 » 06 Nov 2014 04:43

raj sharma stories
ग्रेट गोल्डन जिम--13

गतान्क से आगे....
मैं ने सोनी से पूचछा कैसा फील कर रही हो सोनी यही पे करू या थाइ पे तो सोनी आँखें खोले बिना ही बोली के यही पे करो राज बोहोत ही आराम मिल रहा है और बोहोत ही अछा लग रहा है. आनी ने मेरी तरफ देखा और आँख मार के इशारा किया तो मैं फिर फुल्ली सोनी की चूत को ही मालिश करने लग. इतने मे आनी ने अपना मूह उसके बूब्स से हटाया और उसी समय मे अपने दोनो अंगूठो से उसकी चूत के पंखुड़ियो को नीचे से ऊपेर किया तो उस ने आँख खोल के मेरी तरफ़ देखा और उसी टाइम पे आनी ने मेरा टवल खेच के निकाल दिया. वो बोली के अएरी आनी यह क्या कर दिया तो आनी बोली के यार हम दोनो भी तो नंगे ही है तो तुमको क्या प्राब्लम है. टवल के निकालते ही मेरा लंड ऐसे जोश मे हिलने लगा जैसे नाग अपने फन्न हिलाता है. सोनी की आँखें मेरे लंड को देखते ही पूरी खुल गई और वो हैरत से देखने लगी तो आनी ने पूछा के हे ऐसे क्या देख रही है, कभी लंड देखा नही क्या. सोनी बोली के धात तू बड़ी गंदी है साली. और सच मे सोनी आँखें फाड़ फाड़ के मेरे लंड को एक टिक देख रही थी शाएद उसने कभी लंड देखा ही नही था या देखा भी होगा तो ऐसा मूसल नही देखा होगा. आनी ने सोनी से पूछा क्यों पसंद आया क्या राज का मूसल तो सोनी ने पूछा तू तो ऐसे बोल रही है जैसे इससे तू चुदवा चुकी है. अब सोनी भी खुल के बात कर रही थी.
आनी बोली के अरे भेन्चोद ऐसे मूसल को देखने के बाद कोन्सि लड़की की चूत मई खुजली नही होती रे. हा मुझे गर्व है के इस मूसल ने मेरी वर्जिनिटी का शिकार किया है. सोनी ने आनी से पूछा सच कह रही है तू तो आनी बोली के और नही तो क्या मैं अब लड़की से औरत बन चुकी हू और हस्ते हुए बोली के चुदवाने मे मैं तेरी से सीनियर हू अब तेरी बारी है. चल अब खामोशी से मालिश करवा. जितनी देर वो आनी से बात कर रही थी तो उसका ध्यान मालिश की तरफ नही था.
जैसे ही उसने मेरे हाथ को अपनी चूत पे महसूस किया फिर से उसकी हालत खराब होने लगी. चूत की मालिश का एक वंडरफुल स्टाइल यह है के दोनो अंगूठो से चूत के दोनो पंखुड़ियो के साइड से मालिश करते करते चूत के दाने को भी अंगूठो के बीच मे प्रेस किया जाए. बॅस यही तरीके से मालिश स्टार्ट किया तो सोनी की गंद टेबल से ऊपेर उठ गई और उसका बदन अकड़ गया और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. उसकी आँकें बंद थी और गहरी गहरी साँसें ले रही थी. अब मैं दोनो अंगूठो को उसकी चूत के अंदर डाल के उसकी चूत के दाने की मसाज करने लगा तो वो बोहोत ही गरम हो गई. और फिर प्लान के मुताबिक मैं टेबल के दोनो तरफ दोनो पैर रख के थोड़ा आगे बढ़ा और सामने रखे तेल की बॉटल को उठाने जा रहा था के पीछे से आनी आई और सोनी की चूत पे मूह डाल दिया और उसकी चूत्को चाटने लगी. सोनी की चूत पे आनी का मूह लगते ही सोनी ने अपने दोनो हाथ मेरे टाँगो के बीच से बाहर निकाल के आनी के सर को पकड़ के अपनी चूत मे दबा लिया और अपनी दोनो टाँगें आनी के बॅक पे लपेट ली और अपनी गंद उठा उठा के उसको मूह मे अपनी चूत को रगड़ने लगी. अभी सोनी की आँखें मस्ती मे बंद थी और जैसे ही उसने आँख खोली तो देखा के मेरा मूसल किसी साँप की तरह से उसके चेहरे के ऊपेर नाच रहा है.

सोनी की उत्तेजना इतनी बढ़ गई थी के उसने फॉरन ही अपनी दोनो हाथो से मेरे लंड को पकड़ लिया और आगे पीछे कर के मूठ जैसा मारने लगी.
सोनी मेरा मोटा लंड चूस्ते हुए
मैं अपने पैरो को थोड़ा सा घुटनो के पास से मोड़ के नीचे को हो गया और उसके दोनो बूब्स पकड़ के बीच मैं अपना लंड रख के
आगे पीछे करके उसके बूब्स को चोदने लगा तो सोनी ने मेरी बॅक पे हाथ रखा और मुझे अपनी ओर खेचा और अपने सर को थोड़ा सा ऊपेर उठाया और मेरे लंड को अपने मूह मे ले लिया और चूसने लगी. उसके लाल लाल होटो के बीच मेरा लंड बोहोत ही मस्त लग रहा था. लंड इतना बड़ा और मोटा था के वो सिर्फ़ लंड का हेड ही अपने मूह मे ले रही थी और चूस रही थी. उधर आनी उसकी चूत को चाट रही थी. सोनी की हालत देखने लायक थी वो ऐसे मचल रही थी जैसे उसे किसी गरम तव्वे पे बिठा दिया गया हो. आनी ने अपना मूह उसकी चूत से हटाया और सोनी से पूछा के चुदवाना है तो बोल दे. सोनी ने कुछ नही कहा तो आनी फिर से उसकी चूत चाटना शुरू कर दिया और इस टाइम उसने उसकी चूत मे भी एक उंगली डाल के उसको चोदना शुरू कर दिया. इधर वो मेरा लंड चूस रही थी और साथ ही मैं उसके बूब्स को मसल रहा था. सोनी बोहोत ही चुदसी हो चुकी थी. आनी ने फिर से पूछा के बोल साली चुडवाएगी क्या तो सोनी ने मूह से लंड निकाले बिना ही हमम्म्म जैसे आवाज़ निकली. वो तो अछा हुआ के मैं ने उसके मूह से अपना लंड बाहर निकाल लिया नही तो मैं उसके मूह मे ही अपना रस छोड़ने वाला था. मुझे तो उसकी प्यासी चूत को अपने लंड का पानी पिलाना था.
अब आनी उसकी चूत को चाटना बंद कर दिया था. सोनी बोली के मुझे डर लग रहा है यह इतना बड़ा है और मेरी बोहोत छोटी है तो आनी शरारत से बोली के अरे बोल साली क्या बड़ा है और क्या छोटी.

सोनी हस्ते हुए बोली के राज का लंड बहुत ही बड़ा और मोटा है और मेरी चूत बोहोत छोटी है. यह फॅट जयगी और मैं मर जाउन्गी तो आनी बोली के क्या मैं मर गई हू साली. मेरी चूत भी तो राज के लंड को खा चुकी है तो सोनी भी शरारत से बोली के साली तू तो है ही रंडी मदेर्चोद तू ने चुदवा लिया होगा पर मुझे तो डर लग रहा है. मैं ने सोनी से पूछा के क्या तुम सच चुदवाना चाहती हो तो सोनी से पहले आनी ने जवब दिया अरे राज चोद डाल साली को फाड़ दे इसकी चूत और गंद दोनो को. तो मैं ने फिर पूछा के सोनी सच बताओ आर यू रेडी ? तो सोनी बोली के हा राज जी तो बोहोत कर रहा है पर डर भी लग रहा है तो मैं बोला के डरने की
ज़रूरत नही है. हा एक टाइम दरद तो ज़रूर होगा पर फिर बाद मे मज़ा ही मज़ा आएगा तो सोनी बोली के ठीक है राज आइ आम रेडी. मैं बोला के सुनो अगर तुमको इतना ही डर लग रहा है तो मैं नीचे लेट जाता हू मेरे लंड को तुम खुद ही जितना अपनी मर्ज़ी से अपनी चूत के अंदर लेना चाहो लेलो. उसने ओके बोला.
सोनी को अपने ऊपेर ले के चोदने लगा लंड उसकी चूत मे घुस गया
अब मैं नीचे लेट गया और सोनी को अपने मूह के ऊपेर बिठा लिया और उसकी चूत को चाटने लगा. सोनी बेंच के दोनो तरफ अपनी दोनो टाँगें रख के ऑलमोस्ट हाफ खड़ी थी. मेरा मूह उसकी चूत पे लगते ही वो इतनी उताओली हो गई के मेरे मूह पे ज़ोर से बैठ गई और अपनी चूत को रगड़ने लगी. आनी उसके सामने आ के खड़ी हो गई और उसका सर पकड़ के अपनी चूत पे रख दी. अब मैं सोनी की चूत को चाट रहा था और सोनी आनी की चूत को चाट रही थी. मैं अपनी उंगली आनी की गंद मे डाल के अंदर बाहर करने लगा. थ्रीसम चल रहा था और मेरे लंड का तो बोहोत ही बुरा हाल था वो फुल्ली एरेक्ट हो गया था और पेनफुल एरेक्षन था. अब मुझे उसको चोदना था. मैं ने सोनी को पीछे किया और उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चूत मे घिसने लगी. उसकी चूत बे इंतेहा गीली हो छुई थी. सोनी अपने घुटने उठा के बेंच पे रखने चाह रही थी पर बेंच उतनी ज़ियादा चौड़ी नही थी तो मैं उसको ले के करीब पड़े बेड पे ले गया. दोस्तो बता दू के वाहा पे एक बेड भी था जिसपे कभी कभी हमारी गेस्ट VईP आराम भी करते थे. मैं नीचे बेड पे लेट गया और सोनी अपने दोनो घुटने मोड़ के मेरे लंड की सवारी करने के लिए रेडी हो गई. आनी सोनी के पीछे खड़ी हो गई और उसके बूब्स को मसल्ने लगी.

007
Platinum Member
Posts: 948
Joined: 14 Oct 2014 11:58

Re: ग्रेट गोल्डन जिम

Unread post by 007 » 06 Nov 2014 04:43

सोनी मेरे थाइस के दोनो तरफ अपने दोनो पैर रख के अपने घुटनो के बल थी और मेरे
लंड को अपनी चूत मे घिसने लगी. उसकी गीली चूत के सुराख मे मेरे लंड का सूपड़ा अटक गया तो उसने अपना हाथ लंड से हटा लिया और थोड़ा सा प्रेशर देने लगी तो मेरे लंड का सूपड़ा उसकी चूत के अंदर घुस गया. लंड का सूपड़ा अंदर जाते ही उसका बदन थोड़ा सा अकड़ गया. मैं ने सोनी को अपने ऊपेर झुका लिया और उसके बूब्स को चूसने लगा.
आनी अब सोनी के पीछे बैठ के सोनी की चूत को सहला रही थी जिसकी वजह से शाएद सोनी का दरद कुछ कम हुआ. अब सोनी खुद ही थोड़ा पीछे हट के मेरे लंड को अपनी चूत के अंदर लेने की कोशिश करने लगी और चूत गीली होने से मेरे लंड का थोड़ा और पोर्षन उसकी चूत मे चला गया. फिर से उसका बदन अकड़ गया. मैं ने अब उसके मूह मे अपनी ज़ुबान डाल दी और हम फ्रेंच किस करने लगे और साथ मे उसके बूब्स को मसल्ने लगा और निपल्स को पिंच करने लगा तो उसका बदन थोड़ा सा रिलॅक्स हुआ. आनी अब सोनी की पीठ को धीरे धीरे से सहलाने लगी जैसे उसको हिम्मत दिला रही हो. मैं फिर से सोनी के बूब्स को चूसने लगा और अपने हाथ उसके शोल्डर्स को टाइट पकड़ के नीचे से अपनी गंद उठा के एक झटका मारा और मेरा लंड उसकी चूत मे 2 इंच और अंदर घुस गया लैकिन सोनी को इतना दरद हुआ के वो उछल पड़ी और उसकी चूत मेरे लंड से बाहर निकल गयी. मैं फिर से सोनी को बोला के बॅस एक ही टाइम दरद होगा फिर तुम्है कभी भी दरद नही होगा बॅस थोडा सा सहन कर्लो. सोनी बोली के मुझ से नही होता राज मुझे डर लग रहा है तुम खुद ही कुछ करो.

यह मोका मेरे लिए गोलडेन चान्स से कम नही था. मैं बोला ओके चलो अब तुम लेट जाओ और आनी से बोला के तुम सोनी के मूह पे बैठ जाओ और उसको अपनी चूत का टेस्ट काराव.
सोनी घुटने मोड़ के बेड पे लेटी रही और आनी ने अपने दोनो घुटने सोनी के सर के दोनो तरफ रख दिए और सोनी के मूह पे बैठ गई बिल्कुल ऐसे ही जैसे थोड़ी देर पहले सोनी मेरे मूह पे बैठी थी. अभी तक सब प्रोग्राम हमारे प्लॅनिंग के मुताबिक चल रहा
था. मैं सोनी की मूडी हुई टाँगो के बीच लेट गया और सोनी की चूत को एक बार फिर से चाटने लगा. आनी की चूत की स्मेल और मेरी ज़ुबान की फीलिंग से सोनी बोहोत ही गर्म हो गई और झाड़ गई. एक बार फिर से उसकी चूत बोहोत ही गीली हो चुकी थी. अब आनी की पोज़िशन ऐसी थी के उसकी चूत तो सोनी के मूह पे थी पर उसके हाथ बेड पे टीके हुए थे और अपनी चूत को सोनी के मूह पे पटक पटक के सोनी के मूह से अपनी चूत के चुदवा रही थी. अब मैं अपनी जगह से उठा और सोनी की टाँगो के बीच मे ऐसी पोज़िशन मे आ गया के मेरे पैर तो बेड के किनारे से टीके हुए थे और मैं झुक के सोनी के बूब्स को चूसने लगा. लंड सोनी की चूत के पंखुड़ियो के बीच मे था. सोनी ने अपना हाथ हमारे बदन के बीच मे किया और मेरे लंड के डंडे को पकड़ के अपनी चूत के सुराख से सटा दिया. मैं समझ गया के अब यह भी फुल चुदासी हो गई है. लंड का सूपड़ा तो जल्दी ही चूत के अंदर स्लिप हो गया क्यॉंके मेरे लास्ट झटके से मेरा लंड ऑलरेडी उसकी चूत के थोड़ा अंदर घुस चुका था.
मैं अपने लंड को 3 इंच ही उसकी चूत के अंदर डाल के आगे पीछे करने लगा तो सोनी मस्ती मे भर गई और उसकी चूत से एक बार फिर से अमृत बहने लगा और मेरा लंड उसकी चूत के रस्स से और भी गीला हो गया. सोनी मेरे लंड को अपनी चूत के अंदर महसूस कर रही थी और मज़े ले रही थी. उसकी गंद उठने लगी और मैं समझ गया के इसको अब लंड चूत के अंदर चाहिए. मैं उसके ऊपेर ऑलमोस्ट लेट गया. मेरे दोनो घुटनो से उसके घुटनो को फैला के ऐसे रखा था के उसकी टाँगें मेरी टाँगो से खुल गई थी और उसकी चूत भी खुल गई थी. उसने अपने पैर मेरी बॅक पे लपेट लिए और मुझे अपनी ओर खेचने लगी. मुझे पता चल गया के शी ईज़ इन हीट नाउ. मैं सोनी को लंड के थोड़े से ही पोर्षन से चोद रहा था और वो फुल मस्ती मे थी. मैं ने सोनी से पूछा मज़ा आ रहा है तो उसने आनी की चूत को अपने मूह से थोड़ा हटाया उर बोला के हा राज बोहोत ही मज़ा आ रहा है ऐसे ही करो प्लीज़. थोड़ा और अंदर डालो ना राज तो मैं बोला के ठीक है तुम रेडी तो हो ना देखो सोच लो एक बार वर्जिनिटी चली जाती है और सील टूट जाती है तो फिर
वापस पलट कर नही आती. सोनी बोली के यार तुम कोन्से ज़माने की बात करते हो कों लड़की वर्जिन है आजकल. सब अपने अपने बॉय फ्रेंड्स से चुदवा चुकी है या चुदवा लेती है और कॉन मेरी वर्जिनिटी चेक करने आएगा के मैं वर्जिन हू के नही. बॅस अब तुम फाड़ डालो और अपने मूसल से मेरी कुँवारी चूत की सील तोड़ डालो जैसे आनी की सील तोड़ी थी. मैं मुस्कुरा दिया और बोला के “आर यू शुवर सोनी” तो वो बोली के अरे यार अब देर मत करो मेरी चूत मे चीटिया रेंग रही है और मेरी चूत अंदर से भट्टी की तरह से गरम हो गई है. बॅस तुम घुसेड दो अपने मूसल को मेरी चूत के अंदर. मैं फिर बोला सोनी दिस ईज़ युवर लास्ट चान्स बोलो फिर से तो वो एक दम से गुस्सा हो गई और बोली के भोसड़ी के तेरे लंड मे दम नही है क्या. एक लड़की खुद बोल रही है के चोद डाल और फाड़ डाल उसकी चूत को और तू है के नखरे कर रहा है साला. चल अब पेल दे अपने लंड को और मेरी कुँवारी चूत को चोद के मुझे लड़की से औरत बना दे. मैं दिल मे मुस्कुरा दिया के चलो ऊपेर लगे कैमरे मे यह तो पता चल ही जाएगा के सोनी के कहने पे ही मैं ने उसको चोदा है. मैं लंड को ऐसे ही उसकी चूत के थोड़ा थोड़ा अंदर बाहर भी कर रहा था और थोड़ा थोड़ा प्रेशर भी दे रहा था. उसके चूत के रस्स से मेरा लंड पूरा भीग गया था अब मुझे और किसी ल्यूब्रिकेशन की ज़रूरत नही थी. मैं अब अपने पैर पीछे कर के बेड के कॉर्नर से टीका दिया, सोनी के शोल्डर्स को टाइट पकड़ लिया और आनी को इशारा किया जिसे वो समझ गई और सोनी के मूह को अपनी चूत से दबा दिया और इधर मैने अपने लंड को सोनी की चूत मे अंदर बाहर करते करते एक ही झटका मारा और मेरा लंड सोनी की चूत को चीरता हुआ किसी मिज़ाइल की तरह से उसकी चूत के बोहोत अंदर तक घुस गया. सोनी का रिक्षन यह हुआ के उसने आनी को अपने मूह के ऊपेर से उठा पूरी ताक़त से दूसरी तरफ को फेंक दिया, आनी दूर जा गिरी और सोनी ने मुझे बोहोत ही टाइट पकड़ लिया और उसके मूह से ऊऊऊओिईईईईईईई म्‍म्म्ममाआआआआआ फफफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ म्‍म्म्ममममाआआआअरर्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्ररर गगगगगगगगगगगाऐयइ म्‍म्म्ममाआआअ र्रर्राआआअजजजज्ज्ज आआआअहह निकला. उसका चेहरा टमाटर की तरह से लाल हो गया और उसके सारे बदन पे पसीने की बूँदें उभर के आ गई थी. उसकी आँखें अपने
सॉकेट मे ऊपेर चढ़ गई और उसकी आँखो से आँसू बह के नीचे बेडशीट पे गिरने लगे.
मेर लंड उसकी चूत मई फँसा हुआ था. उसकी चूत के मसल्स मेरे लंड के डंडे को टाइट पकड़े हुए थे और सोनी गहरी गहरी साँसें ले रही थी. आनी उठ के करीब आई और मेरे चेहरे को अपने नाज़ुक हाथो मे पकड़ लिया और झुक के मुझे किस किया.
क्रमशः........

007
Platinum Member
Posts: 948
Joined: 14 Oct 2014 11:58

Re: ग्रेट गोल्डन जिम

Unread post by 007 » 06 Nov 2014 04:44


ग्रेट गोल्डन जिम--13

gataank se aage....
Mai ne Soni se pooocha kaisa feel kar rahi ho Soni yahi pe karu ya thigh pe to Soni aankhein khole bina hi boli ke yahi pe karo Rajj bohot hi araam mil raha hai aur bohot hi acha lag raha hai. Ani ne meri taraf dekha aur aankh mar ke ishara kia to mai phir fully Soni ki choot ko hi malish karne lag. Itne mai Ani ne apna muh uske boobs se hataya aur usi samay mai apne dono angootho se uski choot ke pankhadion ko neeche se ooper kia to us ne aankh khol ke meri tarf dekha aur usi time pe Ani ne mera Towel khech ke nikal dia. Mai bole ke aery Ani yeh kia kar dia to Ani boli ke yar ham dono bhi to nange hi hai to tumko kia problem hai. Towel ke nikalte hi mera lund aise josh mai hilne laga jaise naag apne phann hilaata hai. Soni ki aankhein mere Lund ko dekhte hi poori khul gai aur wo hairt se dekhne lagi to Ani ne poocha ke hey aise kia dekh rahi hai, kabhi Lund dekha nahi kia. Soni boli ke dhat tu badi gandi hai Sali. Aur sach mai Soni aankhein phaad phaad ke mere lund ko ek tik dekh rahi thi shaed usne kabhi Lund dekha hi nahi tha ya dekha bhi hoga to aisa musal nahi dekha hoga. Ani ne Soni se poocha kyon pasand aaya kia Rajj ka musal to Soni ne poocha tu to aise bol rahi hai jaise isse tu chudwa chuki hai. Ab Soni bhi khul ke bat kar rahi thi.
Ani boli ke Arey bhenchod aise musal ko dekhne ke bad konsi ladki ki choot mai khujli nahi hoti re. Haa mujhe garv hai ke iss musal ne meri virginity ka shikar kia hai. Soni ne Ani se poocha sach keh rahi hai tu to Ani boli ke aur nahi to kia mai ab ladki se aurat ban chuki hu aur haste hue boli ke chudwane mai mei tere se senior hu ab teri bari hai. Chal ab khamoshi se malish karwa. Jitni der wo Ani se bat kar rahi thi to uska dhyan malish ki taraf nahi tha.
Jaise hi usne mere hath ko apni choot pe mehsoos kia phir se uski halat kharab hone lagi. Choot ki malish ka ek wonderful style yeh hai ke dono angootho se choot ke dono pankhadion ke side se malish karte karte choot ke dane ko bhi angootho ke beeche mai press kia jaye. Bass yehi tarike se malish start kia to Soni ki gand table se ooper uth gai aur uska badan akad gaya aur uski choot ne pani chhor dia. Uski aankein band thi aur gehri gehri saansein le rahi thi. Ab mai dono angootho ko uski choot ke ander dal ke uski choot ke dane ka massage karne laga to wo bohot hi garam ho gai. aur phir plan ke mutabik mai table ke dono taraf dono pair rakh ke thoda aage badha aur samne rakhe tel ki bottle ko uthane ja raha tha ke peeche se Ani aaee aur Soni ki choot pe muh dal dia aur uski chootko chaatne lagi. Soni ki choot pe Ani ka muh lagte hi Soni ne apne dono hath mere tango ke beech se baher nikal ke Ani ke sar ko pakad ke apni choot mai daba lia aur apni dono tangein Ani ke back pe lapet li aur apni gand utha utha ke usko muh mai apni choot ko ragadne lagi. Abhi Soni ki aankhein masti mai band thi aur jaise hi usne aankh kholi to dekha ke mera musal kisi saamp ki tarah se uske chehre ke ooper naach raha hai.

Soni ki uttejna itni badh gai thi ke usne foran hi apni dono hatho se mere lund ko pakad lia aur aage peeche kar ke muth jaisa marne lagi.
Soni Mera mota lund chooste hue
Mai apne pairo ko thoda sa ghutno ke pas se mod ke neeche ko ho gaya aur uske dono boobs pakad ke beech mai apna lund rakh ke
aage peeche karke uske boobs ko chodne laga to Soni ne meri back pe hath rakha aur mujhe apni or khecha aur apne sar ko thoda sa ooper uthaya aur mere lund ko apne muh mai le lia aur choosne lagi. Uske laal laal hoto ke beech mera Lund bohot hi mast lag raha tha. Lund itna bada aur mota tha ke wo sirf lund ka head hi apne muh mai le rahi thi aur choos rahi thi. Udhar Ani uski choot ko chaat rahi thi. Soni ki halat dekhne layak thi wo aise machal rahi thi jaise use kisi garam tawwe pe bitha dia gaya ho. Ani ne apna muh uski choot se hataya aur Soni se poocha ke chudwana hai to bol de. Soni ne kuch nahi kaha to Ani phir se uski choot chaatna shuru kar dia aur iss time usne uski choot mei bhi ek ungli dal ke usko chodna shuru kar dia. Idhar wo mera lund choos rahi thi aur sath hi mai uske boobs ko masal raha tha. Soni bohot hi chudasi ho chuki thi. Ani ne phir se poocha ke bol Sali chudwayegi kia to Soni ne muh se Lund nikale bina hi hhhhmmmm jaise awaz nikali. Wo to acha hua ke mai ne uske muh se apna Lund baher nikal lia nahi to mai uske muh mai hi apna rass chhorne wala tha. Mujhe to uski pyaasi choot ko apne lund ka pani pilana tha.
Ab Ani uski choot ko chatna band kar dia tha. Soni boli ke mujhe dar lag raha hai yeh itna bada hai aur meri bohot choti hi to Ani shararat se boli ke arey bol Sali kia bada hai aur kia choti.