तीन देवियाँ compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: तीन देवियाँ

Unread post by raj.. » 06 Dec 2014 09:19

तीन देवियाँ पार्ट -13

गतान्क से आगे..................

थोड़ी ही देर मे वो शांत हो गयी चिल्लाना और तड़पना बंद हो गया था लैकिन लंड उसकी चूत से बाहर

निकालने की बिनती करती ही रही प्लीज़ राज निकालो ना मुझे बोहोत जलन हो रही है प्लीज़ बाहर निकालो बोहोत ही दरद हो रहा है तो मैं ने कहा के अब दरद नही होगा तुम्है कभी भी यह तो फर्स्ट और लास्ट टाइम का दरद है तो वो रोने लगी और बोली के मेरी ज़िंदगी बर्बाद करके क्या मिलेगा तुम्है और अगर मैं प्रेग्नेंट हो गयी तो शूसाइड करनी पड़ेगी प्लीएज ना राज मैं तुम्हारे आगे हाथ जोड़ती हू तुम्हारे पैर पड़ती हू तुम जो कहोगे मैं करने को तय्यार हू पर इसे बाहर निकालो नही तो मुसीबत खड़ी हो जाएगी प्लीज़. मैं ने कहा कुछ भी करने को तय्यार हो ?? तो उसने कहा हा तो मैं बोला के मुझे तुम्हारी गंद मारनी है बोलो तय्यार हो. यह सुनते ही उसकी आँखें सॉकेट से बाहर निकल आई और बोली कीईईईईआआआआआआ ?? मेरी गंद मरोगे ??? पागल तो नही हो गये तुम.. अपने होश मे तो हो गंद मारोगे मेरी !!! अभी जी नही भरा क्या इतने बड़े और मोटे लंड से मेरी इतनी छोटी सी चूत को फाड़ के ?? तो मैं बोला के हा तो वो फिर से रोने लगी और बोली के तुमको मुझ पे दया नही आती राज इतना बड़ा मोटा लोहे जैसा सख़्त डंडा तो घुसा ही दिया है अब गंद भी मारने की बात कर रहे हो और यह मेरी गंद मे घुसेगा कैसे और अगर ज़बरदस्ती घुस भी गया तो मैं तो मर ही जाउन्गी तो मैं ने कहा के तो बॅस चुप चाप पड़ी रहो और चुदवालो तो वो कुछ नही बोली तो मैं समझ गया के अब वो चुदवाने पे रेडी तो हो गयी है और सोच लिया के उसकी गंद तो किसी भी हाल मे मारनी ही है चाहे खुशी और मज़े से मरवाए या ज़बरदस्ती तकलीफ़ से उसकी मर्ज़ी.

मेरा मूसल जैसा लंड शालु की टाइट चूत के अंदर घुसा हुआ था और चोदने को तय्यार था. कुछ ही देर के बाद मे धीरे धीरे से लंड को उसकी चूत मे अंदर बाहर करके चोदने लगा. जैसे ही चुदाई शुरू की तो उसकी तकलीफ़ बढ़ने लगी क्यॉंके मेरे मोटे लंड के डंडे के साथ साथ से उसकी चूत की अन्द्रूनि चमड़ी भी अंदर बाहर होने लगी थी. अभी तो मैं धीमी गति से लंड को अंदर बाहर कर रहा था. थोड़ी ही देर मे शालु का बदन कुछ रिलॅक्स हो गया और उसके ठंडे बदन मे गर्मी चढ़ने लगी अब उसने मुझे धकेलना बंद कर दिया था शाएद उसकी चूत मेरे लंड के साइज़ से अड्जस्ट हो गयी थी और उसको भी अब मज़ा आने लगा था. तीन चार बार लंड को आधा चूत से निकाल के अंदर तक घुसेड देता तो उसके मूह से हप्प्प्प्प्प्प्प्प्प हप्प्प्प्प और उउउउउउउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्

ह्ह्ह जैसी आवाज़ें निकलने लगती और फिर पूरा लंड बाहर निकाल के एक बोहोत ज़ोर से झटके मारता तो उसके मूह से ऊऊऊऊओईईईईईईईईईईईइ म्‍म्म्मममाआआआआआआआ म्‍म्माअरर्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्ररर ग्ग्गाआययईईए ह्ह्हाआअय्य्य्य्य्यीईईईईईए जैसी आवाज़

निकल जाती और साथ मे उसकी चुचियाँ भी मस्त स्टाइल मे डॅन्स करने लगती. थोड़ी ही देर की चुदाई के बाद शालु को मज़ा आने लगा था और वो अपनी टाँगो को मेरी टाँगो से लपेट के अची तरह से चुदने को तय्यार हो गयी और अपनी गंद उठा उठा के अपनी चूत को मेरे लंड मे घुसाने की कोशिश करने लगी और अब उसने मेरे बदन को पकड़ लिया था और अपने पैर मेरी बॅक पे लपेट लिए थे और अपने पैरो से मुझे अपनी ओर खेच रही थी. अब मैं झटके तेज़ी से मार मार के चोदने लगा था. थोड़ी ही देर मे उसके मूह से निकलती तकलीफ़ की आवाज़ें मस्ती भरी आवाज़ों मे तब्दील हो गयी और वो आआआआआआहह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओह हहाआईईईई राआआआआजजजज्ज्ज्ज यइईईईहह क्क्काआईईईइस्स्स्स्स्स्स्स्स्साआआआआ म्‍म्म्मममममाआज़्ज़्ज़्ज़ाआआ हहाआऐईईई राआआआजजजज्ज्ज्ज्ज्ज आआआआआहह सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स आआआऐईईईईसस्स्स्स्स्स्स्सीईईईई हहिईीईईई कककककककचूऊऊऊद्द्द्दद्डूऊऊऊओ आआआहह आआऔउउउउउर्र्र्र्र्र ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़ूऊररर्र्र्र्र्ररर सस्स्स्स्स्स्सीईईईई आआआआआहह ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़ूऊररररर सस्स्स्स्सीईईईई आआआवउुुुुुुुउउर्र्र्र्र्र्ररर आअन्न्‍न्न्ँद्द्द्ड़ड़डीईएरर्र्र्र्र्र्र्र्ररर टत्त्टटत्त्ताआआआक्ककककककककक आआआआआईईईईईईईहह जैसी मस्ती भरी आवाज़ें निकालने लगी थी.

थोड़ी देर के लिए अपने लुंड को शालु की चूत मे ऐसे ही रखे बिना चोदे लेटा रहा और उसकी चुचिओ को अपने मूह मे ले के चूसने लगा तो उसने मेरे सर पे अपना हाथ रख लिया और अपनी छातियो मे मेरे सर को दबाने लगी और जैसे जैसे मैं उसकी चुचिओ को चूस रहा था तो शालु अपनी गंद उठा उठा के चुदाई के खुद ही मज़े ले रही थी और मुझे सिग्नल दे रही थी के चुदाई करू और मैं अब फिर से ज़ोर ज़ोर से पवरफुल धक्के मार मार के चोदने लगा उसके पैर मेरे बॅक पे लपेटे हुए थे और उसने मुझे पकड़ा हुआ था इस टाइम मज़े से पकड़ा था और मुझे धकेलना भी बंद कर दिया था. लंड अंदर बाहर अंदर बाहर कमरे मे प्प्प्प्प्प्पक्क्ककचह प्प्प्पक्क्क्कककककचह प्प्प्प्प्प्प्पक्क्क्ककककचह जैसी सेक्सी आवाज़ें आ रही थी और शालु के मूह से मस्ती भरी आआआआआआअहह राआआआआआआजजजज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज ब्ब्ब्बबबाआआसस्स्स्स्सस्स कककककककाआआररर्र्र्र्र्रूऊऊऊओ आआआआब्ब्ब्ब्ब्ब्ब्ब्ब्बबब

म्‍म्म्मममममाआआआआईयईईईई आआआआआआ र्र्र्र्ररराआआआअहीईईई ह्ह्हुउउउउउउउउउउउन्न्न्न्न्न्न्न्न आआआअरर्र्र्र्ररराआआहीईईईई ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउ आआआआआआआआहह सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स माआऐययईईईईईईई आआआआररर्र्र्र्र्र्ररराआआआअहहिईीईईईईईईई ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्हुउउउउउउउउउउउउउउ आआआआआहह न्‍णननिईीईईईईईिककककककककाआाअलल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल्ल गगगगगगगगगगगगाआआआययययययययाआआआआअ म्‍म्म्ममममीईईररर्र्ररराआआआ ज्जुउउउउउउईईcccccccccccईईईईईईई और एक दम से वो मुझ से बड़ी ज़ोर से चिपक गयी उसका बदन अकड़ गया अपने हाथो से और अपनी टाँगो से मुझे टाइट पकड़ लिया उसके मूह से ऊऊऊऊवगगगगगघह आागगगगगगगघह की आवाज़ें निकलने लगी और वो हिलते हुए झड़ने लगी. उसकी चूत से निकलता हुआ गरम जूस मुझे अपने लंड पे महसूस होने लगा. अब मुझ से भी सहन नही हो रहा था और एक फाइनल पवरफुल चूत फाड़ झटका मारा तो मेरा लंड फिर से उसकी चूत की गहराइयों मे घुस्स के उसकी बच्चे दानी से टकरा गया और उसके मूह से फिर से एक चीख हहाआआआआआआआयययययययययईईईईईई म्‍म्म्ममममममाआआआआ जैसी निकली और मेरे लंड मे से गरम गरम मलाई की मोटी मोटी धारियाँ उछल उछल के उसकी चूत को भरने लगी. मेरी गरम मलाई उसकी चूत मे गिरते ही वो फिर से झड़ने लगी. मेरे झटके अब स्लो होते होते रुक गये थे और मैं अपने नरम होते लंड को उसकी फटी हुई गीली चूत के अंदर ही रखे रखे उसके बदन पे गिर पड़ा तो उसके हाथ भी मेरे बदन से निकल के बेड पे गिर गये हम दोनो गहरी गहरी साँसें लेने लगे दोनो निढाल हो के मदहोश हो चुके थे आँखें बंद किए गहरी गहरी साँसें ले रहे थे. अभी हम एक दूसरे के ऊपेर ही पड़े हुए थे कि अचानक कमरे की लाइट जल उठी और कमरा रोशन हो गया तो शालु चोंक गयी देखा तो डोर के पास ऋतु खड़ी मुस्कुरा रही थी और हम दोनो नंगे एक दूसरे के ऊपेर लेटे हुए थे. ऋतु को देखते ही शालु को शॉक जैसा लगा. ऋतु अपने दोनो हाथो से ताली ( क्लॅपिंग ) बजा बजा के मुस्कुरा रही थी और बोल रही थी बोहोत अच्छे राजा बाबू. वाह शालु दीदी क्या सीन था मज़ा आ गया तो शालु शर्मा गयी और अपने नंगे बदन को अपने हाथो से छुपाने की नाकाम कोशिश करने लगी. ऋतु क्लॅपिंग करते करते बेड के करीब आ गयी और बोली के दीदी मैं तो आपकी खोफ़नाक चीख सुन के डर ही गयी थी और यह सोच के अंदर आई थी के शाएद आप किसी चीज़ से डर गयी होगी पर अंदर

आई तो यहा का मस्ती भरा महॉल कुछ और ही था तो मैं भी मज़े लेने लगी. शालु ने मुझे अपने ऊपेर से धकेल के हटा दिया और मैं लुढ़क के उसके बाज़ू मे नंगा ही लेट गया.

जैसे ही मेरा लंड उसकी चूत से बाहर निकला शालु की चूत मे से खून और हम दोनो की मिक्स मलाई शालु की फटी चूत से टपक के बेड पे गिरने लगी जिसे देख के ऋतु के मूह से निकला “वाउ दीदी आज तो तुम लड़की से औरत बन गयी हो और राजा बाबू ने तुम्हारी नयी कुँवारी चूत की सील तोड़ डाली” तो शालु थोड़ा सा उठ गयी और देखा तो उसकी चूत मे से सच मे खून और हमारी मलाई निकल रही थी जिसे देख के वो डर गयी और रोने लगी और बोली के राज तुम बड़े खराब हो आख़िर मुझे बर्बाद कर ही दिया तुम ने और अगर अब मैं प्रेग्नेंट हो गयी तो सिवाए स्यूयिसाइड के कोई और रास्ता नही रहेगा. मैं ने कहा शालु मेरी जान तुम कोई फिकर ना करो यह खून तो सील के टूटने का है और यह खून तो सिर्फ़ एक ही टाइम निकलता है. तुम्हारी सील को भी कभी ना कभी तो टूटनी ही थी ना और अगर कल के बदले आज टूट गयी तो क्या प्राब्लम है तो उसने कहा और अगर मैं प्रेग्नेंट हो गयी तो ?? तो मैं ने उसके हाथ मे की जेल्ली का डिब्बा थमा दिया और बोला के फिर से देखो और पढ़ो इसको इस्मै लिखा है के यह लूब्रिकॅंट और स्परमिसाइडाल है. इस के इस्तेमाल से लंड और चूत चिकने और स्लिपरी हो जाते है और फर्स्ट टाइम चुदाई मे आसानी हो जाती है तुम ने देखा नही के मेरा लंड कितनी आसानी से एक ही झटके मे कैसे आसानी से चूत के अंदर घुस्स गया था तो वो मुझे धीरे से एक थप्पड़ मारती हुई बोली के आसानी ?? कैसी आसानी तुम्है क्या पता के मुझे कितना दरद हुआ मानो जैसे किसी ने मेरी चूत के अंदर बड़ा सा गरम चाकू (नाइफ) घुसा दिया हो इतनी तकलीफ़ तो हुई थी मुझे मुझे लगा था के मेरा बदन दो भागो मे किसी ने काट डाला हो और तुम कह रहे हो के कितनी आसानी से अंदर घुस्स गया बड़े शैतान हो तुम राज आख़िर तुम ने मेरी कुँवारी चूत को फाड़ ही डाला तो मैं ने मुस्कुरा के शालु को किस किया और बोला के आइ लव यू मेरी शालु जान आइ लव यू उसने भी मुझे वापस किस किया और बोली के तुम बोहोत बदमाश हो नेक्स्ट टाइम ऐसा कुछ नही करना मैं ने कहा हा नेक्स्ट टाइम ऐसा नही करूगा क्यॉंके अब क्रीम की ज़रूरत ही नही रही तो वो प्यार से एक थप्पड़ मार के मुस्कुरा दी और मुझे इशारा मिल गया के शालु को चुदाइ का मज़ा आया है और नेक्स्ट टाइम उसको चोदने का रास्ता सॉफ हो गया है..

वो जेल्ली के डिब्बे पे लिखा पढ़ने लगी तो उसके चेहरे पे कुछ इत्मीनान दिखाई देने लगा. शालु अपनी चूत को सहलाते हुए बोली के राज मुझे बोहोत दरद हो रहा है तो मैं ने कहा कोई फिकर की बात नही है तुम बाथरूम मे जा के गरम पानी से शवर लेलो उसके बाद ऋतु तुम्हारी चूत को बड़े प्यार से चूमेगी चाते गी तो सारा दरद जाता रहेगा तो वो अजीब नज़रों से मुझे देखने लगी तो मैं समझ गया के वो क्या सोच रही है तो मैं ने शालु से कहा के तुमको फिकर करने की ज़रूरत नही ऋतु भी आज ही लड़की से औरत बनी है और उसकी सील भी इसी बिस्तर मे और आज ही टूटी है. यह सुनते ही शालु की आँखें फटी की फटी रह गयी और ऋतु हसणे लगी और बोली के दीदी यह राजा बाबू बड़े शैतान है देखा कैसे हमको अपने जाल मे फँसाया और पता नही अनु दीदी के साथ भी कुछ किया या उनकी बारी बाद मे आने वाली है तो मैं हंस दिया और बोला के तुम दोनो किसी बात की फिकर ना करो अनु तो सब से पहले औरत बन चुकी है उसकी सील को टूटे हुए एक वीक हो गया है और तुम दोनो का नंबर तो बोहोत बाद मे आया है तो ऋतु और शालु दोनो का मूह खुला का खुला रह गया और आँखें हैरत से चौड़ी हो गयी उन्हें यकीन ही नही हो रहा था के मैं ने तीनो देविओ की कुँवारी लेज़्बीयन चूतो को जिन्हो ने कभी लंड का मज़ा नही लिया था उनकी चूतो को चोद के फाड़ डाला है और उन तीनो की चूतो को लंड से चुदाई का मज़ा चखाया है..

मेरा लंड कुछ सॉफ्ट हो चुका था क्यॉंके सुबह से चुदाई मे और चुसाई मे बिज़ी था. ऋतु ने चूसा फिर मैं ने उसको चोदा और गंद मारी फिर शालु ने चूसा और फिर मैं ने उसको भी चोदा तो लंड को थोडा तो रेस्ट चाहिए ही था इसी लिए मेरा लंड कुछ सॉफ्ट हो गया था. मैं नंगा ही लेटा रहा और शालु उठ के बाथरूम मे चली गयी और ऋतु बेडशीट उठा के वॉशिंग मशीन मे डालने को वॉशिंग रूम मे चली गयी. मैं लेटे लेटे अपने लंड को प्यार से सहलाते सहलाते यह सोच रहा था के मेरा लंड भी कितना लकी है जिसे “तीन देविओ” की तीन कुँवारी टाइट चूतो को चोदने और उनकी छोटी चूतो की सील तोड़ने का मोका मिला था वाह तेरी भी किस्मेट है रे .

ऋतु बेडशीट वॉशिंग रूम मे डाल के वापस आई तो मैं ने उसको किस किया और उसके कपड़े उतार दिए और उसकी चुचिओ को चूसा और चूत को अपने हाथो से सहलाया और उसको नेक्स्ट प्रोग्राम समझा दिया और बोला के अब बाथरूम मे चलो मैं भी आता हू और हम तीनो मिल के शवर लेंगे.

ऋतु नंगी ही बाथरूम मे चली गयी जिसे देखते ही शालु मुस्कुराने लगी और बोली के चल अंदर आ जा और गरम गरम

पानी से मेरी चूत किस सिकाई कर और धो डाल तो ऋतु शवर के नीचे आ गयी और अपनी हाथो से शालु की चूत को साबुन लगाया और प्यार से धोने लगी और गरम गरम पानी से उसकी सूजी हुई चूत की सिकाई करने लगी. गरम गरम पानी चूत मे लगने से शालु की चूत कुछ शांत पड़ने लगी थी और अब उसको ऋतु के हाथ का मज़ा आने लगा था. मैं भी नंगा ही बाथरूम मे घुस्स गया और देखा के ऋतु बड़े प्यार से शालु की चूत को धो रही है और बड़े प्यार से सहला रही है और शालु की आँखें एक बार फिर से मस्ती मे बंद हो गयी है तो मैं फॉरन समझ गया के आख़िर दोनो है तो लेज़्बीयन ही ना लड़की का हाथ लड़की की चूत पे लगे तो मज़ा आना ही था मैं यह सोच के मुस्कुराता हुआ शवर के नीचे आ गया. शवर के नीचे आते ही शालु ने आँख खोली और मुझे नंगा शवर के नीचे देखा तो बोली अब क्या करने आए हो यहा थोड़ा वेट नही कर सकते थे क्या तो मैं ने कहा के मेरा लंड भी तो सुबह से बिज़ी था और थक्क चुका है इसे भी गरम पानी से धोने की ज़रूरत है और मैं ने अपनी गंद आगे कर के लंड को शालु के सामने कर दिया और बोला के चलो इसे भी धो डालो इस पे तुम्हारी कुँवारी चूत की सील टूटने का खून लगा है तो वो पहले तो ऋतु की मोजूदगी मे शरमाई फिर आख़िर लंड को पकड़ के साबुन लगा के खून और मलाई दोनो को रगड़ रगड़ के धोने लगी. उसका हाथ लगते ही मेरे लंड मे एक नयी जान सी आ गयी और लंड फिर से झटके मारता हुआ खड़ा होने लगा जिसे ऋतु हैरत से देखने लगी और बिना कुछ सिग्नल दिए अपने हाथ मे ले के दबाने लगी और फिर शालु के सामने कर दिया और बोली के लो दीदी इसे तुम ही संभलो अब इसका इलाज तुम ही करो तो शालु मेरी तरफ हैरत से देखने लगी और लंड को दबा के मुस्कुराते हुए बोली के एह तो फिर से खड़ा हो रहा है तो मैं ने कहा के यह भी तुम्हारी मस्त मक्खन जैसी चूत का दीवाना हो गया है और तुम्हारी चूत को देखते ही खड़ा हो के सल्यूट करने लगा है तो वो लंड को और ज़ोर से दबा के बोली के बड़े शैतान हो तुम अभी चुदाई करके जी नही भरा तुम्हारा तो मैं ने कहा मुझ से क्या पूछ रही हो और अपने लंड की तरफ इशारा कर के कहा के इसी से पूछ लो के इसका जी तुम्हारी मस्ती चिकनी चूत से भरा है या नही तो वो कुछ नही बोली बस लंड को रगड़ के धोने लगी..

ऋतु ने शालु के हाथ से मेरे लंड को अपने हाथ मे ले लिया और प्यार से सहलाने लगी और थोड़ी देर ऐसे ही दबाने के बाद मेरे लंड को पकड़े हुए धीरे से डाइरेक्षन चेंज किया और नीचे बैठी हुई शालु के मूह की तरफ लंड का सूपड़ा कर दिया तो शालु गुस्से से ऋतु को देखने लगी तो ऋतु ने मेरे रॉकेट की तरह से खड़े हुए लंड की तरफ इशारा कर के कहा दीदी इसे तो देखो यह आज सुबह से ही बिज़ी है और इस्मै से एक बकेट जितनी

मलाई निकल चुकी है और फिर भी कैसे मिसाइल की तरह से खड़ा है जैसे फाइरिंग के लिए तय्यार हो तो शालु हंस पड़ी और बोली के ऐसे मिज़ाइल से तू ही खेल मुझे नही चाहिए ऐसा मिज़ाइल. ऋतु बोली के दीदी आप भी थोड़ा सा टेस्ट कर लो ना और मैं ने भी अपनी गंद को थोडा आगे कर के लंड को शालु के मूह की ओर पुश किया लंड शालु के मूह से लग गया पर उसने मूह नही खोला तो मैं ने उसके सर के पीछे अपने हाथ से पकड़ के धक्का मारा तो उसका मूह खुल गया और लंड उसके मूह मे घुस्स गया जिसे उसने थोड़ी देर के बाद चूसना शुरू किया. मेरी मलाई तो अभी निकलने वाली नही थी इसी लिए मैं ने सोचा के थोड़ी देर शालु मेरे लंड को चूस ले फिर ऋतु से चुस्वाउँगा.

थोड़ी देर के बाद मैं ने शालु के मूह से अपना लंड निकाल लिया और ऋतु को नीचे बिठा दिया और उसके मूह मे दे दिया जिसे वो अब मेरी गंद पे हाथ रख के अपनी ओर खचते हुए बड़े मज़े से किसी मीठे लॉली पोप की तरह चूसने लगी. ऋतु मेरे लंड को ऐसे चूस रही थी जैसे वो एक ही दिन मे एक्सपर्ट हो गयी हो. ऋतु घुटनो के बल बैठी लंड चूस रही थी और मैं अपनी गंद आगे पीछे कर के उसके मूह को चोद रहा था. अब मैं ने शवर बंद कर दिया था और दोनो शालु और ऋतु बाथरूम की शवर ट्रे मे दीवार से पीठ लगाए अपने अपने पैर लंबे करके बैठे थे और अब मैं ने उन्दोनो के पैरो को अपने पैरो के बीच कर लिया और अब मेरा लंड दोनो के मूह के बीचे मे ऐसे लहरा रहा था जैसे कोई नाग साँप सपेरे के बीन बजाने से लहरा रहा है. लंड के डंडे को अपने हाथो से पकड़ के दोनो के गालो (चीक्स) को धीरे से मारा. लंड मे से जो प्री कम निकल रहा था वो दोनो के गाल पे लगा. अब फिर से मैं ने अपने मस्ती मे लहराते लंड को शालु के मूह मे ठोस्स दिया और उसका मूह चोदने लगा. थोड़ी देर के बाद उसके मूह से लंड को निकल के ऋतु के मूह मे घुसेड दिया तो वो ऐसे चूसने लगी जैसे किसी छोटे बचे को बोहोत दीनो बाद लॉली पोप मिला हो बड़ी बे सबरी से चूसने लगी और बिना मेरे उसके मूह को चोदे ही वो मेरे लंड को अपने हलक तक ले रही थी जिस से मेरे लंड का चिकना सूपड़ा एक दम से सेन्सिटिव हो गया था. ऋतु के चूसने का स्टाइल इतना मस्त था के मुझे थोड़ी ही देर मे लगने लगा के अब मेरी मलाई निकल जाएगी. इतना मज़ा किसी के चूसने मे भी नही आया था जितना अब ऋतु के चूसने से आ रहा था. और हुआ भी यही मेरा लंड आउट ऑफ कंट्रोल हो गया और ऐसे लगा जैसा लंड की मलाई मेरे सारे बदन से निकल रही हो और उछल के ऋतु के हलक मे पहले शॉट गिरा तो मैं ने जल्दी से लंड को उसके मूह से खेच लिया अभी उसकी आँखें हैरान ही थी के मैं ने लंड क्यों निकाल लिया, मैं ने अपने लंड को बड़ी तेज़ी से शालु के मूह मे घुसेड दिया और यह उसके लिए अचानक हुआ था

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

कामुक कहानियाँ

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

क्रमशः........

raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: तीन देवियाँ

Unread post by raj.. » 06 Dec 2014 09:21

Teen Deviyaan paart -13

gataank se aage..................

Thodi hi der mai wo shant ho gayee chillana aur tadapna band ho gaya tha laikin Lund uski Choot se baher

nikalne ki binti karti hi rahi please Rajjj nikalo na mujhe bohot jalan ho rahi ahi please baher nikal bohot hi darad ho raha hai to mai ne kaha ke ab darad nahi hoga tumhai kabhi bhi yeh to first aur last time ka darad hai to wo rane lagi aur boli ke meri zindagi barbaad karke kia milega tumhai aur agar mai pregnant ho gayee to sucide karni padegi pleeease na Rajjj mai tumhare aage hath jodti hu tumhare pair padti hu tum jo kahoge mai karne ko tayyar hu pas ise baher nikalo nahi to museebat khadi ho jayegi pleeeeeeasee. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai. Mai ne kaha kuch bhi karne ko tayyar ho ?? to usne kaha haa to mai bola ke mujhe tumhari gand marni hai bolo tayyar ho. Yeh sunte hi uski aankhein socket se baher nikal ayee aur boli kiiiiiiiiiiaaaaaaaaaaaa ?? meri gand maroge ??? pagal to nahi ho gaye tum.. apne hosh mai to ho Gand maroge meri !!! abhi ji nahi bhara kia itne bade aur mote Lund se meri itni choti si choot ko phad ke ?? to mai bola ke haa to wo phir se rone lagi aur boli ke tumko mujh pe daya nahi aati Rajj itna bada mota lohe jaisa sakht danda to ghusa hi dia hai ab gand bhi marne ki baat kar rahe ho aur yeh meri gand mai ghusega kaise aur agar zabardasti ghus bhi gaya to mai to marr hi jaugi to mai ne kaha ke to bass chup chaap padi raho aur chudwalo to wo kuch nahi boli to mai samajh gaya ke ab wo chudwane pe ready to ho gayee hai aur soch lia ke uski gand to kisi bhi haal mai marni hi hai chahe khushi aur maze se marwaye ya zabardasti takleef se uski marzi.

Mera Musal jaisa Lund Shalu ki Tight Choot ke ander ghusa hua tha aur chodne ko tayyar tha. Kuch hi der ke bad mai dheere dheere se Lund ko uski choot mai ander baher karke chodne laga. Jaise hi chudai shuru kia to uski takleef badhne lagi kyonke mere mota Lund ke dande ke sath sath se uski choot ki androoni chamdi bhi ander baher hone lagi thi. Abhi to mai dheemi gati se Lund ko ander baher kar raha tha. Thodi hi der mai Shalu ka badan kuch relax ho gaya aur uske thande badan mai garmi chadne lagi ab usne mujhe dhakelna band kar dia tha shaed uski choot mere Lund ke size se adjust ho gayee thee aur usko bhi ab maza aane laga tha. Teen chaar baar Lund ko aadha choot se nikal ke ander tak ghused deta to uske muh se hhhhhhhhhhhhhhpppppppppp hhhhhhhhhhhhhppppp aur uuuuuuuuuuhhhhhhhhhhhhh jaisi awazein nikalne lagti aur phir poora Lund baher nikal ke ek bohot zor se jhatke marta to uske muh se oooooooooiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiiii mmmmmmaaaaaaaaaaaaaaaa mmmaaarrrrrrrrrrrrrrrr gggaaayyyeeeee hhhaaaaayyyyyyeeeeeeeeeeeee jaisi awaz

nikal jati aur sath mai uske chuchian bhi mast style mai dance karne lagte. Thodi hi der ki chudai ke baad Shalu ko maza aane laga tha aur wo apni tango ko meri tango se lapet ke achi tarah se chudne ko tayyar ho gayee aur apni gand utha utha ke apni choot ko mere lund mai ghusaane ki koshish karne lagi aur ab usne mere badan ko pakad lia tha aur apne pair meri back pe lapet liye the aur apne pairo se mujhe apni or khech rahi thi. Ab mai jhatke tezi se maar maar ke chodne laga tha. Thodi hi der mai uske muh se nikalti takleef ki awazein masti bhari awazon mai tabdeel ho gayee aur wo aaaaaaaaaaaahhhhhhhhhhhhhhhhh ooooooooooooooooooohhhhhhhhhhhhhhh hhhhhhaaaaeeeeeeeee Raaaaaaaaaajjjjjjj yyeeeeeeeehhhhhhh kkkaaaaiiiiiiissssssssssaaaaaaaaaa mmmmmmmmaaaazzzzaaaaaa hhhhhhaaaaaeeeeeee Raaaaaaaajjjjjjjjj aaaaaaaaaahhhhhhhhhhh ssssssssssssssssss aaaaaaaeeeeeeeeessssssssseeeeeeeeeee hhhhhhhiiiiiii cccccccchhhhhhhhhhooooooooddddddooooooooo aaaaaahhhhhhhh aaaaauuuuuurrrrrr zzzzzzzzoooorrrrrrrrrr sssssssseeeeeeeeeee aaaaaaaaaahhhhhhhhhhhh zzzzzzoooorrrrr sssssseeeeeeeeeee aaaaaaauuuuuuuuuuurrrrrrrrr aaannnnnddddddeeeeerrrrrrrrrrrr ttttttttaaaaaaaakkkkkkkkkk aaaaaaaaaaeeeeeeeeeeeeeehhhhhhhhhhhhhhhh jaisi masti bhari awazein nikalne lagi thi. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai

Thodi der ke liye apne Lune ko Shalu ki choot mai aise hi rakhe bina chode ke leta raha aur uski chuchion ko apne muh mai le ke choosne laga to usne mere sar pe apna hath rakh lia aur apni chaation mai mere sar ko dabaane lagi aur jaise jaise mai uski chuchion ko choos raha tha to Shalu apni gand utha utha ke chudai ke khud hi maze le rahi thi aur mujhe signal de rahi thi ke chudai karu aur mai ab phir se zor zor se powerful dhakke maar maar ke chodne laga uske pair mere back pe lapete hue the aur usne mujhe pakada hua tha iss time maze se pakda tha aur mujhe dhakelna bhi band kar dia tha. Lund ander baher ander baher kamre mai pppppppccccchhhhhhh ppppccccccccchhhhhhh ppppppppcccccccchhhhhhhhh jaisi sexy awazein aa rahi thi aur Shalu ke muh se masti bhari aaaaaaaaaaaaahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh Raaaaaaaaaaaaaajjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjjj bbbbbbaaaaaassssssss kkkkkkkaaaaaarrrrrrrrooooooooo aaaaaaaabbbbbbbbbbbb

mmmmmmmmaaaaaaaaaaiiiiiii aaaaaaaaaaaa rrrrrrraaaaaaaaahhhhhhhheeeeeeeee hhhuuuuuuuuuuuunnnnnnnnn aaaaaaarrrrrrrraaaaaahhhhhhhheeeeeeeeee hhhhhhuuuuuuuuuuuu aaaaaaaaaaaaaaaahhhhhhhhhhh sssssssssssssssss maaaaaiiiiiiiiii aaaaaaaarrrrrrrrrrraaaaaaaaahhhhhhhhhhhiiiiiiiiiii hhhhhhhhhhhhhuuuuuuuuuuuuuuu aaaaaaaaaahhhhhhhhhh nnnniiiiiiiiiikkkkkkkkaaaaaaalllllllllll ggggggggggggaaaaaaaayyyyyyyyaaaaaaaaaaa mmmmmmmeeeeeerrrrrrraaaaaaaa jjuuuuuuuiiiiccccccccccceeeeeeeeeeeeee aur ek dum se wo mujh se badi zor se chipak gayee uska badan akad gaya apne hatho se aur apni tango se mujhe tight pakad lia uske muh se ooooooooogggggghhhhhhhhhhhhh aaaagggggggghhhhhhhhhhhhhh ki awazein nikalne lagi aur wo hilte hue jhadne lagi. Uski choot se nikalta hua garam juice mujhe apne Lund pe mehsoos hone laga. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai. Ab mujh se bhi sehan nahi ho raha tha aur ek final powerful choot phaad jhatka mara to mera Lund phir se uski choot ke gehraiyon mai ghuss ke uski bacche dani se takra gaya aur uske muh se phir se ek cheekh hhhhhhhhhhhaaaaaaaaaaaaaaaayyyyyyyyyeeeeeeeeeeeeeee mmmmmmmmmaaaaaaaaaa jaisi nikli aur mere Lund mai se garam garam malai ki moti moti dhariyan uchal uchal ke uski choot ko bharne lagi. Meri garam malai uske choot mai girte hi wo phir se jhadne lagi. Mere jhatke ab slow hote hote ruk gaye the aur mai apne naram hote Lund ko uski phati hui geeli choot ke ander hi rakhe rakhe uske badan pe gir pada to uske hath bhi mere badan se nikal ke bed pe gir gaye ham dono gehri gehri saansein lene lage dono nidhaal ho ke madhosh ho chuke the aankhein band kiye gehri gehri saansein le rahe the. Abhi ham ek doosre ke ooper hi pade hue the ke achanak kamre ki light jal uthi aur kamra roshan ho gaya to Shalu chonk gayee dekha to Door ke pas Ritu khadi muskura rahi thi aur ham dono nange ek doosre ke ooper lete hue the. Ritu ko dekhte hi Shalu ko shock jaisa laga. Ritu apne dono hatho se thali ( clapping ) baja baja ke muskura rahi thi aur bol rahi thi bohot ache Raja babu. Wah Shalu didi kia scene tha maza aa gaya to Shalu sharma gayee aur apne nange badan ko apne hatho se chupaane ki nakaam koshish karne lagi. Ritu clapping karte karte bed ke kareeb aa gayee aur boli ke Didi mai to aapki khofnak cheekh sun ke dar hi gayee thi aur yeh soch ke ander ayee thi ke shaed aap kisi cheez se darr gayee hogi par ander

ayee to yaha ka masti bhara mahol kuch aur hi tha to mai bhi maze lene lagi. Shalu ne mujhe apne ooper se dhakel ke hata dia aur mai ludhak ke uske bazoo mai nanga hi let gaya. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai.

Jaise hi mera Lund uski choot se baher nikla Shalu ki choot mai se khoon aur ham dono ki mix malai Shalu ki phati choot se tapak ke bed pe girne lagi jise dekh ke Ritu ke muh se nikla “WOW DIDI AAJ TO TUM LARKI SE AURAT BAN GAYEE HO AUR RAJA BABU NE TUMHARI NAYEE KUNWARI CHOOT KI SEAL TOD DALI” to Shalu thoda sa uth gayee aur dekha to uski choot mai se sach mai khoon aur hamari malai nikal rahi thi jise dekh ke wo darr gayee aur rone lagi aur boli ke Rajj tum bade kharab ho aakhir mujhe barbaad kar hi diya tum ne aur agar ab mai pregnant ho gayee to sivaye suicide ke koi aur rasta nahi rahega. Mai ne kaha Shalu meri Jaaan tum koi fikar na karo yeh khoon to seal ke tootne ka hai Aur yeh khoon to sirf ek hi time nikalta hai. Tumhari seal ko bhi kabhi na kabhi to tootni hi thi na aur agar kal ke badle aaj toot gayee to kia problem hai to usne kaha aur agar mai pregnant ho gayee to ?? to mai ne uske hath mai KY Jelly ka dibba thama dia aur bola ke phir se dekho aur padho isko ismai likha hai ke yeh Lubricant aur Spermicidal hai. Iss ke istemal se Lund aur Choot chikne aur slippery ho jate hai aur first time chudai mai aasaani ho jati hai tum ne dekha nahi ke mera Lund kitni aasaani se ek hi jhatke mai kaise aasaani se choot ke ander ghuss gaya tha to wo mujhe dheere se ek thappad maarti hui boli ke aasaani ?? kaisi aasaani tumhai kia pata ke mujhe kitna darad hua mano jaise kisi ne meri choot ke ander bada sa garam chakku (knife) ghusa dia ho itni takleef to hui thi mujhe mujhe laga tha ke mera badan do bhago mai kisi ne kaat dala ho aur tum keh rahe ho ke kitni aasaani se ander ghuss gaya bade shaitaan ho tum Rajj aakhir tum ne meri kunwari choot ko phaad hi dala to mai ne muskura ke Shalu ko kiss kia aur bola ke I love you meri Shalu jaan I love you usne bhi mujhe wapas kiss kia aur boli ke tum bohot badmaash ho next time aisa kuch nahi karna mai ne kaha haa next time aisa nahi karuga kyonke ab Cream ki zaroorat hi nahi rahi to wo pyar se ek thappad maar ke muskura di aur mujhe ishara mil gaya ke Shalu ku chuaid ka maza aaya hai aur next time usko chodne ka raastaa saaf ho gaya hai..

Wo KY Jelly ke dibbe pe likha padhne lagi to uske chehre pe kuch itmenan dikhayee dene laga. Shalu apni choot ko sehlaate hue boli ke Rajj mujhe bohot darad ho raha hai to mai ne kaha koi fikar ki baat nahi hai tum bathroom mai ja ke garam pani se shower lelo uske bad Ritu tumhari choot ko bade pyar se choomegi chaate gi to sara darad jata rahega to wo ajeeb nazron se mujhe dekhne lagi to mai samajh gaya ke wo kia soch rahi hai to mai ne Shalu se kaha ke tumko fikar karne ki zaroorat nahi Ritu bhi aaj hi Larki se Aurat bani hai aur uski Seal bhi isi bistar mai aur aaj hi tooti hai. This story is written by The Great Warrior. Yeh sunte hi Shalu ki aankhein phati ki phati reh gayee aur Ritu hasne lagi aur boli ke Didi yeh Raja babu bade shaitan hai dekha kaise hamko apne jaal mai fansaya aur pata nahi Anu didi ke sath bhi kuch kia ya unki bari baad mai aane wali hai to mai hans dia aur bola ke tum dono kisi bat ki fikar na karo Anu to sab se pehle Aurat ban chuki hai uski seal ko toote hue ek week ho gaya hai aur tum dono ka number to bohot baad mai aya hai to Ritu aur Shalu dono ka muh khula ka khula reh gaya aur aankhein hairat se choudi ho gayee unhein yakeen hi nahi ho raha tha ke mai ne teeno devion ki kunwari lesbian chooton ko jinho ne kabhi Lund ka maza nahi lia tha unki chooto ko chod ke phaad dala hai aur un teeno ki chooton ko Lund se chudai ka maza chakhaya hai..

Mera Lund kuch soft ho chuka tha kyonke subah se chudai mai aur chusaayee mai busy tha. Ritu ne choosa phir mai ne usko choda aur gand mari phir Shalu ne choosa aur phir mai ne usko bhi choda to Lund ko thoda to rest chahiye hi tha isi liye mera Lund kuch soft ho gaya tha. Mai nanga hi leta raha aur Shalu uth ke bathroom mai chali gayee aur Ritu bedsheet utha ke washing machine mai dalne ko washing room mai chali gayee. Mai lete lete apne Lund ko pyar se sehlaate sehlaate yeh soch raha tha ke mera Lund bhi kitna lucky hai jise “TEEN DEVION” ki teen kunwari tight chooton ko chodne aur unki choti chooton ki seal todne ka moka mila tha wah teri bhi kismet hai re .

Ritu bedsheet washing room mai dal ke wapas ayee to mai ne usko kiss kia aur uske kapde utar diye aur uski chuchion ko choosa aur choot ko apne hatho se sehlaaya aur usko next programme samjha dia aur bola ke ab bathroom mai chalo mai bhi aata hu aur ham teeno mil ke shower lenge.

Ritu nangi hi bathroom mai chali gayee jise dekhte hi Shalu muskuraane lagi aur boli ke chal ander aa ja aur garam garam

pani se meri choot kis sikaayee kar aur dho daal to Ritu shower ke neeche aa gayee aur apni hatho se Shalu ki choot ko sabun lagaya aur pyaar se dhone lagi aur garam garam pani se uski suji hui choot ki sikayee karne lagi. Garam garam pani choot mai lagne se Shalu ki choot kuch shant padne lagi thi aur ab usko Ritu ke hath ka maza aane laga tha. Mai bhi nanga hi bathroom mai ghuss gaya aur dekha ke Ritu bade pyar se Shalu ki choot ko dho rahi hai aur bade pyaar se sehlaa rahi hai aur Shalu ki aankhein ek baar phir se masti mai band ho gayee hai to mai foran samajh gaya ke aakhir dono hai to Lesbian hi na ladki ka hath ladki ki choot pe lage to maza aana hi tha mai yeh soch ke muskurata hua shower ke neeche aa gaya. Shower ke neeche aate hi Shalu ne aankh kholi aur mujhe nanga shower ke neeche dekha to boli ab kia karne aaye ho yaha thoda wait nahi kar sakte the kia to mai ne kaha ke mera Lund bhi to subah se busy tha aur thakk chuka hai ise bhi garam pani se dhone ki zaroorat hai aur mai ne apni gand aage kar ke Lund ko Shalu ke saamne kar dia aur bola ke chalo ise bhi dho dalo is pe tumhari kunwari choot ki seal tootne ka khoon laga hai to wo pehle to Ritu ki mojudgi mai sharmayee phir aakhir Lund ko padak ke sabun laga ke khoon aur malai dono ko ragad ragad ke dhone lagi. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai. Uska hath lagte hi mere Lund mai ek nayee jaan si aa gayee aur Lund phir se jhatke maarta hua khada hone laga jise Ritu hairat se dekhne lagi aur bina kuch signal diye apne hath mai le ke dabane lagi aur phir Shalu ke samne kar dia aur boli ke lo didi ise tum hi sambhalo ab iska ilaj tum hi karo to Shalu meri taraf hairat se dekhne lagi aur Lund ko daba ke muskurate hue boli key eh to phir se khada ho raha hai to mai ne kaha ke yeh bhi tumhari mast makkhan jaisi choot ka deewana ho gaya hai aur tumhari choot ko dekhte hi khda ho ke salute karne laga hai to wo Lund ko aur zor se daba ke boli ke bade shaitan ho tum abhi chudai karke ji nahi bhara tumhara to mei ne kaha mujh se kia puch rahi ho aur apne Lund ki taraf ishara kar ke kaha ke isi se puch lo ke iska ji tumhari masti chikni choot se bhara hai ya nahi to wo kuch nahi boli bas Lund ko ragad ke dhone lagi..

Ritu ne Shalu ke hath se mere Lund ko apne hath mai le lia aur pyar se sehlane lagi aur thodi der aise hi dabane ke bad mere Lund ko pakde hue dheere se direction change kia aur neeche baithi hui Shalu ke muh ki taraf Lund ka supada kar dia to Shalu ghusse se Ritu ko dekhne lagi to Ritu ne mere Rocket ki tarah se khade hue Lund ki taraf ishara kar ke kaha Didi ise to dekho yeh aaj subah se hi busy hai aur ismai se ek bucket jitni

malai nikal chuki hai aur phir bhi kaiseMissile ki tarah se khad hai jaise firing ke liye tayyar ho to Shalu hans padi aur boli ke aise Missile se tu hi khel mujhe nahi chahiye aisa Missile. Ritu boli ke Didi aap bhi thoda sa taste kar lo na aur mai ne bhi apni gand ko thoda aage kar ke Lund ko Shalu ke muh ki or push kia Lund Shalu ke muh se lag gaya par usne muh nahi khola to mai ne uske sar ke peeche apne hath se pakad ke dhakka mara to uska muh khul gaya aur lund uske muh mai ghuss gaya jise usne thodi der ke bad choosna shuru kia. Meri malai to abhi nikalne wali nahi thi isi liye mai ne socha ke thodi der Shalu mere Lund ko choos le phir Ritu se chuswaunga.

Thodi der ke bad mai ne Shalu ke muh se apna Lund nikal lia aur Ritu ko neeche bitha dia aur uske muh mai de dia jise wo ab meri gand pe hath rakh ke apni or khechte hue bade maze se kisi meethe lolly pop ki tarah choosne lagi. Ritu mere Lund ko aise choos rahi thi jaise wo ek hi din mai expert ho gayee ho. Ritu ghutno ke bal baithi Lund choos rahi thi aur mai apni gand aage peeche kar ke uske muh ko chod raha tha. Ab mai ne shower band kar dia tha aur dono Shalu aur Ritu bathroom ki shower tray mai deewar se peeth lagaye apne apne pair lambe karke baithe the aur ab mai ne undono ke pairo ko apne pairo ke beech kar lia aur ab mera Lund dono ke muh ke beeche mai aise lehra raha thaa jaise koi naag saanp sapere ke biin bajaane se lehra raha hai. Lund ke dande ko apne hatho se pakad ke dono ke Gallo (cheeks) ko dheere se mara. Lund mei se jo pre cum nikal raha tha wo dono ke gaal pe laga. Ab phir se mai ne apne masti mai lehraate Lund ko shalu ke muh mai thoss dia aur uska muh chodne laga. Yeh kahani The Great Warrior ki likhi hui hai. Thodi der ke bad ushe muh se Lund ko nikal ke Ritu ke muh mai ghused dia to wo aise choosne lagi jaise kisi chote bache ko bohot dino baad lolly pop mila ho badi be sabri se choosne lagi aur bina mere uske muh ko chode hi wo mere Lund ko apne halak tak le rahi thi jis se mere Lund ka chikna supada ek dum se sensitive ho gaya tha. Ritu ke choosne ka style itna mast tha ke mujhe thodi hi der mai lagne laga ke ab meri malai nikal jayegi. Itna maza kisi ke choosne mai bhi nahi aaya tha jitna ab Ritu ke choosne se aa raha tha. Aur hua bhi yehi mera Lund out of control ho gaya aur aise laga jaisa Lund ki malai mere sare badan se nikal rahi ho aur uchal ke Ritu ke halak mai pehle shot gira to mai ne jaldi se Lund ko uske muh se khech lia abhi uski aankhein hairan hi thi ke mai ne lund kyon nikal lia, mai ne apne Lund ko badi tezi se Shalu ke muh mai ghused dia aur yeh uske liye achanak hua tha

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

kaamuk kahaaniyaan

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

kramashah........


raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: तीन देवियाँ

Unread post by raj.. » 06 Dec 2014 09:23

तीन देवियाँ पार्ट -14

गतान्क से आगे..................

इसी लिए उसका मूह खुल गया और मलाई का नेक्स्ट शॉट शालु के मूह मे गिरा और फिर शालु के मूह से भी लंड को खेच के निकाल लिया और बारी बारी दोनो की नंगी चुचिओ पे मलाई की धार मारने लगा. गरम गरम मलाई की मोटो मोटी धारियाँ दोनो की चुचिओ पे पड़ी थी. जैसे ही मेरे लंड से मलाई निकलना बंद हो गयी मैं ने अपने लंड को ऋतु की छोटी सी लाइट ब्राउन निपल पे रगड़ा फिर शालु की गुलाबी निपल पे लंड के सूपदे को रगड़ा और अपनी क्रीम को उन दोनो की चुचिओ पे स्प्रेड कर दिया जैसे डबल रोटी (ब्रेड) पे क्रीम, जाम या क्रीम स्प्रेड की जाती है.

शवर खोल के हम तीनो ने एक साथ ही स्नान किया एक दूसरे को खूब साबुन लगा के रगड़ रगड़ के नहाए. अब शालु की शरम भी ख़तम हो गयी थी. वो भी नंगे ही कंफर्टबल फील कर रही थी. स्नान करने के बाद हम तीनो बाथरूम से बाहर आए और टवल से अपना बदन ड्राइ किया. अब बारिश रुक चुकी थी पर अभी भी बारिश की वजह से ठंड पड़ रही थी पर हमारा कमरा गरम था और मैं भी गरम था अपने सामने दो दो मक्खन जैसी नंगी और चिकनी चिकनी चूतो को देख के मेरा लंड भी गरम हो गया था ऐसा लगता था के आज ओवरटाइम करने को रेडी हो..

अब हम तीनो को कुछ भूक लगने लगी थी तो मैं ने ऋतु से बोला के ऋतु ज़रा नीचे से जा के कुछ खाने को और पीने को जूस या कोक तो ले के आजा मुझे पता था के शालु को कोक इतना पसंद था के अगर वो सोई हुई भी हो और उस से पूछा जाए के शालु कोक पिएगी तो वो बेड से उठ जाएगी और कोक पीक फिर से सो जाएगी यह सुनते ही शालु बोली के मेरे लिए तो कोक ही ला ले ऋतु.

ऋतु नीचे गयी और थोड़े से चॉक्लेट्स, थोड़े से केक, कुछ ड्राइ फ्रूट्स और क्रीम बिस्किट्स और कोक और दूसरे ड्रिंक्स ले के आ गयी और प्रोग्राम के मुताबिक ऋतु ने कोक की बॉटल मे आधी के करीब विस्की मिला दी थी यह सब ले के वो ऊपेर आ गयी और हम तीनो बैठ के खाने और पीने लगे. मेरे लिए तो एप्पल जूस था और ऋतु और शालु ने कोक ही लिया. मैने अपनी उंगली मे चॉक्लेट केक्स के ऊपेर से चॉक्लेट की क्रीम निकाल के ऋतु की दोनो चुचिओ पे लगा दिया और एक चुचि को मूह मे ले के चूसने लगा तो दूसरी चुचि को शालु ने अपने मूह मे ले के चूसना शुरू कर दिया. ऋतु ने अपने हाथ मे खूब बोहोत सारी चॉक्लेट क्रीम ले के शालु के पेट और चूत पे मलना शुरू कर दिया तो शालु ने अपनी टाँगें चौड़ी कर के उसको क्रीम लगाने मे सहायता दी. ऐसी ही मस्ती करते करते हम कुछ खाने और पीने लगे. शालूने कोक की बॉटल अपने मूह से लगाई और एक ही घूँट मे आधी से ज़ियादा बॉटल कोक की पी गयी और मूह अजीब सा बनाते हुए बॉटल मूह से निकालते हुए बोली के हे ऋतु यह कैसा कोक है री कही खराब तो नही हो गया कैसा अजीब टेस्ट है इसका कब से फ्रिड्ज मे रखा हुआ है तो उसने बोला के नही दीदी यह तो कल ही लाए है बाज़ार से कोक को तो कुछ भी नही हुआ अछा ही है और मुस्कुराते हुए बोली के हो सकता बाबू के लंड से निकली मलाई खाने से आपका मूह का टेस्ट कुछ चेंज हो गया होगा तो उसने कुछ बोला नही और बॉटल उठा के एक और लंबा घूँट भरा और बोली के कुछ टेस्ट अजीब ज़रूर है पर है बड़ा मज़े दार और देखते ही देखते शालु ने बॉटल को खाली कर दिया उसे क्या पता था के वो कोक और शराब का मिक्स्चर पी रही है.

ऋतु ने पूछा दीदी और लाउ की कोक ? तो शालु बोली के हा प्लीज़ ऋतु एक और बॉटल ले का आजा ना तो ऋतु फिर से नीचे गयी और एक बॉटल मे आधी विस्की मिक्स कर के ऊपेर ले के आगयी. ऋतु के ऊपेर आने तक मे शालु को बेड पे लिटा के उसके चूत पे से चॉक्लेट क्रीम चाटने लगा था और शालु भी अब फुल मस्ती मे आ गयी थी शाएद शराब का नशा चढ़ रहा था जिसकी वजह से वो अब अपनी चूत की चुसाई का भरपूर मज़ा ले रही थी और अपने टाँगें मोड़ के मेरे सर पे हाथ रखे अपनी चूत मे मेरे मूह को घुसा रही थी और रगड़ रही थी और अब वो बोलने लगी थी के आआहह राआज्जजज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज्ज बोहोततत्त माआज़्ज़ाआआआआ आआआआआआअ हह र्र्राअह्ह्ह्हाआ हहाआऐईईईईईई आआआआईईईई और सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्

स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स की आवाज़ के साथ ही अपनी गंद को बेड से 2 फीट ऊपेर उठा के मेरे मूह मे चूत रगड़ते हुए झड़ने लगी उसकी आँखें बंद हो गयी थी उसकी चूत की पंखाड़िया तो पहले से गुलाभी थी ही और अब अंदर से एक दम से लाल हो गयी थी.

थोड़ी देर के बाद उसने आँखें खोली और देखा के ऋतु ऊपेर आ चुकी है तो वो बेड से उठी पर नीचे फ़राश पे पैर रखते ही लड़-खड़ा गयी और गिरते गिरते बची और बोली के यह मुझे क्या हो रहा है मेरा सर क्यों घूम रहा है तो ऋतु बोली के दीदी तुम इतने टाइम झाड़ चुकी हो ना इसी लिए शाएद वीकनेस महसूस हो रही होगी आओ और कुछ केक और बिस्किट्स खा लो तो शाएद ठीक हो जाओगी तो वो आके बैठ गयी और केक और ड्राइ फ्रूट्स खाने लगी और अब कोक की बॉटल से धीमी धीमी चुस्कियाँ लेती रही और बोली के ऋतु यह कोक का टेस्ट भी वैसा ही है तो ऋतु मुस्कुरदी पर कुछ बोली नही. हम तीनो नंगे ही एक दूसरे के साथ मस्तियाँ कर रहे थे.

अब शालु को शराब का नशा चढ़ रहा था तो वो ऋतु से बोली के हे ऋतु राज ने तुझे भी चोदा क्या तो ऋतु हंस पड़ी और बोली के दीदी अभी तो मैं हंस रही हू पर सुबह जब मुझे चोदा था ना तब मैं बोहोत रोई थी तो शालु ने नशे मे झूमते हुए मेरी तरफ इशारा करते हुए कहा के हा जब इस ने मुझे चोदा था ना तब मुझे भी बोहोत तकलीफ़ हुई थी पर अब चूत के अंदर अछा लग रहा है.

अब शालु शराब के नशे मे एक दम से फ्री बात कर रही थी. ऋतु ने बोला के दीदी राजा बाबू ने आज मेरी गंद भी मारी और मुझे बोहोत दरद हुआ तो शालु बोली के हा हुआ होगा अभी तू छोटी है ना और तेरी गंद भी छोटी है और यह साले का लंड घोड़े जैसा है इसी लिए तुझे दरद हुआ होगा तो ऋतु बोली के दीदी मुझे यकीन है के यह लंड जब तुम्हारी गंद मे घुसे गा तो तुम्हारी भी गंद फॅट जाएगी तो वो नशे मे झूलते हुए अपने सीने को ठोकति हुई बोली के चल हट साली तू क्या समझती है मुझे. मुझे अब कुछ भी दरद नही हो सकता मैं एक टाइम इसी लंड से चुद चुकी हू और मेरी सील टूट चुकी है अब मुझे तकलीफ़ नही होगी तो ऋतु बोली के नही दीदी सच मे तुम्है भी दारद होगा. यह एक ट्रिक थी जिस से शराब के नशे मे धुत्त आदमी सब कुछ करने को और करवाने को रेडी हो जाता है. शालु बोली चल इसी बात पे लगा ले शर्त मुझे कुछ नही होगा तो ऋतु बोली के बोलो दीदी क्या शरत लगओगि तो शालु बोली के मेरी गंद मारने के बाद तू भी अपनी गंद मरवाएगी तो ऋतु बोली के ठीक है दीदी चलो कोई बात नही अब आप आ जाओ बेड पे. इतनी देर मे शालु को नशा चढ़ने लगा था.

शालु नशे मे झूमते हुए खड़ी हो गयी और बेड की तरफ हाथ से इशारा करते हुए बोली चल साले राज किधर है तू भेन्चोद आ जा और मार मेरी गंद मैं भी देखती हू तेरी गंद मे कितना दंम है भेन्चोद चूतिया साला ज़रा लंड बड़ा क्या है नखरे करता है ऋतु की गंद मार के खुश है साला. ऋतु की गंद मार के खुश है साला आजा अब मेरी गंद मार मैं भी देखती हू तेरे लौदे मे कितना दम है साले ज़रा लौदा बड़ा और मोटा है तो बोहोत नखरे दिखा रहा है भेन्चोद पर तुझे क्या मालूम शालु की गंद मे कितना दंम है तेरे जैसे लौदे से शालु डरने वाली नही समझा मादर चोद शालु भी किसी रंडी से कम नही चल आ जा साले क्या समझता है अपने आप को तेरे जैसे दो दो लौदे भी आ जाए तो शालु का कुछ नही बिगाड़ सकते एक चूत मे ले लूँगी और एक गंद मे आराम से डलवा के गंद मर्वाउन्गि चल आ भेन्चोद तेरी भेन को चोदु चल इधर आ साले. वो नशे मे धुत्त थी और गालियाँ निकाल रही थी और कंटिन्यू एक ही बात बोल रही थी और अपनी गंद मारने को बोल रही थी.

ऋतु उसकी ज़ुबान से ऐसे गलियाँ सुन के हैरान रह गयी थी और मुस्कुराते हुए बोली के अछा दीदी ऐसा करते है मैं बेड पे लेट जाती हू और तुम मेरे ऊपेर आ जाओ और हम थोड़ी देर एक दूसरे की चूते चाटेंगे और जब तुम मस्ती मे चूर हो जाओ तो राजा बाबू तुम्हारी गंद भी मार देंगे आज आओ और ऋतु नंगी बेड पे अपने पैर फैला के लेट गयी और साथ ही शालु भी बेड पे चढ़ गयी और ऋतु के साथ डाइरेक्ट 69 की पोज़िशन मे आ गयी. ऋतु नीचे पीठ के बल लेटी थी. शालु उसके बदन के दोनो तरफ घुटने मोड़ के पर्फेक्ट 69 पोज़िशन मे आ गयी. शालु घोड़ी बनी ऋतु के ऊपेर थी. मैं भी की जेल्ली का ट्यूब अपने हाथ मे ले के बेड पे चढ़ गया.

मेरा लंड तो शालु के मूह से ऐसी गालियाँ सुन के और एक और नयी गंद मारने के ख़याल से खुशी मे झूम रहा था और कुछ ज़ियादा ही अकड़ गया था और लोहे जैसा सख़्त हो चुका था और स्प्रिंग की तरह से हिल हिल के शालु के ब्रांड न्यू कुँवारी गंद को सल्यूट कर रहा था और ऐसे पिंक मस्त गंद देख के मेरे लंड के मूह से लार भी टपकने लगी थी. ऋतु अपने हाथो को शालु के चूतदो पे रख के नीचे अपनी ओर खेच के शालु की चिकनी चूत को चूसने लगी और शालु अपना मूह ऋतु की चूत मे घुसा के उसकी चूत को चाटने लगी दोनो मज़े से सिसकारिया ले रहे थे. शालु की खुली हुई टाँगो के बीच मे से उसकी चिकनी चूत की पंखाड़िया किसी नारंगी की फाँक की तरह से फूली लग रही थी जिसमे से रस भी टपक रहा था जिसे ऋतु बड़े मज़े से चाट रही थी. ऐसे ही चाट ते चाटते दोनो मस्तियाँ कर रहे थे और थोड़ी ही देर मे शालु अपने पैर सीधे कर के ऋतु के ऊपेर लेट गयी पर ऋतु के पैर अभी भी घुटनो से मुड़े हुए थे और वो शालु का सर पकड़ के अपनी चूत मे घुसा रही थी और उसी तेज़ी से शालु की चूत को भी चाट रही ही. शालु फुल मस्ती मे आ चुकी थी और उसकी टाइट गोरी गांद का गुलाबी छेद मेरे लंड को अंदर आने की दावत दे रहा था. शालु अपनी गंद उठा उठा के ऋतु के मूह को चोद रही थी और इसी पोज़िशन मे उसके चूतड़ खुल बंद हो रहे थे.

मैने जेल्ली के डिब्बे को बेड पे रख दिया और शालु के पीछे अपने घुटने मोड़ के उसके ऊपेर बैठ के पीछे से ही उसकी खुली चूत मे अपने लंड के सूपदे को रगड़ने लगा और ऋतु अब शालु की चूत और मेरे बॉल्स को अपनी ज़ुबान से चाट रही थी. शालु अपना मूह पीछे मोड़ के मेरे से बोली क्या देखता है साले भेन्चोद मार शालु की गंद चल घुसा दे तेरा मोटा लौदा मेरी गंद मे. मैं सोच रहा था के अभी तो मैं झड़ने

वाला नही हू तो क्यों ना पहले उसको थोड़ी देर पीछे से ही चोदु. मेरे लंड मे से प्री कम निकल रहा था और शालु की गीली चूत मे लग रहा था. शालु की चुचियाँ इतनी मस्त थी के ऐसी पोज़िशन मे लटक भी नही रही थी एक दम से टाइट थी तो मैं अपने हाथ उसके चुचिओ पे रख के दबाने और मसल्ने लगा जिस से वो कुछ और जोश मे आ गयी और अपनी गंद को पीछे धकेला तो मेरे लंड का मोटा सूपड़ा उसकी चूत के सुराख मे अटक गया. अभी मई धक्का मारने का सोच ही रहा था के शालु ने अपनी गंद को पीछे कर के एक और धक्का मारा तो मेरा तकरीबन आधा लंड उसकी गीली चूत मे घुस्स गया. ऋतु अब मेरे लंड के डंडे को और शालु की चूत दोनो को अपनी ज़ुबान लगा के चाट रही थी. मैने उसकी चुचिओ को पकड़ के और अपने लंड को उसकी चूत से पूरा बाहर निकाल के एक ज़ोर का धक्का मारा तो शालु के मूह से आआआययययययययययईईईईईईई निकल गया और मेरा मूसल लंड उसकी खुली चूत मे पूरे का पूरा जड़ तक अंदर घुस्स गया. मैं शालु के बदन पे लेट गया और अब मैं उसके शोल्डर्स को पकड़ के लंड को उसकी चूत से पूरा बाहर निकाल निकाल के चोद रहा था ऐसे पोज़िशन मे मेरा लंड शालु की टाइट चूत मे पूरे का पूरा अंदर तक घुस्स रहा था. शालु अब मज़े से चुदवा रही थी. शालु नशे मे धुत्त थी और चूत मे लंड का मज़ा और ऋतु की ज़ुबान का मज़ा ले रही थी और आआआअहह ईईईईईहह जैसी आवाज़ें निकाल रही थी. अब मेरे धक्के के साथ साथ शालु भी अपनी गंद आगे पीछे कर के मेरे धक्को की ताल से ताल मिला रही थी और चुदाई का मज़ा ले रही थी.

कमरे मे चुदाई का एक मधुर सुर संगीत बज रहा था. शालु फुल जोश मे आ गयी थी और ऋतु की पूरी चूत को अपने मूह मे ले के काट डाला जिसे से ऋतु ने आआआआआग्ग्ग्ग्घ्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह और हहाआआआआईईईईईईई दीदी बोल के एक चीख मारी और शालु के सर को अपनी जाँघो मे दबा के पकड़ लिया और हिलते हुए झड़ने लगी. ऋतु की चूत से निकलते जूस को शालु पीती रही और अपनी गंद आगे पीछे कर के डॉगी स्टाइल मे मेरे लंबे मोटे मूसल जैसे तगड़े लंड से मस्त चुदाई का मज़ा लेने लगी. देखते ही देखते उसके धक्के तेज़ होने लगे और बोलने लगी देखा साले भेन्चोद कैसे तेरे मोटे लंड को शालु ने अपनी गंद मे कैसे आराम से ले लिया चल मार गंद मेरी मादर चोद देख अब मुझे भी मज़ा आ रहा है. उसको इतना भी होश नही था के मैं उसकी गंद नही चूत मार रहा हू. आअहह ऐईइस्स्सीई हिी माअरर्र्ररर मेररीई गाआआअंन्दड़ सॅयाययाल्लीयीईयी आआआआआहह फ्फूकककककककक म्‍म्म्मय्यययी आआआसस्स्स्सस्स य्य्य्य्य्य्युउउउउउउ

ब्ब्ब्बबाअस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्थथत्त्ताआरर्र्र्द्द्द्द्द्द्द्द्द्द्द्दद्ड फफफफफफुऊऊुुऊउक्ककककककककककककक म्‍म्मीईए आआआाआआइईईईईई आआआआहह म्‍म्म्ममममाआररर्र्र्र्ररर आआआआयययययययईईईसस्स्स्स्स्स्स्स्सीईईईई हहिईीईईईईईईईई और एक ज़ोर का बॅकसाइड धक्का मारा और झड़ने लगी. मेरा लंड उसकी चूत मे जड़ तक घुसा हुआ था उसकी बच्चे दानी से टकरा रहा था. शालु झाड़ते ही चली गयी और आआआग्ग्ग्ग्ग्ग्ग्घ्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह की आवाज़ें निकालती ऋतु के बदन पे अपनी टाँगें पीछे की तरफ लंबी कर के ढेर हो गयी.

अब शालु और ऋतु दोनो अपनी अपनी टाँगें सीधी रखे लेटे थे दोनो झाड़ चुके थे और मस्ती मे दोनो की आँखें बंद हो चुकी थी दोनो गहरी गहरी साँसें ले रहे थे और दोनो के मूह एक दूसरे की चूत के पास रखे हुए थे. उनकी नाक से निकलती गरम गरम साँसें गीली गीली चूतो से टकरा रही थी. शालु के ऐसे कोलॅप्स हो जाने से मेरा लंड भी उसकी चूत से बाहर निकल चुका था. अब मैने पोज़िशन थोड़ी सी चेंज कर के फिर से उसकी चूत के सुराख से अपने लंड का सूपड़ा टीका दिया और मैने भी अपनी टाँगें उसकी टाँगो के दोनो तरफ रख के पीछे कर के एक धक्का मारा और लंड एक बार फिर से आधा शालु की चूत मे अंदर तक घुस गया और लंड को पूरा बाहर निकल के एक और धक्का मारा तो घचक के साथ ही पूरे का पूरा लंड उसकी चूत मे घुस्स गया. शालु तो ऋतु के ऊपेर ऐसे ही पड़ी थी और मेरा लंड उसकी चूत मे घुसा हुआ था अब मैं धीरे धीरे पीछे से ही उसकी चूत मे धक्के मार के चोदने लगा. अब शालु अपने ऑर्गॅज़म से बाहर निकल चुकी थी और बोली के देख साले में ने कितनी आसानी से तेरा लंड अपनी गंद मे ले लिया भेन्चोद ऋतु की गंद मार के खुश हो रहा था तो मैं ने बोला के शालु मेरी जान मेरा लंड तो तुम्हारी चूत मे है गंद मे नही मैं तुम्है चोद रहा हू गंद नही मार रहा हू अभी. गंद तो अब मरूगा मैं तुम्हारी तो वो बोली के भेन्चोद फिर से चूत मे घुसा दिया साले चल चूत से लंड निकाल निकाल और डाल मेरी गंद मे. मैं ने बोला के ठीक है और उसकी गान्ड के सुराख मे की जेल्ली का ट्यूब रख के खूब सारी जेल्ली डाइरेक्ट उसकी गंद मे डाल दिया और थोड़ी उसके गंद के सुराख पे अछी तरह से लगा दिया और उंगली उसकी गंद के अंदर बाहर करने लगा जिस से उसकी गंद के मसल्स कुछ रिलॅक्स होने लगे थे फिर अपने लंड पे ढेर सारी जेल्ली लगा लिया और अपने हाथ से ही लंड के डंडे को पकड़ के उसके गंद के सुराख मे आगे पीछे करने लगा. इतनी देर मे ऋतु और शालु एक बार फिर से मूड मे आ गये थे और दोनो ने एक दूसरे की चूतो को

चाटना और चूसना स्टार्ट कर दिया था इस टाइम शालु के पैर पीछे की ओर स्प्रेड कर के सीधे रखे थे और ऋतु के पैर थोड़े से मुड़े हुए और स्प्रेड किए हुए थे. शालु मस्ती मे बोल रही थी चल साली चूस मेरी चूत को आआहह काअट डाल साली चूत को इस मे आग लगी हुई देखती नही तेरे चाटने के लिए अभी अभी झांतें निकाल के आई हू देख मदेर्चोद कैसी चिकनी है मेरी चूत चल चाट काट डाल साली मेरी चूत को आआआआअहह है आआयईईए ले ले पूरी चूत अपने मूह मे और दांतो से काट डाल भेन्चोद देख मैं कैसे काट ती हू तेरी चूत को और शालु ने फिर से ऋतु की चूत को दांतो से काट डाला तो ऋतु के मूह से चीख निकल गयी ऊऊऊऊऊऊीीईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईई द्ददडिईईयययद्द्द्दडिईईई माररररर ग्गगाआआयययययययईईई तो शालु बोली के साली तेरी मस्त चूत को चूसने और काटने मे बोहोत मज़ा आता है आअहह क्या मस्त चूत है तेरी और इसी तरह की नशे मे गालियाँ निकालती ऋतु की चूत को चाट ती रही दोनो मज़े से एक दूसरे की चूते चाट ते रहे.

मैं शालु के ऊपेर था और शाएद मेरे वेट की वजह से भी उसके पैर नही मूड रहे थे और सीधे ही रखे थे और मैं अपने घुटने मोड़ के उसकी गान्ड से अपने लंड के सूपदे को सटा के आगे पीछे कर रहा था. अभी लंड का सूपड़ा उसकी गंद मे नही घुसा था लैकिन प्रिपेर कर रहा था के उसकी गंद के मसल्स रिलॅक्स हो जाए.

मैं शालु के ऊपेर झुका हुआ था और उसके शोल्डर्स को पकड़ के और उसकी गंद के सुराख पे अपने लंड के सूपदे को रख के एक ही झटका मारा जिस से लंड का सूपड़ा जो कि जेल्ली की वजह से चिकना और स्लिपरी हो गया था अंदर घुस्स गया और शालु किसी मछली की तरह से तड़प के 2-3 फीट आगे की ओर उछल गयी और मेरी तरफ अपना मूह कर के चिल्लाई आआआआआआआआईईईईईईईईईईईईईई क्या कर रहा है बे भेन्चोद तेरी मा का भॉड़सा समझा है क्या आराम से मार गंद मेरी मदर्चोद फ्री की गंद मिली तो भिकारी की तरह से टूट पड़ा साले धीरे से मार साले तेरी भेन की गंद भी ऐसी ही मारी थी क्या. शालु के उछल पड़ने से मेरा लंड भी उसकी गंद मे से बाहर निकल गया था. इतने मे ऋतु ने शालु की चूत पे चुम्मा लिया और अपनी ज़ुबान लगाई तो वो अपनी जगह पे वापस आ गयी और ऋतु के मूह पे अपनी चूत रगड़ रगड़ के चोदने लगी. शालु की चिकनी गंद बड़ी मस्त दिख रही थी उसके गोल गोल चूतड़ पे हाथ फेरने लगा और थोड़ी और जेल्ली उसकी गोरी गंद के गुलाबी छेद मे लगा दी और कुछ और पे लंड पे भी लगा दी और जैसा के मेरी आदत है एक ही झटके मे चूत या

गंद फाड़ने की तो उसी आदत के मुताबिक मैं तय्यार हो गया और चान्स देखने लगा के कब फाडू उसकी गंद और वो चान्स भी जल्दी ही मिल गया.

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

कामुक कहानियाँ

--------------------------------------------------------------------------------------------------------

क्रमशः........