Holi sexi stories-होली की सेक्सी कहानियाँ

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
The Romantic
Platinum Member
Posts: 1803
Joined: 15 Oct 2014 17:19

Re: Holi sexi stories-होली की सेक्सी कहानियाँ

Unread post by The Romantic » 24 Dec 2014 09:13


मेरे बॅकयार्ड गार्डेन मे कई छोटे बड़े ट्रीस थे और फेन्स भी हाइ वॉल की थी इसी लिए पड़ोसिओं को पता नही चलता था के यहा कौन है और क्या कर रहा है. यह बॅकयार्ड गार्डेन मे एक कॉट (पलंग) भी पड़ा हुआ था और कुछ गार्डेन चेर्स भी. कभी शाम के टाइम मैं और मेरी वाइफ यहा आ के बैठ ते थे और टी कॉफी वाघहैरा हम यही पीते थे. कभी कभी उस कॉट पे चुदाई भी किया करते थे.
मैं ने दूर से ही उसपे थोड़ा सा रंग फेंका मगर उसपे गिरा नही वो हंसते हुए फिर से भागने लगी.
मैं उसके पीछे भगा और अल्टिमेट्ली उसको अपनी बाहों मे जाकड़ ही लिया. वो मेरी बाहों से बाहर निकलने के लिए मचलने लगी लैकिन मेरी टाइट ग्रिप से निकलना मुश्किल था.
मैं ने उसको पीछे से पकड़ा हुआ था और वो मेरे रंग लगाने से बचना चाहती थी और आगे को झुकी जा रही थी और
अपने मूह पे हाथ रख लिए ताके मैं उसके मूह को कलर ना लगा सकु और अपने कोहनी ( एल्बो ) से अपने बूब्स को प्रोटेक्ट करने लगी. इसी रेज़िस्टेन्स मे उसके मूह पे थोड़ा सा कलर लग ही गया. वो मेरी बाहो से निकलने को मचल रही थी लैकिन मेरे पवरफुल ग्रिप से निकल नही पा रही थी और कंटिन्यू हँसती जा रही थी.
जब मैं रंग लगा रहा था तो मेरे हाथ उसके बूब्स पर भी लग रहे थे. झुकने से उसकी लूज टी-शर्ट मे से बूब्स लटक रहे थे. मुझे मौका मिला तो मैं ने उसके बूब्स को भी दबा दिया और ज़ोर ज़ोर से मसल ने लगा. आअहह क्या बूब्स थे साली के. जैसे बड़े साइज़ का आपल. मेरे हाथ लगने से उसके निपल्स एरेक्ट हो गये थे. वो हस्ती जा रही थी और मेरी बाहो से निकलने को मचल रही थी और मैं उसके सेब जैसे मम्मो को मसल रहा था. वाह क्या मज़ा आ रहा था उसके बूब्स को मसल्ने मे. मेरा लंड तो पहले से ही खड़ा हो गया था अब और तंन गया था और उसकी गंद को टच कर रहा था.
मुझे एक नया आइडिया आया और थोडा सा रंग ले के उसके बूब्स को लगाने लगा और साथ मे मसल्ने भी लगा शी हॅज़ बीन रेज़िस्टिंग सेयिंग ओह वॉट आर यू डूयिंग जीजू, छोड़ो ना जीजू प्लीईआसए अब बॅस भी करो. लीव मी जीजू प्लीईएआसए शी हॅज़ बीन लाफिंग आंड रेज़िस्टिंग लैकिन मैं उसके मस्त मम्मो को दबाता ही रहा कंटिन्यूवस्ली.
मैं रंग लगाता ही जा रहा था और साथ मे ऐसी गोलडेन ऑपर्चुनिटी मिलने पर उसके वंडरफुल गदराए हुए फ्रेश बूब्स की मालिश भी कर रहा था. मेरे हाथ उसके बूब्स और पेट पे फिसल रहे थे. ओह जीजू कम ऑन फिनिश इट प्लीईआसए . अब बॅस भी करो ना प्लीईआसस्ससी वो मेरी मिन्नते करने लगी. वो आगे को झुकी हुई थी ( पोज़िशन ऐसी थी जैसी मैं उसकी गंद मार रहा हू ) और मेरे रंग लगाने से और उसके बूब्स को मसल ने से बचने की कोशिश कर रही थी और साथ मे मिन्नते भी कर रही थी प्लीईएअसससे जीजू लीव मी नाउ. अब छोड़ दो ना जीजू क्या कर रहे है आप.
मुझे उसके बूब्स मसल्ने का बोहोत मज़ा आ रहा था. मेरे लंड ने टवल मे टेंट बना दिया था और फुल तंन गया था और उसकी गन्ड के छेद को टच कर रहा था. विदाउट नोयिंग के मैं क्या कर रहा हू, मैं आगे पीछे हो के उसकी गंद पे अपने तने हुए लंड से धक्के मारने लगा.
जैसे ही उसको मेरा लंड उसकी गंद मे महसूस हुआ वो एक दम से चौंक गई और हैरत से पलट के मुझे देखने लगी के यह मैं क्या कर रहा हू. हम दोनो की इसी खेचाम तानी मे
मेरा टवल लूज हो गया था और जब वो मेरी बाहो से निकली और पलट के देखा तब तक मेरा टवल ज़मीन पे गिर छुआ था और मेरा लंबा मोटा लंड स्प्रिंग के जैसा ऊपेर नीचे हो रहा था. ऐसे हिल रहा था जैसे अब लंड को पता हो के उसे एक नई चूत मिलने वाली है और लंड नई चूत को प्रणाम कर रहा हो.
मेरी हालत कुछ अजीब सी हो रही थी. मैं अपनी प्यारी साली सोनिया के सामने अपना लंबा मोटा जोश मे हिलाता हुआ लंड लिए खड़ा था. वो मुझे इस हालत मे देख के अपने मूह पे हाथ रख के ज़ोर ज़ोर से हस्ने लगी. जब मैं ने नीचे अपने लंड को आकड़े और हिलते देखा तो मैं भी सोनिया के साथ हस्ने लगा.
जब सोनिया ने मेरा लंबा मोटा हिलता हुआ लंड देख ही लिया है तो मैं ने भी अपने लंड को छुपाने की कोशिश भी नही की और ज़रूरत भी नही समझी. मैं आगे बढ़ा और उसको फिर से अपनी बाहो मे लेना चाह रहा था तो वो प्लीडिंग करने लगी के बॅस अब और नही. प्रॉबब्ली सोच रही होगी के उसकी सिस्टर आ जाएगी तो अछा नही होगा. ळैकिन मैं ने उसकी एक ना सुनी और उसको अपनी बाहो मे जाकड़ ही लिया और अपने बदन से उसका बदन दबाने लगा. इस पोज़िशन मे मेरा लंड उसकी चूत से टकरा रहा था.

The Romantic
Platinum Member
Posts: 1803
Joined: 15 Oct 2014 17:19

Re: Holi sexi stories-होली की सेक्सी कहानियाँ

Unread post by The Romantic » 24 Dec 2014 09:14


वो मेरी ग्रिप से निकल ने के लिए तड़प रही थी कहती जा रही थी के
जीजू लीव मी जीजू प्लीज़ जीजू दीदी आ जाएगी. जीजू दीदी आ जाए गी प्लीईईआसए लीव मी. यह ठीक नही है जीजू. प्लीईआसए लीव मी अलोन. प्ल्ीएआसए जीजू. अगर दीदी ने हमै देख लिया तो बोहोत बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी प्लीईआसस्सीईए छोड़ो ना जीजू. प्लीज़ लीव मी मैं आपके हाथ जोड़ती हू जीजू पलेयीयेज़.
मैं ने कहा के तुम्हारी दीदी तो घर पे नही है वो अपने फ्रेंड्स के साथ होली खेलने गई हुई है. हो सकता है के रात को किसी टाइम पे वापस आए और अगर देर हो गई तो शाएद कल ही आए. अभी तो इस घर मे हम दोनो ही है और कोई नही है. है वो थोड़ी सी नर्वस और थोड़ी सी कन्फ्यूज़्ड लग रही थी. मेरा बताने पर के उसकी दीदी घर पे नही है तो ऐसा लगा जैसे वो थोडा सा रिलॅक्स हो गई हो उसके चेहरे से दिखाई देता टेन्षन जैसे ख़तम होगया..
अब मैं और अपने आप को कंट्रोल नही कर पा रहा था. मैं ने उसको पकड़ के अपने सीने से लगा लिया. मेरे नंगे बदन पे उसकी बूब्स दब रहे थे. उसके निपल्स मेरे सीने से लग के एक दूसरे के अंदर जैसे एलेक्ट्रिक करेंट दौड़ा रहे थे. और फिर उसके सेनुयल लिप्स को किस करने लगा. यह मेरा पहला किस था सोनिया के साथ. मैं अपनी टंग उसके मूह मे घुसाने लगा
पहले तो वो थोड़ा सा रेज़िस्ट कर रही थी पर थोड़ी ही देर मे उस से भी कंट्रोल नही किया गया और फाइनली उसने अपना मूह खोल ही दिया और मेरी टंग उसकी मूह मे चली गई. वी वर किस्सिंग पॅशनेट्ली टंग सकिंग किस आआहह बोहोत मज़ा आ रहा था उसकी हनी जैसे टंग को चूसने मे.
हम ऐसे ही पॅशनेट किस करते रहे. एक दूसरे की टंग को चूस्ते रहे. मस्ती मे सोनिया की आँखें बंद हो गई. अब उसकी ब्रीदिंग भी हेवी हो रही थी. और इसी बीच मैं अपना हाथ उसके बदन पे घुमाने लगा तभी मुझे फील हुआ के सोनिया ने ब्रस्सिएर नही पहनी हुई है. मैं ने उसकी गंद को पकड़ के अपनी ओर खेचा और उसकी चूत को अपने नंगे तने हुए लंड से मिलाने लगा.
मेरा लंड अब बोहोत ज़ोर से अकड़ गया था और फूल गया था. मैं ने सोनिया की गंद पकड़ के उसके स्लॅक्स की एलास्टिक मे हाथ डाल के उसको नीचे खेचा और धीरे से नीचे कर के उतार दिया और उसकी नंगी चूतड़ को दबाने लगा. पहले तो उसने रेज़िस्ट किया पर थोड़ी देर मे जब वो भी मस्ती मे आ गई तो उसने पॅंट को उतारने दिया. अब उसने भी मुझे ज़ोर से पकड़ लिया था और हम एक दूसरे की टंग्स को सक कर रहे थे.
पॅंट को थोड़ा सा नीचे घुटनो तक उतार के, अपने लेग को ऊपेर उठा के, सामने से उसके स्लॅक मे पैर रख के नीचे दबा दिया तो उसका पॅंट नीचे फ्लोर पे चला गया और उसने कोई माइंड भी नही किया. आअहह उसकी वंडरफुल लव्ली चूत का क्या सीन था. उभरी हुई मलाई जैसी गोरी चूत एक दम से चिकनी लगता था के अभी अभी झटों को साफ किया हुआ है. इतनी प्यारी और डेलिकेट चूत को देखते ही मेरा लंड ज़ोर ज़ोर से हिलने लगा ऊपेर नीचे होने लगा और लंड के मूह मे पानी आ गया.
मेरा फॅन फनता हुआ लोहे जैसा सख़्त क़ुतुब मीनार जैसा लंड उसकी फ्रेश वर्जिन अन-टच्ड चूत को किस कर रहा था. लंड के सूपदे मे से प्री कम निकल के चूत को गीला कर रहा था. उसकी चूत के पतले पतले लिप्स के बीच मे सूपड़ा टीका हुआ था जिस से उसकी चूत बोहोत ही गीली हो गई थी. मैं ने उसके टी-शर्ट के अंदर हाथ डाल के उसके सर के ऊपेर से उसका टी-शर्ट निकाल दिया… अब हम दोनो एक दूसरे के सामने नंगे खड़े थे लंड उसकी चूत से टीका हुआ था. आहह क्या मज़ा आ रहा था.
अब हम दोनो नंगे थे और एक दूसरे को अपनी बाँहो मे ज़ोर ज़ोर से दबा रहे थे. हवा थोड़ी सी ठंडी हो गई थी जिस से सोनिया कापने लगी. मैं ने उसको और ज़ोर से अपने बदन से दबाया ताके मेरे बदन की गर्मी उसके बदन मे ट्रान्स्फर करू.
अब उसके नंगे चुचियाँ मेरे नंगे चेस्ट के बालों से चिपकी हुई थी. मैं उसके वंडरफुल टाइट बूब्स का और उसके एरेक्टेड निपल्स का स्पर्श अपने बदन मे फील कर रहा था. मैं ने धीरे से उसके चुचिओ का मसाज करना शुरू कर दिया. उसके निपल्स जब मेरे चेस्ट के बालों से घिसते तो उसको और ही मज़ा आता और उसके मूह से हल्की सी मस्ती भरी आवाज़ निकल जाती.
क्रमशः...............

The Romantic
Platinum Member
Posts: 1803
Joined: 15 Oct 2014 17:19

Re: Holi sexi stories-होली की सेक्सी कहानियाँ

Unread post by The Romantic » 24 Dec 2014 09:14

जीजू और साली की होली पार्ट-2
गतान्क से आगे..........
सोनिया को जब पता चला के उसकी सिस्टर घर मे नही है और अभी आने वाली भी नही है तो वो रिलॅक्स होने लगी थी और थोड़ी फ्री भी हो गई थी. उसके अंदर दो नंगे बदन का मिलन और उसकी गीली चूत से लगे हुए गरम लंड के लगने से उसके बदन मे जैसे सनसनाहट सी हो रही थी और जैसे उसे नशा छा रहा था. मैं ने उसके बॅक पे हाथ फेरना शुरू किया और सारे बॅक का मसाज करने लगा. उसके चूतदों को पकड़ के अपनी ओर खेच के लंड और वर्जिन चूत (जो अब बोहोत गीली हो गई थी) का मिलन कराने लगा.
अपने नंगे बदन से उसके नंगे बदन का मसाज करने लगा. उसका हाथ पकड़ के अपने तड़प्ते हुए लंड पे रख दिया. पहले तो वो थोड़ा झिझकी लैकिन जल्दी ही उसने मेरे हिलते हुए गरम लंबे मोटे लंड को अपने हाथ मे पकड़ ही लिया और दबाने लगी. लंड को पकड़ ते ही उसके मूह से निकला ओह जीजू यह तो बोहोत बड़ा और मोटा है. यू हॅव ए लव्ली थिक आंड बिग लंड. दीदी को तो बोहोत मज़ा आता होगा. मैं ने कहा के तुम अपनी दीदी से भी ज़ियादा ब्यूटिफुल आंड सेक्सी हो और मैं बोहोत दीनो से तुम्है चोदने का बारे मे सोच रहा था के तुम्हारी चूत मे मेरे लंड को बोहोत मज़ा आएगा. वो एक दम से शर्मा गई और शरम से टमाटर जैसी लाल लाल हो गई. मैं ने उसको बताया के अपनी फॅंटेसी मे उसको बोहोत बार चोद चुक्का हू डिफरेंट प्लेसस मे और डिफरेंट स्टाइल्स मे. उसने शर्मा से मेरे चेस्ट मे अपने मूह छुपा लिया और धीरी आवाज़ मे कहने लगी के आइ लव यू आंड युवर लंड ज़िजुउउ. और मुझे भी बताया के उसकी फॅंटेसी मे उसने मुझे चोदा है और दोनो की फॅंटसीस आज रियल हो रही है और आज दोनो एक दूसरे को चोदने के लिए बेचैन है.
हम दोनो एक दूसरे को पॅशनेट्ली किस करते रहे. वो और गरम हो गई. मेरा लंड उसकी स्वीट कंट को टच कर रहा था. उसने मेरा लोहे जैसा लंड अपने हाथ मे पकड़ के अपने चूत मे ऊपेर नीचे घिसना चालू कर दिया जिस से उसकी चूत समुद्र जैसे गीली हो गई. मेरा लंड मे से निकला हुआ प्री कम
उसकी गीली चूत को और ज़ियादा स्लिपरी बना रहा था.. उस ने अपने लेग्स को और ज़ियादा खोल दिया था. लंड के सूपदे को चूत के अंदर ही अंदर घिस रही थी और अपने चूत के दाने को लंड से रगड़ रही थी. मूह से मस्ती भरी सिसकारिया निकाल रही थी.. आअहह उउउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह जीजू यह लंड कितना प्यारा है कितना लंबा और लोहे जैसा सख़्त है. उसकी आँखें बंद थी. गीली चूत के अंदर घिस्स रहे लंड के स्पर्श ले रही थी. उसकी ब्रीदिंग हेवी हो गई थी. और वो एवेरी मिनिट मस्ती मे आउट ऑफ कंट्रोल हो रही थी.
शी वाज़ टेल्लिंग मी जीजू युवर कॉक ईज़ सो वंडरफुल.. ओह जिजुउउ आइ नीड दिस लंड इन माइ इची पुसी नाउ जीजू.आअहह आइ लव युवर वंडरफुल लंड जीजू आअहह. प्लीईईईआसए जीजू फक मी फक मी हार्ड जीजू आइ नीड युवर लंड डीप इनसाइड माइ ड्रिपिंग हॉट वेट चूत जीजू. आअहह जीजू जीजू जीजू आअहह. इस बेचैन चूत को अब बड़ा लंबा मोटा लंड चाहिए जीजू देदो ना इस चूत को अपना यह मूसल जैसा तगड़ा लुन्न्द प्ल्ीएआसए. मेरी चूत तुम्हारे मोटे तगड़े लंड के लिए बेचैन है.
मैं ने उसके नेक पे किस किया और नीचे उसके बूब्स पे किस किया तो वो आउट ऑफ कंट्रोल हो गई और मेरे सर को पकड़ के अपने बूब्स पे दबाने लगी. मैं ने उसकी बूब्स को अपने मूह मे ले के चूसना स्टार्ट कर दिया. आअहह क्या मस्त बूब्स थे और वो वंडरफुल किशमिश जैसी निपल. आहह उसको चूसने मे मुझे बोहोत ही आनंद आ रहा था. उसकी ब्रीदिंग और हेवी हो गी. उसके पूरे मम्मे को अपने मूह मे ले के चूस रहा था और ऐसे चूस रहा था जैसे कोई इन्फेंट फीडिंग बॉटल से दूध पी रहा हो. उसके निपल्स को अपने दांतो के बीच मे रोल कर रहा था और कभी दाँतों से काट डालता तो उसके मूह से मस्ती भरी आअहह निकल जाती.
सोनिया ने मेरे लंड को ज़ोर से पकड़ा हुआ था और अपनी चूत मे ऊपेर नीचे ऊपेर नीचे ऐसे मसल रही थी जैसे कोई मसाला पीस रही हो (जैसे पिस्ट्ल इन मोर्टार) और अपनी सेन्सिटिव क्लाइटॉरिस को मेरे लंड के हेड से रगड़ रही थी. जब मेरा लंड का हेड उसकी चूत के होल मे अटक जाता तो वो एक मस्ती भरी सिसकारी लेती ऊऊऊओह ऊओईईईइ आआहह. उसकी आँखें बंद थी और वो मज़े ले ले के सिसकारियाँ भर रही थी आअहह ऊओह जिजुउउउउ बोहोत मज़ा आ रहा है जिजुउउ. कहाँ छुपा के रखा था यह मूसल लंड तुम ने जिजुउउउउ. पहले ही कियों नही बताया के तुम मुझे चोदना चाहते हो, मैं तो कभी की चुद चुकी होती अगर तुम पहले ही बता देते तो. मेरे सारे बदन मे चूत की गर्मी से सनसनाहट सी हो रही थी आहह उसकी चूत इतनी गरम थी जैसे कोई भट्टी जल रही हो.
मैं पहले ही बता चक्का हू के हमारे बॅकयार्ड मे एक चारपाई (कॉट) पड़ी रहती ही. मैं सोनिया को अपने बदन से लिपटाए हुए पीछे हट ते हट ते उसपे बैठ गया. सोनिया मेरे सामने खड़ी थी और मैं उसके पेट पे किस कर रहा था आअहह सिल्क जैसा चिकना बदन था उसका. मैं उसके चूतदों को पकड़ के अपनी ओर खेच रहा था. उसके बेल्ली बटन को किस कर के उसके अंदर अपनी टंग डाल के घुमाया और अपने होंठ थोड़ा सा नीचे कर के उसके चूत के ऊपेर के पोर्षन (नवल एरिया) को किस किया और फिर जैसे ही मेरे होंठ उसके चूत के लिप्स से टच हुए तो वो मस्ती मे चिल्लाईइ आआईयईईईई आअहह ऊऊओिईई और अपने दोनो टाँगो को खोल के दीवानो की तरह से मेरे सर को पकड़ के अपनी मक्खन जैसे नरम, ओवेन जैसे गरम और समंदर जैसे गीली चूत मे सर को पकड़ के घुसा दिया और मेरे मूह से अपनी भट्टी जैसी गरम चूत को रगड़ने लगी आअहह जीईज्ज्जुउउउउ बोहोत मज़ा आता है जीइजुउउउउ आअहह वो मस्ती मे चिल्ला रही थी.
उसकी मक्खन जैसी फ्रेश्ली शेवन चिकनीचूत की खुश्बू से मेरा बदन जोश मे जलने लगा. उसकी चूत मे से पानी कंटिन्यू निकल रहा था और मैं उसको टेस्ट कर रहा था..आहह बोहोत टेस्टी था उसकी चूत का पानी एक दम से हनी के जैसा टेस्ट था उसकी कुवारि चूत का. उसने अपने लेग्स और फैला दिए और मेरे सर को अपनी चूत के अंदर घुसाने लगी. उसकी आँखें बंद थी और उसका सर इधर से उधर और उधर से इधर टॉस कर रहा था आआहह उउउउउह्ह्ह्ह जीईइज्ज्जुउउउ मुझे तो जन्नत का स्पर्श आ रहा है जिजुउउउउउ…उउफफफफफ्फ़ जिजुउउउउउ तुम तो मुझे पागल बना रहे. जैसे ही मैं ने उसकी कंप्लीट चूत को अपने मूह मे ले के दाँतों से चबाया तो मेरे दाँत जब उसकी चूत के दाने से टकराए तो वो पागल हो गई और चिल्लइइ ऊऊऊऊऊ.आअहह उउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह जिजुउउउउउउ यह काइया हो रहा है मुझे जिज्जुउउउउउउ मानो जैसे उसकी चूत मे कोई तूफान आ गया हो और उसका वर्जिन वीर्य उसकी गीली चूत मे से ऐसे बाहर निकलने लगा जैसे कोई नद्दि मे बाढ़ (फ्लड) आ गई हो. मूह से ग्ग्गहर्ररर आआआअग्ग्ग्घ्ह्ह्ह्ह्ह्ह उउउउफ्फ्फ्फ की साउंड आ रही थी ग्ग्गहर्र्र्ररर ग्ग्गफहर्ररर आआहह ऊवूऊवयफ्फ्फफ्फ्फ्फ ऊवूऊवूयूवूऊवयाच्च आआआआअहह हमम्म्मम. उसकी मस्ती भरी आवाज़ें सुन कर मेरा क़ुतुब मीनार जैसे खड़ा लंड और फ्यूवरियेट हो गया और एग्ज़ाइट्मेंट मे हिलने लगा . माइ लंड वाज़ इन फुल स्विंग सल्यूटिंग सोनिया’स सिल्की सॉफ्ट चूत इन आंटिसिपेशन.
मैं खड़ा हो गया और सोनिया को बेड पे लिटा दिया ऐसे के उसकी लेग्स नीचे ग्राउंड पे और उसकी गंद बेड के एड्ज पे थी. फिर से उसकी चूत को किस किया और दोनो थंब्स से उसकी पिंक चूत के लिप्स को खोल के अपनी टंग अंदर डाल के ऊपेर नीचे करने लगा ..उसकी चूत के दाने को टिप ऑफ दा टंग से टच रहा था. टुक कंप्लीट कंट इन माइ माउत आंड च्यू हेर चूत का दाना (क्लाइटॉरिस). उसकी चूत को ऐसे चबा रहा था जैसे पान चबा रहा हू. सोनिया इमीडीयेट्ली पुट हर लेग्स ऑन माइ शोल्डर्स आंड रॅप्ड ओवर माइ हेड आंड स्टार्टेड पुल्लिंग मी डीप इनसाइड हर ड्रिपिंग फ्लडेड वेट छूट..