dever bhabhi ka romance aur sex

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
User avatar
rajkumari
Platinum Member
Posts: 1095
Joined: 22 May 2016 03:53

dever bhabhi ka romance aur sex

Unread post by rajkumari » 29 Mar 2017 10:33

dever bhabhi ka romance aur sex

हाय मेरा नाम अंकित है मैं दिल्ली से हूँ और मेरी उम्र 25 साल है मैं शादीशुदा हूँ यह मेरी इस साइट पर पहली स्टोरी है मैं अपना अनुभव आपके साथ शेयर करना चाहता हूँ मैं महिपालपुर मैं एक कंपनी मैं जॉब करता हूँ यहा पर कस्टमर केयर मैं एक गर्ल है जिसका नाम रिचा है उसकी उम्र 22 साल है लम्बाई 5.2 और फिगर 34-28-36 होगा वो ज़्यादातर सलवार सूट और कभी कभी जींस और टी शर्ट पहनती है वो बहुत सुन्दर है ख़ास कर उसके बूब्स बहुत सुन्दर है जब मैने इस कंपनी मैं जाइन किया था तभी से ही मेरी नज़र उस पर थी धीरे धीरे हमारी अच्छी दोस्ती हो गई हम काफ़ी देर तक ऑफीस मैं एम.एस.एन मेसेन्जर जो की ऑफिस के लिये है उस पर चेट किया करते थे इस तरह से हम दोनो काफ़ी बाते भी शेयर करने लगे थे.

dever bhabhi ka romance aur sex


एक बार मैने उसे बोला की चलो कोई मूवी देखने चलते है किसी दिन तो उसने बोला की घरवाले नहीं जाने देगे इस पर मैं उससे नाराज़ हो गया और मैने उससे बात करना बंद कर दिया इससे वो परेशान हो गई मैने उससे 2 दिन तक किसी भी तरह से कोई बात नही की फिर उसने मुझे उस दिन शाम को करीब 8 बजे कॉल किया की ओके हम मूवी देखने जायेगे dever bhabhi ka romance aur sex लेकिन मैं रविवार को नही जा सकती क्योकी घरवाले नहीं जाने देगे तो हमने एक प्लान बनाया की हम एक दिन ऑफीस से छुट्टी ले कर मूवी देखने जायेगे नेक्स्ट दिन उसने कोई बहाना बना कर छुट्टी ले ली अपने बॉस से और क्योकी मेरी डाइरेक्ट रिपोर्टिंग बॉम्बे थी तो मुझे कोई प्रोब्लम नही हुई और हम लोग लगभग 10 बजे बस स्टॉप पर मिले.

dever bhabhi ka romance aur sex


उस दिन रिचा ने वाइट कलर का सूट पहना हुआ था जो की बहुत टाइट था और उसकी पिंक ब्रा भी दिखाई दे रही थी पिंक लिप्स वो बहुत सेक्सी लग रही थी मेरा लंड वही पर खड़ा होने लगा फिर मैने उसे बाइक पर बिठाया और हम लोग कनाट प्लेस की तरफ चल पड़े रास्ते मैं जब मैं ब्रेक मारता तो उसके बूब्स मुझे अपनी पीठ पर फील होते फिर मैने फील किया की वो कुछ ज़्यादा की मेरी पीठ पर टच होकर बेठ रही थी शायद उसे भी अच्छा लग रहा था फिर हम मूवी देखने घुस गये उस टाइम कमीने मूवी देखने गये थे हम लेकिन मेरा ध्यान मूवी मैं नही था.

मैने उससे बाते करते करते अपना एक हाथ उसके कंधे पर रख दिया उसने कोई रेस्पॉन्स नही दिया कुछ देर बाद वो मेरी तरफ सरक कर मेरे कंधे पर अपना सर रख कर मूवी देखने लगी मैने अपना हाथ थोड़ा और अंदर सरका कर उसके बिल्कुल अपने कंधे पर लगा लिया और उसका सर मेरे फेस से थोड़ा नीचे था फिर मैने अपना हाथ थोड़ा नीचे करके उसके बूब्स को टच करने लगा मेरा लंड जीन्स के अंदर बिल्कुल टाइट हो गया था मेरी साँसे गर्म होने लगी और उसकी भी फिर मैंने एकदम से उसके बूब्स पर हाथ फेर दिया तो वो चौक गई और सीधी बेठ गई फिर पूरी मूवी देखने तक कुछ नही हुआ मूवी देखने के बाद हमने खाना खाया तो वो मुझसे नज़र नही मिला रही थी और डर सी रही थी तो मैने बोला की अभी तो 1 ही बजे है तो कही और घूमने चलते है तो हम बाइक पर बुद्धा गार्डन चले गये बुद्धा गार्डन का हाल तो दिल्ली वाले ही जानते है वहा पर काफ़ी कपल आपस मैं चिपके हुये थे और अपने मज़े ले रहे थे.

हम लोग भी एक पेड़ के नीचे बेठ गये एक कॉर्नर मैं काफ़ी देर तक हम में कोई बात नही हुई तो मैने बोला की मैंरे तो बाइक चलाने से पीठ मैं दर्द हो गया है थोड़ा लेट जाता हूँ तो मैं बेंच पर लेट गया और उसके पैरों पर सर रख लिया तो वो बोली की क्या कर रहे तो मैने बोला की अरे इसमें शरमाना क्या है यहा तो सभी ऐसे ही बैठे है तो वो कुछ नही बोली लेकिन घबरा गई थी और मुझसे नज़र नही मिला रही थी उसका फेस पिंक हो गया था वो और भी सेक्सी लग रही थी फिर मैने उसके चहरे को पकड़ कर अपनी तरफ घूमाया और बोला रिचा आइ लव यू वो शॉक हो गई और कुछ नही बोली मैंने अपने दोनो हाथ उसकी गर्दन मैं डाले और उसे नीचे खीच कर उसके पिंक लिप्स पर किस कर दिया ओं गॉड क्या सॉफ्ट लिप्स थे पहले तो उसने कोई रेस्पॉन्स नही दिया लेकिन बाद मैं वो भी मुझे किस करने लगी.

फिर मैने किस करते करते अपने एक हाथ से उसके बूब्स को सहलाने लगा उसकी सांसे गर्म होने लगी फिर मै उसकी जीभ को अपने मुँह मैं लेकर चूसने लगा वाउ बड़ा मज़ा आ रहा था यार फिर मै सीधा बेठ गया और उसे अपनी गोद मैं बिठा कर उसके बूब्स प्रेस करने लगा और सूट के उपर से ही निपल अपनी उंगलियो से दबाने लगा उसे दर्द हुआ तो उसने बोला प्लीज धीरे करो दर्द हो रहा है फिर मैने अपना हाथ उसके सूट के अंदर डालने लगा लेकिन क्योकी सूट टाइट था तो हाथ नही गया तो मैने गले के साइड से अपना राइट हाथ डाल कर उसकी बूब्स को प्रेस किया.

फिर वहाँ इससे ज़्यादा कुछ नही हो सकता था तो मैने बोला की चलो यहा से चलते है मेरी समझ मैं नही आ रहा था की इसे कहाँ ले जा कर चोदूं मेरा लंड बहुत ज़ोर से खड़ा हुआ था फिर मैने उसे उसके घर पर ड्रॉप कर दिया क्योकी कोई रूम मेरे पास नही था और होटल के लिये उसने मना कर दिया था नेक्स्ट दिन ऑफीस मैं जाने के लिये मैने उसे उसकी कॉलोनी से पिक किया वो जींस और टी शर्ट पहने हुई थी फिर हम साथ मैं ऑफीस गये और मै अब उसके खुल कर मज़े लेना लगा जब हम ऑफीस की लिफ्ट मैं जा रहे थे तो मैने उसे लिफ्ट मैं पकड़ लिया और एक ज़ोर से स्मूच किया वो छुड़ाने की कोशिश करने लगी और बोली पागल हो क्या थोड़ा सब्र करो मैने बोला यार अब रुका नही जाता रिचा तो उसने बोला की नेक्स्ट सन्डे मुझे कुछ जरुरी काम को पूरा करने के लिये आना है तो तुम भी आ जाओ काम तो 1 घंटे मैं ख़त्म हो जायेगा और फिर हम लोग साथ बेठ कर बाते करेगे.

दोस्तो मैं उसका इशारा समझ गया था और सन्डे का वेट करने लगा सन्डे को जब मैं ऑफीस पहुँचा तो रिचा पहले से ऑफीस आ चुकी थी लेकिन जब मैने वहाँ पर एक और ऑफीस के स्टाफ के एक आदमी को देखा तो मेरा दिमाग़ खराब हो गया मैं तो आज उसे चोदना चाहता था ऑफीस मैं ही की यहा पर कोई नही था लेकिन उसके आने से सब काम खराब हो गया खेर फिर वो अपने काम मैं लग गई कुछ देर बाद उसके पी.सी मैं कोई प्रोब्लम हुई तो मै उसकी हेल्प के लिये वहा पर चला गया तो वो कुर्सी से खड़ी हो गई और मैं बेठ गया मैने अपना एक हाथ उसकी गांड पर रख दिया वाउ क्या गोल और मस्त स्पंज की तरह उसकी गांड थी मैने धीरे धीरे अपनी उंगली उसके गांड के होल मैं फेरने लगा क्योकी हम दूसरी तरफ थे तो वो हमारा सिर्फ फेस ही देख पा रहा था.

कुछ देर इसी तरह मैं मज़े लेता रहा तभी करीब 1 घंटे के बाद वो हमारे पास आया और बोला की मैं घर जा रहा हूँ क्योकी उसका काम ख़त्म हो गया है उसके जाने के बाद मैने रिचा को पीछे से पकड़ कर अपनी बाहों मैं भर लिया और उसे ज़ोर से किस करने लगा वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी फिर मैं उसे अपने केबिन मैं उठा कर ले गया और उसे सोफे पर पटक दिया और उसके उपर चड गया और उसके बूब्स प्रेस करने लगा उसके मुँह से आहे निकलने लगी प्लीज अंकित धीरे धीरे आआ आहहाहह दर्द हो रहा है लेकिन मैं तो बहुत गर्म हो चुका था मैने उसके सलवार का नाडा खोल दिया और उसे पता भी नही चला उसने बोला प्लीज ऐसा मत करो उपर से ही कर लो यहा पर कोई आ जायेगा मैने बोला जानेमन आज यहा कोई नही आयेगा.

फिर मैने उसका पजामा उतार दिया वाउ यार क्या सेक्सी पैर थे उसके और ब्लू पेंटी मैं गोरा बदन बहुत अच्छा लग रहा था फिर मैने उसे सोफे पर बिठाया और उसका सूट भी निकाल दिया उसके 34 साइज़ के बूब्स ब्लू ब्रा मैं बंधे हुये थे फ़िर मैने अपने कपड़े भी उतार दिये अब मैं सिर्फ चड्डी और वो ब्रा और पेंटी मैं थी फिर मैने उसे उल्टा लेटा दिया और उसके पैरो से उसे किस करना शुरू किया और अपनी जीभ से चाटने लगा उसके पूरे शरीर को उसकी कोमल जांघे उसकी पीठ उसके पेट नाभि पर किस करते हुये उपर आने लगा वो बिल्कुल मुझसे चिपक गई फिर मैने उसे अपनी बाहों मे भर कर उसके लिप्स पर किस करते हुये उसकी ब्रा का हुक खोल दिया वो एकदम से शरमा गई और दोनो हाथो से अपने बूब्स को छुपाने की कोशिश करने लगी लेकिन मेरे उपर तो सेक्स सवार था.

मैने उसके दोनो हाथ खोल दिये और उसके सीने को अपने सीने से चिपका लिया वाउ क्या मस्त बूब्स पर अंगूर के बराबर निपल थे बिल्कुल पिंक कलर के मैने उन्हे मुँह मैं भर लिया और सक करने लगा वो और गर्म होने लगी और आहे भरने लगी अया आअमम्मुहाहहा ऊहह अंकित प्लीज़ और ज़ोर से करो मुझे बहुत अच्छा लग रहा है फिर मैने अपना एक हाथ उसकी पेंटी मैं डाल दिया वाउ उसकी चूत बिल्कुल चिकनी थी और पूरी भीगी हुई थी वो पहले ही झड़ चुकी थी फिर मैने उसकी पेंटी भी निकाल दी मेरे सामने एक हुस्न की मल्लिका बिना कपड़ो के सोफे पर लेटी थी फिर मैने अपनी अंडरवेयर भी उतार दी मेरा लंड भी विकराल रूप ले चुका था उसे देख कर वो बोली अंकित मैने पहले कभी ये नही किया है बहुत दर्द होगा मैं मर जाउंगी तुम्हारा बहुत बड़ा है मैने बोला की तुम चिंता मत करो मैं आराम आराम से करूँगा.

फिर मैने उसकी दोनो टांगो को चोड़ा करके उसकी चूत मैं जीभ डाल कर घूमाने लगा वो तड़प उठी और मुँह से आह: अंकित प्लीज़ डू इट और उसकी चूत मैं से पानी निकलने लगा फिर मैने अपने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और उसकी चूत पर मसलने लगा वो तड़प रही थी बिल्कुल पागलों की तरह उसका फेस बहुत ही सेक्सी लग रहा था फिर मैंने एक हल्का सा झटका दिया और मेरे लंड का टोपा अंदर घुस गया फिर वो चिल्लाने लगी आऐईईइ अंकित मर गई प्लीज़ निकालो इसे दर्द हो रहा है प्लीज और मुझे धक्का देने लगी तो मैने लंड निकाल लिया फिर थोड़ी देर बाद मैने उसे सोफे पर पूरा लेटा दिया और उसके उपर लेट कर उसके लिप्स पर क़िस करने लगा.

मुझे पता था की ये फर्स्ट टाइम चुदवा रही है इसीलिये ये आखरी मौका है फिर मैने दोबारा अपना लंड उसकी चूत पर रखा और एक हाथ उसके मुँह पर रख कर एकदम झटके से ज़ोर से धक्का लगाया उसके मुँह से ज़ोर से निकलने वाली चीख अन्दर घुट कर रह गई और उसकी आँखों से आसूं निकल पड़े मेरा आधे से ज़्यादा लंड उसकी झिल्ली फाड़ते हुये उसकी चूत मैं घुस गया वो मेरे नीचे दर्द से तड़प रही थी लेकिन मैने अपनी पकड़ मजबूत करते हुये उसे हिलने भी नही दिया मेरे लंड पर एकदम गर्म गर्म फील होने लगा मैने नीचे देखा तो नीचे से ब्लड निकल रहा था उसकी चूत फट गई थी मैं 5-7 मिनिट तक ऐसे ही लेटा रहा फिर धीरे धीरे लंड अंदर बाहर करने लगा शुरुआत मैं उसे बहुत दर्द हुआ लेकिन धीरे धीरे उसे मज़ा आने लगा फिर मैं उसको धीरे धीरे चोदने लगा साथ साथ ही उसकी निपल को भी चूस रहा था और उसके लिप्स को भी किस कर रहा था.
फिर मैने अपनी स्पीड और तेज कर दी और अब उसे भी मजा आने लगा और वो झड़ गई फिर मैने उसे दूसरी पोज़िशन मैं करके अपने लंड के उपर बिठाया और फिर वो उछल उछल के चूदने लग गई इस स्टाइल मैं कभी ट्राई करना फ्रेंड्स बहुत मज़ा आता है 5-7 मिनिट तक ऐसे चोदने के बाद मैने उसे आखरी में खड़ा करा और घोड़ी स्टाइल मैं होने को कहा और पीछे से जाकर उसकी गांड के छेद से उसे चोदने लगा इस तरह से चोदते चोदते मैने उसको करीब 3-4 बार झड़ाया फिर मेंरा भी पानी निकलने वाला था तो उसने बोला की तुम ये पानी मेरी चूत मैं ही छोड़ना मैं फर्स्ट टाइम पूरा मजा लेना चाहती हूँ फिर एक झटके से मैने अपना लंड पूरी ताक़त से उसकी चूत मैं डाल कर मैं भी झड़ गया.


फिर जब मैने अपना लंड बाहर निकाला तो मैने देखा की मेरा पूरा लंड खून से सना हुआ है और उसकी चूत भी सूज कर फूल गई है तो वो बोली की तुम तो बहुत बेदर्दी हो मेरी ऐसी तैसी कर दी फिर मैने पूछा की मज़ा आया की नही तो उसने मुझे एक ज़ोर से किस दिया फिर हमने अपने कपड़े पहने और वहाँ से निकल गये फ्रेंड्स ये मेरी फर्स्ट स्टोरी है इस पर और यह एक सच्ची स्टोरी है रिचा अब मेरे ऑफीस को छोड़ चुकी है लेकिन अभी हम लोग कॉन्टेक्ट मैं है और जब भी मौका मिलता है मैं उसकी चूत ज़रूर मारता हूँ.

dever bhabhi ka romance aur sex