कमीना compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 30 Oct 2014 09:51

lekin payal dur baithi muskurati hui usko apna aguntha dikhati hai, ravi vahi se apna hath badha kar payal ke hath ko

pakdne ki koshish karta hai to payal apna hath apni peeth ke piche chupa leti hai, tabhi ravi uski jangho par hath badha

kar ek chimti kat deta hai aur payal gussa khakar uske baju me ek mukka marti hai, aur uske munh se jor se nikal jata

hai, kamina kahi ka,

rohit- kya hua payal neend me kyo badbada rahi hai,

rohit ki aawaj sun kar payal jhat se apni ankhe band karke sone ka natak karne lagti hai aur ravi usko dekh kar

muskurane lagta hai, tabhi ravi apne hath ko badha kar payal ki skirt ko uski jangho se utha deta hai aur payal apni skirt

niche karti hui ravi ko apni aankhe nikal kar dekhti hai to ravi usko dur se hi chumne ka ishara karta hai, payal uski aur

apni jeebh nikal kar munh chidati hai, ravi ishare se usse request karta hua didi ek bar meri banho me aao na,

payal- usko marne ka ishara karti hui dhire se budbudati hai, kamina kahi ka, tabhi ravi payal ki aur ishara karke apne

dimag par apni ungli lagate hue muskurata hai aur

bhaiya kahi gadi roko na mujhe bahut jor se peshab aaya hai, uski bat sun kar payal usko dekhne lagti hai aur jaise hi

rohit gadi ko slow karke side me lagata hai payal sone ki acting karne lagti hai, rohit gadi se utar kar niche aa jata hai

aur ravi bhi utar kar ek side me peshab karne lagta hai, do minute tak dono bhai bahar ki hawa lete hai uske bad rohit

phir se driving seat par aakar baith jata hai par ravi is bar jidhar payal baithi thi udhar ka gate kholta hai aur payal thodi si

aankh khol kar ravi ko dekhti hai tabhi ravi payal ki moti gaanD me ek chimti kat deta hai jisse payal uchal kar dusri aur

sarak jati hai aur ravi jaldi se gadi ke andar payal se sat kar baith jata hai aur payal usko ghur kar dekhti hui dusri taraf

sarak jati hai, ab payal rohit ke bilkul piche ho jati hai aur ravi apne mind ki aur ishara karta hua payal ko dekh kar

muskurata hai, payal usko dekh kar muskuraate hue, apne man me kamina kitna smart hai manna padega,

kramashah.........................




राज शर्मा की कामुक कहानिया हिंदी कहानियाँ हिंदी सेक्सी कहानिया चुदाई की कहानियाँ उत्तेजक कहानिया rajsharma ki kahaniya ,रेप कहानिया ,सेक्सी कहानिया , कलयुग की सेक्सी कहानियाँ , मराठी सेक्स स्टोरीज , चूत की कहानिया , सेक्स स्लेव्स , Tags = राज शर्मा की कामुक कहानिया हिंदी कहानियाँ Raj sharma stories , kaamuk kahaaniya , rajsharma हिंदी सेक्सी कहानिया चुदाई की कहानियाँ उत्तेजक कहानिया Future | Money | Finance | Loans | Banking | Stocks | Bullion | Gold | HiTech | Style | Fashion | WebHosting | Video | Movie | Reviews | Jokes | Bollywood | Tollywood | Kollywood | Health | Insurance | India | Games | College | News | Book | Career | Gossip | Camera | Baby | Politics | History | Music | Recipes | Colors | Yoga | Medical | Doctor | Software | Digital | Electronics | Mobile | Parenting | Pregnancy | Radio | Forex | Cinema | Science | Physics | Chemistry | HelpDesk | Tunes| Actress | Books | Glamour | Live | Cricket | Tennis | Sports | Campus | Mumbai | Pune | Kolkata | Chennai | Hyderabad | New Delhi | पेलने लगा | कामुकता | kamuk kahaniya | उत्तेजक | सेक्सी कहानी | कामुक कथा | सुपाड़ा |उत्तेजना | कामसुत्रा | मराठी जोक्स | सेक्सी कथा | गान्ड | ट्रैनिंग | हिन्दी सेक्स कहानियाँ | मराठी सेक्स | vasna ki kamuk kahaniyan | kamuk-kahaniyan.blogspot.com | सेक्स कथा | सेक्सी जोक्स | सेक्सी चुटकले | kali | rani ki | kali | boor | हिन्दी सेक्सी कहानी | पेलता | सेक्सी कहानियाँ | सच | सेक्स कहानी | हिन्दी सेक्स स्टोरी | bhikaran ki chudai | sexi haveli | sexi haveli ka such | सेक्सी हवेली का सच | मराठी सेक्स स्टोरी | हिंदी | bhut | gandi | कहानियाँ | चूत की कहानियाँ | मराठी सेक्स कथा | बकरी की चुदाई | adult kahaniya | bhikaran ko choda | छातियाँ | sexi kutiya | आँटी की चुदाई | एक सेक्सी कहानी | चुदाई जोक्स | मस्त राम | चुदाई की कहानियाँ | chehre ki dekhbhal | chudai | pehli bar chut merane ke khaniya hindi mein | चुटकले चुदाई के | चुटकले व्‍यस्‍कों के लिए | pajami kese banate hain | चूत मारो | मराठी रसभरी कथा | कहानियाँ sex ki | ढीली पड़ गयी | सेक्सी चुची | सेक्सी स्टोरीज | सेक्सीकहानी | गंदी कहानी | मराठी सेक्सी कथा | सेक्सी शायरी | हिंदी sexi कहानिया | चुदाइ की कहानी | lagwana hai | payal ne apni choot | haweli | ritu ki cudai hindhi me | संभोग कहानियाँ | haveli ki gand | apni chuchiyon ka size batao | kamuk | vasna | raj sharma | sexi haveli ka sach | sexyhaveli ka such | vasana ki kaumuk | भिगा बदन सेक्स.com | अडल्ट | story | अनोखी कहानियाँ | कहानियाँ | chudai | कामरस कहानी | कामसुत्रा ki kahiniya | चुदाइ का तरीका | चुदाई मराठी | देशी लण्ड | निशा की बूब्स | पूजा की चुदाइ | हिंदी chudai कहानियाँ | हिंदी सेक्स स्टोरी | हिंदी सेक्स स्टोरी | हवेली का सच | कामसुत्रा kahaniya | मराठी | मादक | कथा | सेक्सी नाईट | chachi | chachiyan | bhabhi | bhabhiyan | bahu | mami | mamiyan | tai | sexi | bua | bahan | maa | bhabhi ki chudai | chachi ki chudai | mami ki chudai | bahan ki chudai | bharat | india | japan |यौन, यौन-शोषण, यौनजीवन, यौन-शिक्षा, यौनाचार, यौनाकर्षण, यौनशिक्षा, यौनांग, यौनरोगों, यौनरोग, यौनिक, यौनोत्तेजना, aunty,stories,bhabhi,choot,chudai,nangi,stories,desi,aunty,bhabhi,erotic stories,chudai,chudai ki,hindi stories,urdu stories,bhabi,choot,desi stories,desi aunty,bhabhi ki,bhabhi chudai,desi story,story bhabhi,choot ki,chudai hindi,chudai kahani,chudai stories,bhabhi stories,chudai story,maa chudai,desi bhabhi,desi chudai,hindi bhabhi,aunty ki,aunty story,choot lund,chudai kahaniyan,aunty chudai,bahan chudai,behan chudai,bhabhi ko,hindi story chudai,sali chudai,urdu chudai,bhabhi ke,chudai ladki,chut chudai,desi kahani,beti chudai,bhabhi choda,bhai chudai,chachi chudai,desi choot,hindi kahani chudai,bhabhi ka,bhabi chudai,choot chudai,didi chudai,meri chudai,bhabhi choot,bhabhi kahani,biwi chudai,choot stories, desi chut,mast chudai,pehli chudai,bahen chudai,bhabhi boobs,bhabhi chut,bhabhi ke sath,desi ladki,hindi aunty,ma chudai,mummy chudai,nangi bhabhi,teacher chudai, bhabhi ne,bur chudai,choot kahani,desi bhabi,desi randi,lund chudai,lund stories, bhabhi bra,bhabhi doodh,choot story,chut stories,desi gaand,land choot,meri choot,nangi desi,randi chudai,bhabhi chudai stories,desi mast,hindi choot,mast stories,meri bhabhi,nangi chudai,suhagraat chudai,behan choot,kutte chudai,mast bhabhi,nangi aunty,nangi choot,papa chudai,desi phudi,gaand chudai,sali stories, aunty choot,bhabhi gaand,bhabhi lund,chachi stories,chudai ka maza,mummy stories, aunty doodh,aunty gaand,bhabhi ke saath,choda stories,choot urdu,choti stories,desi aurat,desi doodh,desi maa,phudi stories,desi mami,doodh stories,garam bhabhi,garam chudai,nangi stories,pyasi bhabhi,randi bhabhi,bhai bhabhi,desi bhai,desi lun,gaand choot,garam aunty,aunty ke sath,bhabhi chod,desi larki,desi mummy,gaand stories,apni stories,bhabhi maa,choti bhabhi,desi chachi,desi choda,meri aunty,randi choot,aunty ke saath,desi biwi,desi sali,randi stories,chod stories,desi phuddi,pyasi aunty,desi chod,choti,randi,bahan,indiansexstories,kahani,mujhe,chachi,garam,desipapa,doodhwali,jawani,ladki,pehli,suhagraat,choda,nangi,behan,doodh,gaand,suhaag raat, aurat,chudi, phudi,larki,pyasi,bahen,saali,chodai,chodo,ke saath,nangi ladki,behen,desipapa stories,phuddi,desifantasy,teacher aunty,mami stories,mast aunty,choots,choti choot, garam choot,mari choot,pakistani choot,pyasi choot,mast choot,saali stories,choot ka maza,garam stories ,हिंदी कहानिया,ज़िप खोल,यौनोत्तेजना,मा बेटा,नगी,यौवन की प्या,एक फूल दो कलियां,घुसेड,ज़ोर ज़ोर,घुसाने की कोशिश,मौसी उसकी माँ,मस्ती कोठे की,पूनम कि रात,सहलाने लगे,लंबा और मोटा,भाई और बहन,अंकल की प्यास,अदला बदली काम,फाड़ देगा,कुवारी,देवर दीवाना,कमसीन,बहनों की अदला बदली,कोठे की मस्ती,raj sharma stories ,पेलने लगा ,चाचियाँ ,असली मजा ,तेल लगाया ,सहलाते हुए कहा ,पेन्टी ,तेरी बहन ,गन्दी कहानी,छोटी सी भूल,राज शर्मा ,चचेरी बहन ,आण्टी ,kamuk kahaniya ,सिसकने लगी ,कामासूत्र ,नहा रही थी ,घुसेड दिया ,raj-sharma-stories.blogspot.com ,कामवाली ,लोवे स्टोरी याद आ रही है ,फूलने लगी ,रात की बाँहों ,बहू की कहानियों ,छोटी बहू ,बहनों की अदला ,चिकनी करवा दूँगा ,बाली उमर की प्यास ,काम वाली ,चूमा फिर,पेलता ,प्यास बुझाई ,झड़ गयी ,सहला रही थी ,mastani bhabhi,कसमसा रही थी ,सहलाने लग ,गन्दी गालियाँ ,कुंवारा बदन ,एक रात अचानक ,ममेरी बहन ,मराठी जोक्स ,ज़ोर लगाया ,मेरी प्यारी दीदी निशा ,पी गयी ,फाड़ दे ,मोटी थी ,मुठ मारने ,टाँगों के बीच ,कस के पकड़ ,भीगा बदन ,kamuk-kahaniyan.blogspot.com ,लड़कियां आपस ,raj sharma blog ,हूक खोल ,कहानियाँ हिन्दी ,चूत ,जीजू ,kamuk kahaniyan ,स्कूल में मस्ती ,रसीले होठों ,लंड ,पेलो ,नंदोई ,पेटिकोट ,मालिश करवा ,रंडियों ,पापा को हरा दो ,लस्त हो गयी ,हचक कर ,ब्लाऊज ,होट होट प्यार हो गया ,पिशाब ,चूमा चाटी ,पेलने ,दबाना शुरु किया ,छातियाँ ,गदराई ,पति के तीन दोस्तों के नीचे लेटी,मैं और मेरी बुआ ,पुसी ,ननद ,बड़ा लंबा ,ब्लूफिल्म, सलहज ,बीवियों के शौहर ,लौडा ,मैं हूँ हसीना गजब की, कामासूत्र video ,ब्लाउज ,கூதி ,गरमा गयी ,बेड पर लेटे ,கசக்கிக் கொண்டு ,तड़प उठी ,फट गयी ,भोसडा ,hindisexistori.blogspot.com ,मुठ मार ,sambhog ,फूली हुई थी ,ब्रा पहनी ,چوت ,


rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 03 Nov 2014 01:39

कमीना--10

गतान्क से आगे...........................

..

स्कार्पीओ अपनी रफ़्तार से उड़ी जा रही थी और पायल जो की सीट के बिल्कुल किनारे एक कोने मे सिमटी हुई अपने चेहरे पर एक गहरी

खामोशी लेकिन आँखो मे चमक और होंठो पर हल्की मगर प्यारी सी मुस्कान लिए बैठी थी, रवि अपनी दीदी के अंदाज़े

हुस्न को देख कर मस्त हो रहा था और बड़ी ही कातिल निगाहो से देखती हुई अपनी दीदी को मुस्कुरा कर देख रहा था, तभी

रवि धीरे से अपनी दीदी की ओर सरकता है और उसकी दूरी अपनी दीदी से कुछ कम हो जाती है और पायल की मुस्कान बढ़ने लगती

है, रवि धीरे से थोड़ा और सरकता है और उसकी दूरी उसकी दीदी से थोड़ी और कम हो जाती है और पायल की मुस्कान और बढ़

जाती है, अब रवि अपने हाथो की दो उंगलियो को सीट पर किसी घोड़े की तरह धीरे-धीरे दौड़ाते हुए अपनी दीदी की मोटी जाँघो

तक पहुचा देता है और इस बार पायल की मुस्कान एक दम से गायब हो जाती है और उसका चेहरे पर एक अजीब सी सूजन आ जाती

है और उसके होंठ काँपने लगते है और उसकी आँखो की पुतलिया अपने नियंत्रण को खो कर इधर उधर मटकने लगती है,

रवि अपने पूरे हाथ को अपनी दीदी की मोटी-मोटी गदराई हुई मखमली जाँघो पर रख देता है और पायल की साँसे कुछ तेज

होने लगती है यह बात उसके मोटे-मोटे कसे हुए दूध उपर नीचे होकर बताने लगते है, रवि धीरे से पायल की स्कर्ट

को उसकी जाँघो से उपर चढ़ाने लगता है और पायल अपने आपको उससे बचाने की कोशिश करने लगती है, तभी

रवि- भैया मे भी सो जाउ मुझे भी नींद आ रही है,

रोहित- ठीक है रवि

पायल रवि को मुस्कुरा कर देखती है और रवि अपनी दीदी के बिल्कुल करीब आ जाता है और उसके चेहरे को अपने हाथो मे

भर कर उपर उठाता है, पायल रवि की आँखो मे घूर कर देखती है उसके चेहरे से हसी गायब हो चुकी होती है, रवि

जैसे ही अपनी दीदी के होंठो पर अपने होंठ रखता है पायल अपनी आँखे बंद कर लेती है, रवि अपनी दीदी को अपनी ओर

खिचता है और पायल बिना किसी विरोध के रवि के करीब सरक जाती है और रवि उसके मोटे-मोटे दूध को अपने हाथो मे

भर कर कस कर दबाता हुआ अपनी दीदी के रसीले होंठो को चूस-चूस कर उसका रस पीने लगता है, पायल अपनी आँखे बंद

किए हुए अपने होंठो का रस अपने भाई को पिलाती रहती है और रवि अपनी दीदी के मस्त-मस्त कसे हुए आमो को मसलता

रहता है, रवि अपने हाथ को अपनी दीदी के गले मे डाल कर उसे अपने सीने से चिपका कर उसके रसीले होंठो को पिए जा रहाथा, कुछ देर बाद रवि अपनी दीदी के होंठो और गालो को अपने होंठो से चूमता हुआ उसके टॉप के दो बटन खोल कर अपने

हाथ को अपनी दीदी के नंगे दूध पर जैसे ही रखता है पायल की साँसे रुकने लगती है और रवि को जब अपनी दीदी की मोटी-

मोटी लेकिन एक दम सख़्त और कठोर चुचियो का स्पर्श मिलता है तो रवि पागल होने लगता है और अपनी दीदी के कठोर

दूध को अपने हाथो मे पूरा भर कर उनको कस-कस कर दबाते हुए उनका रस निचोड़ने लगता है.

रवि की इस हरकत से पायल की चूत से ढेर सारा पानी बहने लगता है और वह रवि के जिस्म से अपने जिस्म को कस कर चिपकाने

की कोशिश करती है, रवि अपनी दीदी के नंगे दूध को कस-कस कर अपने हाथो से मसलता रहता है, तभी रवि अपने हाथ

को अपनी दीदी की चुचियो से बाहर निकाल कर उसकी कमर मे हाथ डाल कर उसे थोड़ा अपनी और खीच कर उसके रसीले होंठो

को अपने मुँह मे भर कर अपनी दीदी की जबरदस्त मोटी और गदराई जाँघो को अपने हाथो मे भर-भर कर मसल्ने लगता

है और अपने हाथ को थोड़ा पीछे लेजा कर जब अपनी दीदी की मोटी गान्ड को दबोचता है तो रवि को मज़ा आ जाता है वह अपनी

दीदी की स्कर्ट को उपर तक चढ़ा कर उसकी गदराई जाँघो और फैली हुई गान्ड को अपने हाथो मे भर -भर कर मसल्ते

हुए अपनी दीदी के होंठो को चूमने लगता है,

कुछ देर बाद रवि अपनी दीदी के होंठ चूस्ते हुए जैसे ही अपना हाथ अपनी दीदी की पेंटी मे कसी हुई फूली चूत पर रख कर

अपनी दीदी की फूली हुई चूत को एक दम से अपने हाथो मे भर कर दबाता है तो पायल एक दम पागल हो जाती है और अपनी

जीभ बाहर निकल कर अपने भाई के मुँह मे दे देती है और रवि अपनी दीदी की रसीली जीभ को अपने मुँह मे भर कर उसकी

फूली हुई गदराई चूत को अपने हाथो मे भर कर दबोच-दबोच कर मसल्ने लगता है, पायल पूरी मस्ती मे आ जाती है

और अपनी जीभ को अपने भाई के मुँह मे देती हुई अपनी जाँघो को थोड़ा सा फैला देती है जिससे रवि का हाथ पूरी तरह अपनी

दीदी की पेंटी मे कसी हुई गदराई चूत पर कस जाता है, तभी रवि अपनी दीदी की स्कर्ट के अंदर से ही हाथ डाले-डाले अपने हाथ को अपनी दीदी के पेट की तरफ ले जाकर अपनी दीदी की पेंटी के एलास्टिक मे अपना हाथ भर कर एक दम से अपनी दीदी की नंगी फूली हुई चूत को अपने हाथो मे भर लेता है और उसकी इस हरकत से पायल सिहर जाती है और अपने भाई का दूसरा हाथ खुद ही पकड़ कर अपने दूध पर रख लेती है और अपने भाई के मुँह मे अपनी रसीली जीभ को अंदर तक भरने की कोशिश करने लगती है,


rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: कमीना

Unread post by rajaarkey » 03 Nov 2014 01:40

रवि अपनी दीदी की रसीली जीभ का रस पीते हुए अपने एक हाथ से उसके मोटे-मोटे दूध को कस-कस कर दबोचता हुआ अपने दूसरे हाथ से उसकी मखमली चिकनी फूली हुई चूत को मसल्ने लगता है, तभी जब रवि अपनी दीदी की फूली हुई चूत की फांको के बीच की गहराई मे अपने हाथो की उंगलियो को भरता है तो पायल पागल हो जाती है और ज़ोर से सीस्याना चाहती है लेकिन उसकी जीभ अपने भाई के मुँह मे होने की वजह से वह सीसीया नही पाती है और रवि अचानक अपनी दो उंगलिया अपनी दीदी की चूत के छेद मे भर देता है और पायल अकड़ जाती है और उसका शरीर कमान की तरह तन जाता है जिससे उसकी

कठोर और बड़ी-बड़ी चुचिया और कठोर होकर बाहर की तरफ और ज़्यादा तन जाती है, ऐसी कसी हुई तनी चुचियो को

दबाने मे रवि को आनंद आ जाता है और वह अपनी दीदी की चूत मे अपनी उंगली डाले हुए हुसके होंठो को चूमता रहता

है, पायल के होंठ चूस-चूस कर रवि बिल्कुल लाल कर देता है, पायल अपना मुँह उसके होंठो से हटा लेती है और उसके गले

से चिपक जाती है रवि अपनी दीदी की चूत मे अपनी उंगली को डाले हुए उसके मोटे-मोटे दूध को दबाता हुआ, उसके कान मे धीरे से, दीदी मेरी तरफ देखो और उसके चेहरे को अपने हाथो से पकड़ कर अपने मुँह के सामने लाता है, पायल अपनी

आँखे बंद किए हुए बैठी रहती है और रवि उसके होंठो को चूमता है और फिर अपना मुँह हटाता है,

फिर दुबारा उसके होंठो को चूमता है और फिर हटाता है, तब पायल अपनी आँखे खोल कर रवि को देखती है, अचानक

रवि उसकी चूत मे डाली हुई उंगली को निकाल कर अपनी जीभ से पायल के सामने चाटता है तो पायल मारे शर्म के मुस्कुराकर

रवि के सीने से चिपक जाती है, रवि उसको अपनी बाँहो मे भर कर उसके मोटे-मोटे दूध को कस-कस कर मसल्ते हुए रवि

उसकी चूत मे फिर से अपनी उंगली डाल कर सहलाने लगता है, पायल की चूत पानी छोड़ने लगती है और रवि पायल को सीट से टीका कर आराम से उसकी टाँगे फैला कर बैठा देता है और उसकी पेंटी को एक साइड सरका कर उसकी चूत को अपनी उंगलियो से

सहलाता हुआ पायल को देखता है, पायल अपनी आँखे खोल कर रवि को देखती है और रवि अपनी दीदी की चूत के रस से भीगी हुई उंगलियो को अपनी दीदी को दिखा कर अपने होंठो से चाट लेता है, पायल पूरी मस्त हो चुकी थी और रवि की इस हरकत को देख कर थोड़ा मुस्कुराकर फिर से अपनी आँखे बंद कर लेती है और अपनी जाँघो को फैलाए हुए अपने भाई से अपनी चूत मसल्वाती रहती है,

दोनो को इसी तरह मस्ती मारते-मारते रात के 2 बज जाते है और कब स्कार्पीओ उनके गेट के सामने जाकर पहुच जाती है उन्हे पता भी नही चलता है, तभी

रोहित- अरे भाई अब जाग जाओ घर आ गया है, रोहित की आवाज़ सुन कर पायल हड़बड़ा कर अपनी स्कर्ट नीचे करती है और रवि जबरन जमहाई खाते हुए उठ कर बैठते हुए जानबूझ कर पायल की चुचियो को पकड़ कर मसल्ते हुए दीदी उठो घर आ गया और पायल उसकी हरकत पर मुस्कुरा कर उसका हाथ अपनी चुचियो से हटा कर उसको एक मुक्का उसकी पीठ पर मारती हुई,

कमीना कही का, और फिर तीनो स्कार्पीओ से उतर कर अपना-अपना समान लेकर घर के अंदर एंटर हो जाते है.

रात काफ़ी हो गई थी इसलिए सब अपने-अपने बेड पर जाते ही सो गये, सुबह-सुबह रवि और पायल कॉलेज के लिए चल देते है,

कॉलेज पहुच कर पायल सीधे क्लास की ओर जाने लगती है,

रवि- दीदी

पायल-पलट कर क्या है

रवि- दीदी तुम आज ठीक से बात क्यो नही कर रही हो

पायल- मेरी मर्ज़ी, और तुनक कर चल देती है

रवि- अपने आप से बात करता हुआ, ये लोंदियो की जात ही साली ऐसी होती है, रात को तो गान्ड मराने को तैयार हो गई थी और अभी ऐसा लग रहा है जैसे मुझे जानती ही नही, फिर भी रवि की नज़र अपनी दीदी के मटकते चुतडो से हटी नही जब तक की वह उसकी नज़रो से ओझल नही हो गई,

क्लास मे पहुच कर रवि की नज़र सबसे पहले उस सीट पर पहुचि जहाँ सोनिया बैठती थी, रवि ने देखा कि सोनिया अपनी

कॉपी मे कुछ लिख रही थी, वह अपनी सीट पर जाकर बैठ गया, कुछ देर तक वह सोनिया को देखता रहा फिर अचानक

सोनिया ने नज़रे उठा कर रवि की ओर देखा और दोनो की नज़रे मिली तो सोनिया मुस्कुरा दी, रवि अपने मन मे चलो ये तो कम से कम लाइन पर है, आज वैसे काफ़ी सेक्सी लग रही है, खुले हुए बाल, भरा हुआ चेहरा ऐसा लग रहा है आज मc मे है,

रवि- अपने पास बैठे चस्मे वाले लड़के से यार एक बात पुच्छू

अजय- अपने चश्मे की आड़ से रवि को देखता हुआ पूछो

रवि- यार ये मc का क्या मतलब होता है

अजय- कुछ सोच कर, यार अभी तक तो सर ने ये टॉपिक पढ़ाया ही नही है वैसे कौन से चॅप्टर मे है यह टॉपिक

रवि- अपना सर पकड़ कर, तेरी मम्मी है घर मे

अजय- हॅ

रवि- जाकर अपनी मम्मी से पूछना क्यो कि यह टॉपिक हमारी बुक मे नही है, इसके बारे मे तो तेरी मम्मी ही बता पाएगी

अजय- लेकिन पूछुगा क्या

रवि- यही कि मम्मी जी मc का औरतो से क्या संबंध होता है

अजय- क्यो मc का संबंध औरतो से होता है क्या

रवि- हाँ यह औरतो का एक सबसे महगा गहना होता है, अपना खून देकर इस गहने की कीमत चुकाना पड़ती है

अजय- तो क्या मेरी मम्मी ने यह गहना खरीदा होगा

रवि- अबे जब तेरी मम्मी 12-13 साल की होगी तभी यह गहना उसने खरीद लिया होगा, यह गहना ना होता तो तू मेरे बगल मे चश्मा लगाए ना बैठा होता,

अजय- अपन सर खुजाते हुए, यार तुम बहुत गोल-मोल बाते करते हो

रवि- अच्छा तुझे अभी मालूम करना है क्या

अजय- हाँ

रवि- तो एक कम कर वो जो सोनिया बैठी है ना वह इस टॉपिक की एक्सपर्ट है जा उससे जाकर पूछ कि सोनिया क्या आज तुम मc मे हो

अजय- तो क्या वह बता देगी

रवि- ओफ़कौरसे यार वह अभी के अभी तुझे बता कर तेरा कन्फ्यूषन दूर कर देगी

अजय- ओके और अजय सोनिया के पास जाता है,

अजय- हेलो सोनिया

सोनिया- हाई

अजय- सोनिया मे एक सवाल पूछ सकता हू

सोनिया- पूछो

अजय- सोनिया क्या आज तुम मc मे हो

सोनिया- सटाक, अजय के गाल पर ऐसा थप्पड़ मारती है कि पूरी क्लास मे उसकी आवाज़ गूँज जाती है और अजय चुपचाप अपनी सीट छोड़ कर अपना मुँह दबाए हस्ता हुआ बाहर निकल जाता है और उधर सोनिया भी उसके बेहूदा सवाल से नाराज़ होकर बाहर आ जाती है, पर अजय यह नही समझ पाता है कि आख़िर मेने ऐसा क्या कह दिया कि सोनिया ने इतना ज़ोर का थप्पड़ मेरे गाल पर जड़ दिया,