तीन घोड़िया एक घुड़सवार compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit mz.skoda-avtoport.ru
rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: तीन घोड़िया एक घुड़सवार

Unread post by rajaarkey » 10 Nov 2014 13:21


Teen Ghodiya Ek Ghudsawaar--14

gataank se aage...................
aur aarti apni sas ke muh par baithi baithi uske
mote mote doodh ko masalne lagti hai, aah mummy aap bhi bahut achcha chut chusti hai
aah aah si si, geeta beti vakai chut chusne mai to bada maza aata hai tabhi to ajay hamari
chut sungh sungh kar paglo ki tarah chusta hai, ha ma ji lekin ek bat hai maji agar kisi
kuwari ladki ki chut chusi jay to aur jyada maza aata hai, kuwari londiyo ki chut ka pani
bada mast lagta hai peene mai maza aa jata hai, geeta par tune kis kuwari ladki ki chut chati
hai, aarti are ma ji rashmi ki aur kiski , geeta ha yad aaya jab tu aur rashmi ajay se chudwa
rahi thi tab tu rashmi ki chut chat rahi thi, ha ma ji aah aah aise hi maji pura ras peelo apni
bahu ka aah aah si si si..aah..aah, tabhi geeta kas kas kar apni bahu ki chut paglo ki tarah
chus chus kar lal kar deti hai aur aarti apni chut ka sara pani apni sas ke muh mai chod deti
hai, aur phir aarti haphte huye geeta ke upar se uth kar uske hontho ko chusne lagti hai,
geeta bahu ab ek bar meri chut aur chus le, aarti ha ma ji vo to mai chus lungi par ek bat
bataiye aur geeta ki chut mai teen ungliya ek sath dal kar hilane lagti hai, aur apni sas ki
chut mai ungliya chalate huye uski chut chusne lagti hai geeta aah aah aah ha ha aise hi ha
ha bahu tu aah tu bahut achcha chus rahi hai aise hi aah aah, to ma ji yah batao ki aap
rashmi ki chut peeogi, geeta aah ha ha peeungi puri nangi karke rashmi ki gand aur chut
dono peeungi bahu par kya rashmi mujhse apni aah aah si si aah bahu nikal jayega aah aur
jor se aur jor se chus bahu khub chat khub chus le apni mummy ki chut aah aah,


are maji aap ek bar ha to kaho mai khud rashmi ki chut ki phank phaila phaila kar aapko uski gulabi
chut chtwaugi, aah aah ha bahu... aah ha chat de bahu peela de aah peela de mujhe bhi
apni beti ki gulabi chut aah aah ,aahh mar gai re khub chod mujhe aah khubkas ke chod
chat meri chut phad de bahu. aah aah aah aur ek lambi siskari ke bad geeta mutne lagi aur
rashmi uski sari chut ka ras chat chat kar pee gai. aur phir dono sas bahu nangi hi ek dusre
se chipak kar sustane lagi, maji kaisa laga aapko, geeta aarti ka muh chumte huye bahu
tune to bina land ke hi land sa maza de diya apni mummy ko, maza aa gaya aaj, ab mazi
taiyar rahna ham dono milkar rashmi ki chut chatenge, par bahu yah sab hoga kaise, aap
bas mere ishare ka intjar karna baki sab mai dekh lungi aur dono sas bahu apni moti moti
chuchiya ek dusre se daba kar chipak gai.

didi o didi ajay apni sexy didi ko pukarta hua seedha apni didi ke room mai ghus jata hai,
rashmi kyo mere desi ghode kya bat hai bada josh mai chilla raha hai are didi chalo aaj mai
tumhe picture dikhane le chalta hu, rashmi are mere pyare bhai aaj apni bahan par itna
meharban kyo ho raha hai, are didi isme mehrbani ki kya bat hai, bahut din se maine koi
movie nahi dekhi so mera man movie dekhne ka kar raha hai so mai akela kaha jata so
socha tumhe bhi dikha lau chalo jaldi taiyar ho jao hum abhi nikal rahe hai, rashmi ok baba
mai jara fresh to ho lu, ajay rashmi ke mote mote doodh ko dekhte hua unhe aakar kas ke
masal deta hai are meri chudasi rani tum to u hi fresh lag rahi ho, ab chalo bhi, aur rashmi
ka hath pakadkar sidhe bahar le jata hai, aur apni byke ko start karke apni bahan ko peeche
baithane ko kahta hai phir dono tej gati se chalte huye ek bade se hotel ke samne pahuchte
hai aur ajay byke park kar deta hai, rashmi ajay tu ye mujhe kaha le aaya, yah to koi hotel
hai na ki cinema, are didi aao to abhi batata hu aur hotel ke reception se ek room ki key
lekar apni didi ka hath pakad kar room par pahuch kar lok kholta hai aur dono andar aa jate
hai, room bahut hi shandar tha ek behtrin doublebed aur ek shandar paljma TV vaha laga
hua tha, ajay darwaja andar se lock karke platta hai, rashmi ajay ye sab kya hai, tum mujhse
jhuth bolkar yaha kyo laye ho, are didi maine aap se jhuth nahi bola hai, ham movie dekhne
hi aaye hai, ye dekho aur apne shirt ke andar se ek DVD nikalkar dikhte huye, rashmi are to
agar tv par hi dvd se movie dekhna tha to ham ghar par hi dekh sakte the, didi ye special
movie hai jise ham ghar par nahi dekh sakte the, ajay ne dvd tv ke pas rakh di aur phir,
chalo didi apni jeans utaro, aur apne didi ke pas aa jata hai, ajay tu pagal ho gaya hai yaha
agar koi aa gaya to are didi tum phikar kyo karti ho tumhara bhai tumhare sath hai na, aur
aaj mai ye decide karke aaya hi ki apni didi ko puri nangi karke movie dekhuga ab der mat
karo aur apne hath se apni bahan ke mote chutado mai phasi jeans ka batan kholne laga,
rashmi are baba ruko to sahi mai utarti hu par ajajy mujhe dar lag raha hai, are didi tum bhi
na itna darti ho, yumhe malum hai ye vahi bed hai jaha mai aarti bhabhi ko sabse pahle yahi
lakar choda tha,




tab aarti bhabhi to bilkul nahi dar rahi thi, mummy ko maine apne hi ghar
mai puri nangi karke sari rat choda tha tab to mummy nahi dar rahi thi aur ek tum ho ki
bachcho ki tarah dar rahi ho, rashmi mai koi bachchi nahi hu samjhe aur apni jeans utarne
lagi, ajay apni bahan ke mote chutad lal rang ki panty mai kase dekh kar muskura diya aur
apni didi ki gand ko sahlate huye ha meri pyari bahna tu ab bachchi kaha rahi to to ek
jawan ghodi ho gai hai, aur phir apne hantho se uski white color ki t-shirt bhi utarne laga, ab
rashmi kevel lal rang ki bra aur panty mai bilkul mandakini lag rahi thi, ajay ne apni bahan
ko apne seene se chipka kar uske gore gore galo ko chumta hua uske mote mote doodh
ko apne hatho se pakad kar dabate huye meri payari didi achcha ye bata is bar tu raksha
bandhan par kya gift legi, rashmi apne bhai ke mote land ko apne hantho se dabochti hui,
mere pyare bhaiya teri jawan ghodi bahan apne jawan bhai se aur kya legi, bas tu mujhe
apne is mote land se kas kar chod dena yahi mera gift hoga, are didi tu phikar kyo karti hai
is bar rakhi par tujhe puri nangi karke aisa chodunga ki tu bhi yad karegi,
ajay ne apni mastani bahan ko bed par baitha kar dvd play karne chala gaya aur phir apne
sare kapde utar kar pura nanga ho gaya,

rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: तीन घोड़िया एक घुड़सवार

Unread post by rajaarkey » 10 Nov 2014 13:22




rashmi apne bhai ke mote land ko apne hatho mai
pakadkar use apni god mai baitha leti hai, are didi tu to mujhe mummy ki tarah apni god mai
baitha rahi hai, rashmi ajay kke land ke tope ko uski chamdi uletti huiuske supade ko apni
hatheli mai dabochte huye mummy tujhe godi mai bathati hai ya tu mummy ko nangi karke
apni godi mai baitha leta hai, ajay apni bahan ki moti moti chuchiyo ko maslte huye are meri
rani tum kya jano jab mummy ko puri nangi karke apni god mai baitha kar pyar karta hu to
kitna maza aata hai, rashmi ajay ke mote land ko pakadkar khichti par bhaiya jab tu mummy
ko nangi karke apni god mai baithata hoga to tera ye danda to mummy ki gand mai chubhta
hoga, ajay apni bahan ki panty ki side mai karke uski chut mai apni ek ungli dal deta haiaur
are didi jab mummy mere khade land par nangi hokar baithti hai to mera land uski gand mai
chubhta nahi hai balki mummy ki moti gand ko phadta hua pura mummy ki gand mai phit
ho jata hai, aur rashmi ke gulabi ras se bhare huye honth chuste huye use apni rasili jeebh
bahar nikalne ko kahta hai. rashmi jaise hi apni gulabi ras se bhari hui jeebh nikalkar apne
bhai ko dikhati hai, ajay apni bahan ki gulabi rasili jeebh ko apna muh khol kar apne muh ke
andar bhar leta hai aur apni bahan ki jeebh ko kheench kheench kar uska sara ras peene
lagta hai, uski is harkat se rashmi ki chut dher sara pani chhodne lagti hai,
tabhi ajay apni bahan ko ishare se tv ki aur dekhne ko kahta hai, vah ek reality king ki mast
movie thi jisme sabse pahla seen ek mom apne bete ka land chus rahi thi, dekho didi ye jo
ladka hai na ye iski mummy ko kaise nangi kar raha hai, rashmi kya ye sachmuch ma bete
hai, didi ha ye sahi mai ma aur bete ki real sex ki movie hai, muvie mai ladka apni ma ko
jhuka kar uski moti moti gand aur chut ko peeche se chatne lagta hai ajay didi tum aram se
movie dekho mai tumhari chut chatta hu, aur rashmi ki panty utar deta hai,




ajay kya tu
mujhe mummy samajhkar meri chut chatega, are didi mai to tumhe mummy samajh kar
tumhari chut chatunga lekin jab tum agla seen dekhogi to tum bhi chut chatne ke liye
marne lgogi, aur ajay apni bahan ki jangho ko phailakar uski phuli hui mastani bhosadi ka
ras peene lagta hai, rashmi aah aisa kon sa seen hai jise dekh kar mai bhi chut chatne ke
liye marne lagugi aur kya aurat ko aurat ki chut chatne mai maza aata hoga, ajay didi jis
tarah ek ladke ko apni mummy ki chut chatne mai sab se jyada maza aata hai usi tarah ek
ladki ko apni mummy ki chut chtne mai bada maza aata hai, aur jab ladki ki mummy khud
apni jawan beti ko puri nangi karke uski chut peeti hai to ladkiya khub kas kas kar apni chut
apni mummy se chuswane ke liye tadapne lagti hai, rashmi ajay aisi kon si movie hai maine
to aaj tak nahi dekhi, are didi aisi movie ko lasbian movie kahte hai jisme aurat aurat ki chut
chatti hai aur apne doodh se dusri aurat ke doodh dabati hai jab do aurte ek sath nangi
hokar chipakti hai to us aanand ki kalpna bhi nahi kar sakti hai, rashmi ajay meri chut se
bahut pani bah raha hai movie ko forward karke dikha na jaldi se ki kaise do aurte ek dusre
ki chut ko peeti hai, ajay oh ho didi tum to shanti se chut bhi nahi chatne deti, aur uth kar
movie ko forward karne lagta hai, tabhi ek aurat disri aurat ke doodh dabati hui najar aati
hai, dekh didi ye aurat apni beti ko puri nangi karke kaise uske sare badan ko chum rahi
hai, aur phir dono aurte 69 ki position mai aakar ek dusre se chipak jati haiaur ek dusre ke
muh ke pas apni jangho ko phaila kar ek dusre ki phanko mai apni jeebh ghusedne lagti hai
aur phir ek dusre ki chut se ras khinch khinch kar peene lagti hai, rashmi ek hanth se apni
chut aur dusre hanth se apne bhai ka mota land sahlate huye, ajay kya ye dono sach much
ma beti hai, ajay ha didi yakin nahi aata to punch lo inse, rashmi ajay ke gal par chapat
lagate huye badmash kahi ke, par bhaiya koi ladki apni ma se apni chut kaise chatati hogi,

kramashah......................






rajaarkey
Platinum Member
Posts: 3125
Joined: 10 Oct 2014 04:39

Re: तीन घोड़िया एक घुड़सवार

Unread post by rajaarkey » 10 Nov 2014 13:23


तीन घोड़िया एक घुड़सवार--15

गतान्क से आगे...................


और मा कैसे अपनी फूली बुर को अपनी बेटी से चुस्वा लेती होगी, दीदी तुझे यकीन नही हो रहा
है ना, तुझे तो ये जान कर भी यकीन नही होगा कि अपनी मम्मी भी तेरी चूत चाटना चाहती
है, रश्मि आश्चर्या से अजय को देखती हुई ये तू क्या कह रहा है, अजय हाँ दीदी ये सच है
मम्मी मुझसे कल ही कह रही थी कि अजय रश्मि की गंद और उसकी कसी हुई जंघे देख कर
लगता है कि उसकी चूत कितना पानी छ्चोड़ती होगी, कभी कभी तो ऐसा लगता है कि रश्मि को पूरी
नंगी करके उसे खूब प्यार करू उसकी खूब चूत को अपने मूह मे भर भर कर चुसू,
रश्मि पर मम्मी ने अचानक ऐसा क्यो कहा, अरे दीदी उसका कारण ये है कि एक दिन आरती
भाभी ने पहले मम्मी को नंगी करके उनकी चूत चाट ली जिससे मम्मी भी पागला गई और
फिर उन्होने आरती भाभी को पूरी नंगी करके उनकी चूत को इतना चटा कि आरती भाभी लगभग
4 बार मूत चुकी थी, रश्मि का मूह खुला का खुला रह गया और वह अजय से चिपक कर पर
भैया मुझे तो डर लगता है, दीदी तेरा डर को मैं दूर किए देता हू, रश्मि वह कैसे, और
अजय अपनी प्लानिंग जब रश्मि को बताता है तो वह रेडी हो जाती है अब अजय अपनी दीदी को अपने
खड़े लंड पर चढ़ने को कहता है, तब रश्मि भैया मैं तेरे मूह मे मुतना चाहती हू,
अजय अपनी बहन को नंगी ही अपनी गोद मे उठा लेता है और उसकी टाँगे अपनी कमर के आस पास
चिपकाकर अपनी बहन को अपने सीने से चिपका कर मिरर के सामने जाता है देखो दीदी तुम
अपने भाई के लंड पर चढ़ि हुई कितनी सेक्सी लग रही हो, रश्मि अजय तू बहुत बदमाश है
एक तो अपनी सग़ी बहन को चोद्ता है उपर से उसे नंगी करके अपनी गोद मे चढ़ा लेता है
तेरा लंड अपनी मा और बहन को देख कर कितना उठने लगा है, अजय दीदी मेरी मा और बहन
जैसी चुदासी मा बहन जिसकी भी होगी वह उन्हे ऐसे ही अपनी गोद मे चढ़ा चढ़ा कर
चोदेगा और अजय अपना लंड पकड़ कर अपनी प्यारी बहन की चूत मे पेल देता है रश्मि
बंदरिया की तरह अजय के सीने से चिपक जाती है, कुछ देर अजय खड़े खड़े अपनी बहन की
चूत मे पाना लंड पेलता है, उसके बाद उसे बेड पर उल्टी लिटाकर उसके पेडू के नीचे दो
मोटे तकिये रख देता है अब रश्मि की गंद उठ कर बिल्कुल उपर की ओर खुल जाती है, अब अजय
अपनी बहन की फूली हुई चूत की फांको को और फैला कर खूब ज़ोर ज़ोर से अपनी बहन की चूत
चटने लग जाता है रश्मि आह आहह..आह आसिई सी आह हे रे भीया ऐसे ही चूस और चूस अपनी
बहन की चूत खूब चाट मेरे प्यारे भाई खूब चाट सी सी आह आह आ आआआः मार दिया रे
तू तो कितने मस्त तरीके से चूत पीता है इसी लिए तो मम्मी और भाभी तुझसे अपनी चूत
चूसाने के लिए मरी जा रही है,





खूब चोद्ता है तू उन दोनो भोसदियो को, और अपनी कुवारि
बहन की चूत भी तूने ही फादी है कितना चोदु भाई मिला है मुझे आह आह और चूस तभी
अजय ने अपनी बहन की गंद के छेद मे अपनी एक उंगली अपने मूह मे भर कर उसे गीली
करके अपनी दीदी की मोटी गंद के छेद मे भर देता है और साथ ही साथ उंगली चलाते हुए
अपनी प्यारी बहन की चूत को कस कस कर चूस्ता है,रश्मि पागलो की तरह चिल्लाने लगती है,
तभी अजय अपनी उंगली बाहर निकाल कर इस बार दो उंगलिया अपने मूह मे भर कर पूरी गीली
करके अपनी प्यारी दीदी की मोटी गंद मे पेलने लगता है रश्मि कराहने लग जाती है और आह
आह आह भाई ये क्या कर रहा है गंद फटी जा रही है ऐसा मत कर, अजय अपने हाथो से
अपने लंड को पूरा अपने थूक से लसलसा कर अपने लंड के मोटे टोपे को अपनी प्यारी बहन की
मोटी गंद के छेद मे लगा कर एक कस के शॉट मारता है और रश्मि के मूह से एक जोरदार
चींख निकल जाती है आआआआआआआआआआ आआआ ओह भैया प्लीज़ अपने लंड को निकाल लो
आह अजय अपनी बहन की मोटी गंद पर लेट जाता है और उसका अभी आधा लंड बाहर होता है वह
लेटे हुए अपनो गंद थोड़ा उठाकर रखता है और अपनी बहन के कसे हुए एक दम कठोर
दूध को दोनो हाथो से कस कस कर दबाता है और रश्मि आह आह ओ भैया बहुत दर्द
कर रहा है , अजय ले दीदी तेरा दर्द ख़तम कर देता हू और उसकी कठोर छातियो को
दबोचता है बता दीदी तेरे दूध दबाने मे तुझे कैसा लग रहा है हाय अजय तूने तो मार
डाला रे लेकिन जब तू मेरे दूध दबाता है तो बहुत मज़ा आ रहा है ओह आह अजय दीदी अभी
तेरी गंद मे उससे भी ज़्यादा मज़ा आएगा मेरी प्यारी बहना रानी और अजय इस बार अपनी मम्मी
की मोटी गंद को अपनी आँखो के सामने सोचता हुआ इतना तेज झटका अपनो बहन की मोटी गंद
मे मारता है कि उसका लंड पूरा जड़ तक अपनी बहन की गंद मे समा जाता है, और रश्मि
ओह्ह्ह्ह. ओह्ह्ह्ह, आअहह आअहह मर गई अया अजय अपनी दीदी के मोटे मोटे पपितो को अपने
हाथो से कस कस कर दबाने लगा वह इतना जोश मे अपनी बहन कि कसी हुई गंद मार मार
कर उसके दूध दबा रहा था कि रश्मि के मूह से अब केवेल गु..गु की आवाज़ निकल रही थी अजय
का मोटा लंड अपनी बहन की चूत मे ऐसा जा रहा था जैसे पिस्टन आगे पीछे होता है,
या बोरिंग मशीन का मोटा पाइप जैसे ज़मीन फाड़ता हुआ अंदर घुसता है, अजय ने अपनी रफ़्तार
को खूब तेज कर दी और रश्मि भी अपनी कमर को अब अजय के लंड पर दबाने लगी, अजय ने एक
बहुत ही तगड़ा झटका मारा कि रश्मि की आँखे उलट गई और वह अपने हाथो से अपने दूध
पर अपने नखुनो के निशान करने लगी तब अजय थोड़ा उठ कर अपने दोनो पेरो पर उकड़ू
बैठ कर अपनी बहन की मोटी मोटी कसी हुई गंद को बड़ी बेदर्दी से मारने लगा और जब बीच
मे उसे अपनी मम्मी की मोटी गंद की याद आ जाती तब वह अपना लंड इतना ज़्यादा गंद के अंदर
दबाता जैसे पूरा लंड गंद की जड़ मे समा देना चाहता हो और फिर एक तगड़े झटके के साथ
अजय ने अपना गाढ़ा गढ़ा माल अपनी बहन की मोटी गंद के अंदर छ्चोड़ दिया, रश्मि पूरी
तरह से पस्त हो चुकी थी 10 मिनिट तक अजय भी लेटा रहा फिर उसने घड़ी देखी उन्हे
लगभग 2 घंटे लग चुके थे उसने बहुत प्यार से अपनी नंगी पड़ी दीदी को उठाया, रश्मि
को तब जैसे होश आया उसकी गंद बहुत दर्द कर रही थी और वह जैसे ही खड़ी हुई उसके पैर
लरज गये अजय ने अपनी बहन को प्यार से संभाला और उसे वापस बेड पर बैठा दिया और
फिर खुद ही उसे कपड़े पहनने लगा फिर उसने कुछ खाने के लिए ऑर्डर किया आधे घंटे
बाद रश्मि कुछ रिलॅक्स हुई तब दोनो भाई बहन घर की ओर चल दिए.

अगले दिन गीता दिन का लंच लेने के बाद आरती से बहू चल ज़रा मेरी कमर की मालिश कर दे आज
बड़ा दिल कर रहा है तुझसे अपनी मालिश करवाने का और अजय की ओर मुस्कुरा कर अपने रूम
की ओर चल दी, तब आरती ने रश्मि को इशारे से एक तरफ बुलाया, रश्मि अपनी भाभी के पास
आकर खड़ी हो गई, आरती क्यो ननद रानी कल कहाँ अपने भाई से चुदवाने गई थी, रश्मि अरे
भाभी मैं वही गई थी जहा तुम्हारी मस्त चूत का उद्घाटन अजय ने किया था आरती रश्मि की
मोटी चुचियो को दबाते हुए हाय मेरी बन्नो तभी तो मैं कहु आज तू इतनी ज़्यादा अपनी टाँगे
फैला कर क्यो चल रही है,




सच सच बता कल अपने भाई से अपनी गंद मरवाई थी ना, और
रश्मि के पीछे हाथ ले जाकर उसकी मोटी गंद के छेद को मसल देती है, रश्मि हाँ भाभी
पर मैं तो चूत मरवाने गई थी पर अजय इतना बदमाश है कि कल उसने मेरी गंद इस कदर
ठोकी है कि अभी अभी थोड़ा थोड़ा दर्द हो रहा है, आरती अरे मेरी बन्नो तू चिंता मत कर एक
दो बार अपनी मोटी गंद मे अपने भाई का तगड़ा लंड ले लेगी तो फिर तुझे दर्द का नही बल्कि दिन
रात मीठी मीठी खुजली का एहसास होगा, और रश्मि के गुलाबी गालो को पकड़ कर खीच देती
हाँ, रश्मि भाभी एक बात तो है गंद मरवाने मे भी मुझे बड़ा मज़ा आया था, आरती
अच्छा तो अभी दिन मे मरवाने का मन है, रश्मि, हाँ भाभी मैं तो अपनी गंद और चूत
दिन रात मरवाने के लिए तड़प रही हू जब से अजय ने मुझे चोदा है तब से मेरी चूत की
खुजली बहुत ज़्यादा बढ़ गई है, आरती ठीक है मैं तेरे लिए व्यवस्था जमाती हू पर एक शर्त
है वो क्या भाभी तुझे मेरी चूत खूब कस कर चाटनी होगी, रश्मि अरे भाभी मैं तुम्हारी
चूत क्या गंद भी चाट लूँगी,